• Hindi News
  • National
  • Delhi High Court Ordered To Plant 15,000 Trees In 2G Scam Case In South Delhi

जवाब देने में देरी होने पर दिल्ली हाईकोर्ट ने 15 हजार पेड़ लगाने का आदेश दिया

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • जस्टिस ने दो लोगों और तीन कंपनियों को साउथ दिल्ली में पेड़ लगाने का आदेश दिया
  • कोर्ट ने मामले की अगली सुनवाई के लिए 26 मार्च की तारीख दी है

नई दिल्ली. जवाब दाखिल करने के लिए और ज्यादा वक्त मांगने वालों से नाराज दिल्ली हाईकोर्ट ने कहा कि आप 15 हजार पौधे लगाएं। 2जी मामले में 2 व्यक्तियों और 3 कंपनियों को दोषमुक्त कर दिया गया था। इस फैसले के खिलाफ प्रवर्तन निदेशालय ने हाईकोर्ट में अपील की थी। इस पर कोर्ट ने दोषमुक्त हुए लोगों से जवाब मांगा था। अदालत ने इन लोगों को जवाब दाखिल करने के लिए आखिरी मौका दिया है।

1) 26 मार्च को होगी अगली सुनवाई

गुरुवार को मामले में सुनवाई करते हुए जस्टिस नजमी वजीरी ने याचिकाकर्ताओं को साउथ दिल्ली में 15 हजार पेड़ लगाने का आदेश दिया। कोर्ट ने मामले की अगली सुनवाई के लिए 26 मार्च की तारीख दी है।

कोर्ट ने याचिकाकर्ताओं से कहा है कि वे पेड़ लगाने के लिए 15 फरवरी तक स्थानीय वन अधिकारियों से संपर्क करें। जस्टिस वजीरी ने सभी याचिकाकर्ताओं को जवाब देने के लिए आखिरी मौका दिया है।

कोर्ट ने मामले में स्वान टेलिकॉम प्राइवेट लिमिटेड के प्रमोटर शाहिद बलवा, कुसेगांव फ्रूट्स एंड वेजिटेबल्स प्रा. लि. के  डायरेक्टर राजीव अग्रवाल के अलावा तीन कंपनियों फर्म्स डायनामिक रियलटी, डीबी रियलटी लिमिटेड और निहार कंस्ट्रक्शन प्रा. लि. को यह 15 हजार पेड़ लगाने का आदेश दिया है।

पूर्व दूरसंचार मंत्री ए राजा और द्रमुक सांसद कनिमोझी समेत दो व्यक्तियों और तीन कंपनियों को ईडी के मनी लॉन्ड्रिंग मामले में ट्रायल कोर्ट ने बरी कर दिया था।