पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

करोल बाग के होटल में लगी आग; कई लोगों के खिड़की से कूदने की खबर, एक की मौत

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • दमकल की 25 अधिक गाड़ियां आग बुझाने में जुटीं

नई दिल्ली. करोल बाग में गुरुद्वारा रोड स्थित होटल अर्पित पैलेस में मंगलवार तड़के करीब साढ़े चार बजे आग लग गई। इसमें 17 लोगों की मौत हो गई। दमकल विभाग ने बताया कि ज्यादातर मौतें दम घुटने से हुईं। जान बचाने के लिए तीन लोग चौथी मंजिल से कूद गए। इनमें से एक की मौत हो गई। दो जख्मी हैं। इस होटल में बेसमेंट, ग्राउंड फ्लोर के अलावा चार और मंजिल थीं। बताया जा रहा है कि आग तीसरी मंजिल पर लगी और ऊपर तक पहुंच गई। फायर सेफ्टी डिपार्टमेंट के अधिकारी ने बताया कि पांचवीं मंजिल पर अनाधिकृत तरीके से रूफटॉप रेस्टोरेंट चलाया जा रहा था।

 

जांच के दौरान टॉप फ्लोर सील कर दिया था, बाद में रूफ टॉप रेस्टोरेंट बना दिया
दिल्ली फायर सर्विस डिपार्टमेंट के अधिकारी ने बताया कि होटल के जिस पांचवीं मंजिल पर आग लगी, उसे रूफ टॉप रेस्टोरेंट के तौर पर इस्तेमाल किया जा रहा था। यह अनाधिकृत तरीके से चलाया जा रहा था। पांचवें फ्लोर को ईटों की दीवार से सील कर दिया गया था। इसके बाद होटल को 12 दिसंबर 2014 को फायर सेफ्टी सर्टिफिकेट दिया गया। इसके बाद डिपार्टमेंट ने 4 दिसंबर 2017 को दोबारा निरीक्षण किया। तब होटल मालिक ने सुरक्षा नियमों का पूरा करने की बात कही। इसके बाद 24 दिसंबर 2017 को इसे गेस्ट हाउस के लिए फिट बताते हुए तीन साल के लिए सर्टिफिकेट दिया गया। फायर सेफ्टी सर्टिफिकेट केवल बेसमेंट, पहली-दूसरी-तीसरी-चौथी मंजिल के लिए दिया गया था। जिस दीवार का इस्तेमाल पांचवें फ्लोर को सील करने के लिए किया गया था, उसे गिरा दिया गया और रूफ टॉप रेस्टोरेंट शुरू कर दिया गया। बचाव के दौरान हमें किचन और कुर्सियां भी मिली हैं।

 

 

 

मृतकों में 3 महिलाएं, 1 बच्चा शामिल

दिल्ली पुलिस के एक वरिष्ठ अफसर ने बताया कि घायलों को राम मनोहर लोहिया समेत तीन अस्पतालों में ले जाया गया। मृतकों में एक बच्चा और तीन महिलाएं शामिल हैं। चश्मदीदों का कहना है कि होटल के कॉरिडोर में लगे लकड़ी के पैनलों की वजह से आग तेजी से फैली। 

 

एक ही परिवार ने बुक किए थे 35 कमरे

बताया जा रहा है कि यहां एक ही परिवार ने 35 कमरे बुक किए थे। वे शहर में एक कार्यक्रम में शामिल होने आए थे। हादसे में 35 लोगों को सुरक्षित निकाला गया। आग लगने की वजह का अभी तक पता नहीं चला है। दमकल विभाग के डिप्टी चीफ सुनील चौधरी के मुताबिक, करीब ढाई घंटे की कोशिशों के बाद आग पर काबू पा लिया गया। दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा है कि दोषियों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। कलेक्टर को मामले की जांच के आदेश दे दिए गए हैं। 

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज आपका कोई सपना साकार होने वाला है। इसलिए अपने कार्य पर पूरी तरह ध्यान केंद्रित रखें। कहीं पूंजी निवेश करना फायदेमंद साबित होगा। विद्यार्थियों को प्रतियोगिता संबंधी परीक्षा में उचित परिणाम ह...

और पढ़ें