• Hindi News
  • National
  • Delhi Rainfall Latest Video Update; Waterlogging At Indira Gandhi International Airport

पानी-पानी दिल्ली:IGI एयरपोर्ट के रनवे पर भरा पानी, एक इंटरनेशनल और 4 घरेलू फ्लाइट्स डायवर्ट; 46 साल में पहली बार इतनी बारिश

नई दिल्ली3 महीने पहले

दिल्ली में शुक्रवार रात शुरू हुई बारिश ने लोगों की परेशानी बढ़ा दी है। यहां 46 साल बाद इतनी बारिश हुई है। मोतीबाग, आरके पुरम सहित दक्षिणी दिल्ली के कई इलाकों में सड़कों पर पानी भर गया है और यहां से आने-जाने वालें लोगों को मुसीबतों का सामना करना पड़ रहा है।

दिल्ली के इंदिरा गांधी इंटरनेशनल (IGI) एयरपोर्ट के रनवे में भी बारिश का पानी भर गया। इसके बाद कई वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुए। इसमें एक वीडियो 2 से 3 साल पुराना था। जिसे इस साल का बताकर वायरल किया गया। इस वीडियो में एयरपोर्ट परिसर के अंदर बारिश का पानी दिखाया गया था। हालांकि, बारिश का पानी एयरपोर्ट के रनवे पर जरूर भर गया, जिससे पार्किंग क्षेत्र में खड़े प्लेन के पहिए उसमें डूबे नजर आए।

मशीनों से निकाला जा रहा पानी
एयरपोर्ट अथॉरिटी ने बताया कि एक इंटरनेशनल और 4 घरेलू फ्लाइट्स को जयपुर और अहमदाबाद एयरपोर्ट डायवर्ट कर दिया गया है। दिल्ली पब्लिक वर्क डिपार्टमेंट (PWD) के अधिकारियों का कहना है कि जिन इलाकों में पानी भरने की समस्या सामने आई है, वहां मशीनों के जरिए पानी निकाला जा रहा है।

दक्षिणी दिल्ली के अंडरपास में पानी भरने से रास्ता बंद हो गया है।
दक्षिणी दिल्ली के अंडरपास में पानी भरने से रास्ता बंद हो गया है।

अंडरपास में फंसी बस, 40 यात्रियों का रेस्क्यू किया
दिल्ली में हुई भारी बारिश से शनिवार को पालम फ्लाईओवर के अंडरपास में पानी भर गया। इसमें एक बस फंस गई। बस में 40 लोग सवार थे। यात्रियों में महिलाएं और बच्चे भी शामिल थे। अधिकारियों ने बताया कि यह बस मथुरा जा रही थी। उनके पास सुबह करीब 11.30 बजे मदद के लिए एक फोन आया था। इसके बाद फायर ब्रिगेड की दो गाड़ियों को रेस्क्यू में लगाया गया।

18 साल का रिकॉर्ड टूटा
दिल्ली में एक तरफ बारिश ने 18 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया तो दूसरी तरफ 46 साल में सबसे ज्यादा बारिश का रिकॉर्ड भी बना लिया। यहां 1 जून से मानसून शुरू होता है। बरसात के पूरे सीजन में औसतन 649.8 मिमी बारिश होती है। 1 जून से 10 सितंबर तक औसतन 586.4 मिमी बारिश होती है। इस बार यह आंकड़ा 10 सितंबर को 1005.3 पर पहुंच गया।

शनिवार तक दिल्ली में 1100 मिमी बारिश दर्ज की गई। इससे पहले 2003 में 1050 मिमी बारिश हुई थी। यह रिकॉर्ड भी इस साल टूट गया। दिल्ली में 1975 में 1150 मिमी बारिश दर्ज की गई थी। यदि बारिश इसी तरह होती रही तो 46 साल पुराना यह रिकॉर्ड भी टूट सकता है।

दिल्ली की सड़कों पर इतना पानी भर गया है कि बसों के पहिए भी डूबने लगे हैं।
दिल्ली की सड़कों पर इतना पानी भर गया है कि बसों के पहिए भी डूबने लगे हैं।

दिल्ली-NCR के इन इलाकों में रेड अलर्ट
मौसम विभाग ने दिल्ली में भारी बारिश का रेड अलर्ट जारी किया है, जो दिल्ली NCR के बहादुरगढ़, गुरुग्राम, लोनी देहात, हिंडन एयरफोर्स स्टेशन, गाजियाबाद, इंदिरापुरम, छपरौला, चरखी दादरी, मट्‌टनहेल, झज्जर, सोनीपत, रोहतक, मोदिनगर, हापुर, बागपत इलाकों के लिए है।

इन इलाकों में भरा पानी
मधु विहार, हरि नगर, रोहतक रोड, बदरपुर, सोम विहार, IP स्टेशन के पास रिंग रोड, विकास मार्ग, संगम विहार, मेहरौली-मदरपुर रोड, पुल प्रहलादपुर अंडरपास, मुनिरका, राजपुर खुर्द, नांगलोई और किरारी।

खबरें और भी हैं...