CRPF DG बोले- बिहार नक्सल मुक्त हुआ:उग्रवाद की घटनाओं में 77% की कमी, अमित शाह ने कहा- ऑपरेशन जारी रहेगा

नई दिल्ली6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

CRPF के DG कुलदीप सिंह ने बताया कि देश में वामपंथी उग्रवाद की घटनाओं में करीब 77 % की कमी आई है। 2009 में यह 2258 के उच्च स्तर पर था, जो अब घटकर 509 हो गया है। वहीं, मृत्युदर में 85% की कमी दर्ज की गई है।

झारखंड के बुद्ध पहाड़ में अब सुरक्षाबलों के कैंप
कुलदीप सिंह ने बताया, झारखंड में बुद्ध पहाड़ जो नक्सल बहुल इलाका था, उसे मुक्त करवा दिया गया। तीन अलग-अलग ऑपरेशनों में सुरक्षाबलों को यह कामयाबी मिली है। हेलीकॉप्टर से की वहां फोर्स पहुंच रही है। अब वहां सुरक्षाबलों के स्थाई कैंप होंगे।
DG के मुताबिक अप्रैल 2022 से अब तक छत्तीसगढ़ में 7, झारखंड में 4 और मध्य प्रदेश में 3 नक्सली ऑपरेशन थंडरस्टॉर्म के तहत मारे गए हैं। कुल 578 माओवादियों ने आत्मसमर्पण किया है या उन्हें गिरफ्तार किया गया है। वहीं, बिहार की बात करें यह राज्य नक्सल मुक्त है।

अमित शाह ने की तारीफ
इसको लेकर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने सुरक्षाबलों की तारीफ की। उन्होंने कहा, सुरक्षाबलों ने नक्सल ऑपरेशन के तहत कई इलाकों को नक्सलियों से मुक्त कर दिया है। PM मोदी की लीडरशिप में गृह मंत्रालय आतंकवाद और वामपंथी उग्रवाद के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की नीति से काम कर रही है, जो आगे भी जारी रहेगी।

वामपंथी उग्रवाद देश की आंतरिक सुरक्षा के लिए खतरा: शाह
गृहमंत्री ने कहा कि हमें देशभर में वामपंथी उग्रवाद के विरुद्ध चल रही लड़ाई में सुरक्षाबलों को ऐतिहासिक सफलता मिली है। वामपंथी उग्रवाद देश की आंतरिक सुरक्षा के लिए बड़ा खतरा है, लेकिन हमने इसके खिलाफ अभियान चलाकर देश की आंतरिक सुरक्षा में ऐतिहासिक पड़ाव पार किया है। इसके लिए CRPF, सुरक्षा एजेंसियों और राज्य पुलिसबलों को बधाई देता हूं।

अमित शाह ने कहा कि बूढा पहाड़, चक्रबंधा और भीमबांध जैसे इलाकों में, जिन्हें कभी माओवादियों का गढ़ माना जाता था, आज सुरक्षाबलों को स्थाई कैंप हैं। महीनों तक चले अभियान के बाद सुरक्षाबलों को यह सफलता मिली है। ऑपरेशन के तहत सुरक्षाबलों ने 14 माओवादियों को ढ़ेर कर दिया है और 590 से अधिक की गिरफ्तारियां हुई हैं। इनमें से कइयों पर तो लाखों रुपए का इनाम था।