• Hindi News
  • National
  • Congress leader Digvijaya Singh: Jammu and Kashmir: Singh says, Centre claims Kashmir is peaceful, reports suggest other

अनुच्छेद 370 / दिग्विजय ने कहा- कश्मीर में शांति का दावा, लेकिन विदेशी रिपोर्ट्स तो कुछ और ही बता रहीं



Congress leader Digvijaya Singh: Jammu and Kashmir: Singh says, Centre claims Kashmir is peaceful, reports suggest other
X
Congress leader Digvijaya Singh: Jammu and Kashmir: Singh says, Centre claims Kashmir is peaceful, reports suggest other

  • दिग्विजय ने प्रधानमंत्री मोदी से अपील की थी कि कश्मीर मामले पर सोच-विचारकर कदम उठाएं
  • सरकार ने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के बाद वहां सबकुछ सामान्य होने की बात कही

Dainik Bhaskar

Aug 14, 2019, 09:05 AM IST

भोपाल. कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद मंगलवार को जम्मू-कश्मीर में हालात खराब होने का दावा किया। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार भले ही राज्य में सबकुछ सामान्य बता रही है, लेकिन विदेशी मीडिया रिपोर्ट्स अलग बातें सामने आई हैं। दिग्विजय ने कहा कि मोदी सरकार ने अनुच्छेद 370 हटाकर अपने हाथ जला लिए हैं। अब हमारा पहला लक्ष्य कश्मीर को बचाना है।

 

उन्होंने कहा, ''कांग्रेस को आरोपी बनाया जा रहा है कि उसने अनुच्छेद 370 को बनाए रखा, जिससे आतंकवाद पनपा। मगर मैं स्पष्ट कर देना चाहता हूं कि 35ए भी उसी कानून का विस्तार है जो 1927 में जम्मू-कश्मीर के शासक के द्वारा बनाया गया था। यह प्रदेश से बाहर के लोगों को नौकरी करने या जमीन खरीदने की इजाजत नहीं देता है। यह नियम कश्मीरी पंडितों की अनुशंसा पर तब के शासक ने बनाया था। रविवार को सिंह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह, एनएसए अजीत डोभाल से अपील की थी कि कोई भी कदम विचारकर उठाएं, नहीं तो कश्मीर हमारे हाथ से निकल सकता है।

 

पुलवामा हमला इंटेलिजेंस फेल होने से हुआ: सिंह 
दिग्विजय ने आरोप लगाया है कि पुलवामा में सीआरपीए के काफिले पर आतंकी हमला इंटेलिजेंस के असफल होने के कारण हुआ था। मगर जिन लोगों ने इस बारे में सवाल उठाए, सरकार ने उन्हें देशद्रोही घोषित कर दिया। जम्मू-कश्मीर सरकार ने भी पुलवामा हमले में इंटेलिजेंस फेल होने की बात स्वीकार की थी। यदि कोई और देश होता तो गृह मंत्री को इस्तीफा देना पड़ता। मगर यहां तो सवाल उठाने वाले को ही देशद्रोही घोषित कर दिया गया।

 

इस प्रक्रिया के लिए कुछ नियम बनाए गए हैं: प्रियंका

कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने अनुच्छेद 370 को हटाए जाने पर कहा था- जिस तरीके से यह सबकुछ किया गया, वह पूरी तरह से असंवैधानिक है। यह लोकतंत्र के नियमों के खिलाफ है। ऐसे कार्यों को किए जाने को लेकर कुछ नियम बनाए गए हैं। उनका बिल्कुल पालन नहीं किया गया।

 

मैंने राहुल को आमंत्रित किया: मलिक

पिछले सप्ताह राहुल गांधी ने कहा था कि घाटी से हिंसक घटनाओं की खबरें आ रही हैं। प्रधानमंत्री को चाहिए कि वे इस मामले को पूरी शांति और पारदर्शिता से देखें। इसे लेकर बढ़ रहे असंतोष को खत्म करें। इस पर राज्यपाल मलिक ने कहा था, “मैंने राहुल गांधी को जम्मू-कश्मीर आने के लिए आमंत्रित किया है। मैं उनके लिए एयरक्राफ्ट भेजूंगा ताकि वे कश्मीर आकर यहां के जमीनी हालात देख सकें।”

 

राहुल ने राज्यपाल को जवाब दिया

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने मंगलवार को जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक के निमंत्रण को स्वीकार करते हुए उन्हें जवाब दिया। राहुल ने कहा, “प्रिय राज्यपाल मलिक, विपक्षी नेताओं के एक प्रतिनिधिमंडल के साथ मैं जम्मू-कश्मीर और लद्दाख आने के आपके निमंत्रण को स्वीकार करता हूं। हमें एयरक्राफ्ट की जरूरत नहीं है। बस वहां के लोगों, मुख्यधारा के नेताओं और हमारे सैनिक भाइयों से मिलने की आजादी दीजिए।”

 

DBApp

 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना