रक्षा / डीआरडीओ अब एयरफोर्स के लिए 5वीं पीढ़ी का एडवांस्ड कॉम्बैट एयरक्राफ्ट बनाए: वायुसेना प्रमुख



वायुसेना प्रमुख आरकेएस भदौरिया। (फाइल फोटो) वायुसेना प्रमुख आरकेएस भदौरिया। (फाइल फोटो)
X
वायुसेना प्रमुख आरकेएस भदौरिया। (फाइल फोटो)वायुसेना प्रमुख आरकेएस भदौरिया। (फाइल फोटो)

  • एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया ने डीआरडीओ की 41वीं डायरेक्टर्स कॉन्फ्रेंस को संबोधित किया
  • वायुसेना प्रमुख ने कहा- भविष्य में तकनीक के नेतृत्व से हमें विपरीत परिस्थितियों में बढ़त मिलेगी

Dainik Bhaskar

Oct 16, 2019, 09:14 AM IST

नई दिल्ली. वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया ने एयरफोर्स को बेहतर हथियार प्रणाली मुहैया कराने के लिए रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (डीआरडीओ) की तारीफ की। उन्होंने मंगलवार को कहा कि डीआरडीओ को अब 5वीं पीढ़ी का एडवांस्ड मीडियम कॉम्बैट एयरक्राफ्ट (एएमसीए) विकसित करना चाहिए।

 

डीआरडीओ की 41वीं डायरेक्टर्स कॉन्फ्रेंस में भदौरिया ने कहा कि भविष्य में टेक्नोलॉजी के नेतृत्व से हमें विपरीत परिस्थितियों में तकनीकी बढ़त मिलेगी। डीआरडीओ ने इसे साबित कर दिखाया है। हमारे पास डीआरडीओ के साथ जुड़ने का लंबा इतिहास है। 70 के दशक में हम दुश्मनों से पीछे थे और फिर डीआरडीओ ने सबसे पहले हमें इलेक्ट्रॉनिक वॉरफेयर सिस्टम दिया। साधारण रडार वॉर्निंग सिस्टम की जगह इलेक्ट्रॉनिक सिस्टम मिलने से वायुसेना की ऑपरेशन की क्षमता बढ़ी।

 

इसके बाद 6वीं और 7वीं पीढ़ी के एयरक्राफ्ट भी आएंगे: भदौरिया

भदौरिया ने कहा, ''अब एडवांस्ड मीडियम कॉम्बैट एयरक्राफ्ट (एएमसीए) डीआरडीओ का प्रोजेक्ट है। हमने इसे 5वीं पीढ़ी का कह सकते हैं, इसके बाद एयरक्राफ्ट की 6वीं और 7वीं पीढ़ियां भी विकसित होंगी। मुझे लगता है कि डीआरडीओ को 5वीं पीढ़ी का लड़ाकू विमान जल्द तैयार करना चाहिए। अपने गर्व के लिए ही नहीं बल्कि वायुसेना के लिए भी।

 

वायुसेना प्रमुख ने स्वदेशी तकनीक के विकास पर जोर दिया था

8 अक्टूबर को वायुसेना दिवस के मौके पर भदौरिया ने मेक इन इंडिया के तहत देश में बने हथियार और तकनीक के इस्तेमाल पर जोर दिया था। उन्होंने कहा था कि हम लाइट कॉम्बैट एयरक्राफ्ट (एलसीए) का इस्तेमाल शुरू कर चुके हैं। तेजस विमान हमारे जंगी बेड़े में शामिल हो चुका है। अभी इसकी एक स्क्वॉड्रन है, भविष्य में पांच विमान और शामिल किए जाएंगे। 5वीं पीढ़ी के स्वदेशी एडवांस्ड मल्टी रोल कॉम्बैट एयरक्राफ्ट (एएमसीए) का बनाने का काम शुरू हो गया है।

 

DBApp

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना