• Hindi News
  • National
  • Due To The Rain, The Water Level Of Alaknanda, Mandakini And Ganga Rivers Increased, Thousands Of People Are Migrating

उत्तराखंड, यूपी और बिहार में बाढ़:बारिश के कारण अलखनंदा, मंदाकिनी और गंगा नदी का जलस्तर बढ़ा, हजारों लोग पलायन करने को मजबूर

देहरादून/पटना/लखनऊ4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
हरिद्वार के गंगा घाट पर उफनती नदी की फोटो। - Dainik Bhaskar
हरिद्वार के गंगा घाट पर उफनती नदी की फोटो।

भारी बारिश के चलते नेपाल के 30 जिले बाढ़ की चपेट में हैं। यहां अब तक 16 लोगों की मौत हो चुकी है। कई नदियां उफान पर हैं। इनका असर नेपाल से सटे उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड और बिहार में दिखाई दे रहा है। तीनों राज्यों में बाढ़ की स्थिति बन गई है। बारिश के कारण उत्तराखंड में अलखनंदा, मंदाकिनी और गंगा नदी का जलस्तर बढ़ रहा है।

हरिद्वार से शनिवार को 4 लाख क्यूसेक पानी गंगा में छोड़ा गया। इसके चलते यूपी के कई जिलों में बाढ़ का खतरा पैदा हो गया है। पूर्वांचल की 6 नदियां उफान पर आ गई हैं। बाढ़ का असर सबसे ज्यादा यूपी के महाराजगंज, कुशीनगर, गोरखपुर, बलरामपुर, श्रावस्ती और बहराइच में है। इन जिलों में हजारों एकड़ फसल डूब गई है। ग्रामीण घरों को छोड़ने की तैयारी कर रहे हैं। वहीं बिहार की गंडक, कोसी और घाघरा नदियां भी उफान पर हैं।

19 जून तक देश में 41% ज्यादा बारिश
19 जून तक 41% ज्यादा बारिश देश के उत्तर पश्चिमी हिस्से में इस समय जमीनी सतह से काफी ऊंचाई तक हवाएं चल रही हैं, जो मानसून के आगे बढ़ने में बाधा बन रही है। इसलिए मानसून के दिल्ली, हरियाणा, पंजाब व उत्तरी राजस्थान के हिस्सों में पहुंचने के लिए अभी और इंतजार करना होगा।

मौसम विभाग के मुताबिक, मानसून के दस्तक देने के बाद 19 जून तक देश में 41% ज्यादा बारिश हुई है। 19 जून तक सामान्य रूप से 88.4 मिमी बारिश होती है। पर अब तक 124.2 मिमी बारिश हो चुकी है।

खबरें और भी हैं...