पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • During The Encounter In Shopian, Kashmir, The Wife And Son Made A Poignant Appeal To The Terrorist, 'Don't Come Out, Shoot Me.'

एनकाउंटर के बीच मार्मिक घटना:आतंकी के सामने गिड़गिड़ाते रहे उसकी पत्नी और बच्चे, कहा-बाहर नहीं आना चाहते तो हमें गोली मार दो

श्रीनगर4 महीने पहले

कश्मीर के शोपियां में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ हुई। इसमें चार आतंकी मारे गए। एनकाउंटर के बीच एक मार्मिक दृश्य भी देखने मिला। यहां एक आतंकी आकिब की पत्नी और उसके बच्चे आतंकी से अपील करते नजर आए।

4 साल के बेटे की अपील पर भी नहीं पसीजा दिल
पत्नी ने रोते हुए आकिब से कहा कि प्लीज बाहर आ जाओ और सरेंडर कर दो। अगर तुम बाहर नहीं आना चाहते, तो हमें भी गोली मार दो। मेरे साथ दोनों बच्चे भी आए हैं। सुरक्षाबलों की अपील पर बेटे ने भी पिता से सरेंडर करने को कहा। आकिब के 4 साल के बेटे ने कहा, 'अब्बूजी बाहर आ जाओ, मैं उफान राजा हूं, बाहर आ जाओ, ये कुछ नहीं करेंगे, मुझे आपकी बहुत याद आती है'।

जवानों ने भी की समझाने की कोशिश
आतंकी के परिवार से पहले सेना के जवानों ने भी आकिब को समझाने की कोशिश की। जवानों ने कहा कि आपको चारों तरफ से घेर लिया गया है। आप बच के नहीं निकल सकते। हथियार नीचे रखकर, हाथ ऊपर उठाकर बाहर आ जाओ।

अपील का नहीं हुआ असर
पत्नी और बच्चे की अपील का आतंकी आकिब पर कोई असर नहीं हुआ। उसने आत्मसमर्पण नहीं किया। काफी देर इंतजार करने के बाद सुरक्षाबलों ने जवाबी कार्रवाई की। एनकाउंटर में आकिब अहमद मलिक समेत 4 आतंकी मारे गए।

सेना देती है एक मौका
सेना लगभग हर एनकाउंटर में आतंकियों को एक मौका जरूर देती है। परिवार के सदस्यों को बुलाकर उनसे आत्मसमर्पण की अपील करवाई जाती है। कई ऐसे मामले भी सामने आए हैं, जब परिवार की गुहार के बाद सरेंडर करके आतंकी मुख्यधारा में लौट आए हैं।