जम्मू-कश्मीर के हैदरपोरा में एनकाउंटर:सुरक्षाबलों ने आतंकियों के मददगार सीमेंट व्यवसायी समेत 3 दहशतगर्दों को ढेर किया

श्रीनगरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

जम्मू-कश्मीर के हैदरपोरा इलाके में सोमवार को सुरक्षाबलों ने एनकाउंटर में दो आतंकियों को मार गिराया। मारे गए आतंकी की पहचान समीर और आमीर के रूप में हुई है। सुरक्षाबलों ने एनकाउंटर में एक तीसरे शख्स अल्ताफ को भी ढेर कर दिया। अल्ताफ एक सीमेंट व्यवसायी है और उसने आतंकियों को पनाह दे रखी थी।

साढ़े तीन घंटे चला एनकाउंटर
सूत्रों के मुताबिक, सोमवार शाम करीब 7 बजे सुरक्षाबलों को सूचना मिली कि हैदरपोरा के एक मकान में तीन आतंकी छिपे हुए हैं। सूचना पर कार्रवाई करते हुए पुलिस ने सेना को साथ लेकर इलाके में सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया। ऑपरेशन के दौरान जब हैदरपोरा इलाके को खंगाला जा रहा था तो आतंकियों ने टीम पर फायरिंग शुरू कर दी।

सुरक्षाबलों की तरफ से आतंकियों को सरेंडर करने के लिए कहा गया, लेकिन आतंकी नहीं माने और फायरिंग जारी रखी। इसके बाद सुरक्षाबलों ने भी जवाबी कार्रवाई शुरू की। करीब साढ़े तीन घंटे चले ऑपरेशन में दो आतंकी मारे गए। साथ ही उनका मददगार भी ढेर हो गया। तीनों शवों को पुलिस ने अपने कब्जे में ले लिया है।

तीनों आतंकियों की पहचान हुई
IGP कश्मीर विजय कुमार ने बताया कि मुठभेड़ स्थल से 3 शव बरामद किए गए हैं। त्राल का रहने वाला समीर तांत्रे, दूसरा बनिहाल का आमिर और तीसरा शख्स अल्ताफ था। अल्ताफ ने आतंकियों को अपने घर में पनाह दे रखी थी जो टॉप फ्लोर पर छिपे हुए थे। एनकाउंटर के दौरान अल्ताफ घायल हो गया था, हालांकि बाद में उसने दम तोड़ दिया। अल्ताफ हैदरपोरा का ही रहने वाला है। वह सीमेंट का व्यवसाय करता है।

श्रीनगर के जामलाता में पुलिस टीम पर फायरिंग
इससे पहले रविवार को ओल्ड श्रीनगर के जामलाता एरिया में एक संदिग्ध की तलाश में पुलिस टीम ने एक घर पर रेड की थी। इसी दौरान पुलिस टीम पर घर के अंदर से फायरिंग कर दी गई। फायरिंग में एक पुलिसकर्मी घायल हो गया है, जिसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। अधिकारियों ने इसके आतंकी घटना होने की संभावना से भी इंकार नहीं किया है।