• Hindi News
  • National
  • Mallikarjun Kharge Piyush Goyal | Parliament Monsoon Session August 5 Latest News Updates

मानसून सत्र का 15वां दिन:राज्यसभा में बोले रेलमंत्री वैष्णव- 1215 स्टेशनों का आदर्श स्टेशन योजना से विकास हुआ, इस साल 38 का होगा

नई दिल्ली13 दिन पहले

आज मानसून सत्र का 15वां दिन है। केंद्रीय रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने शुक्रवार को राज्यसभा को बताया कि देशभर में 1,253 रेलवे स्टेशनों को आदर्श स्टेशन बनाने का लक्ष्य था, इसमें से अब तक 1,215 स्टेशनों को विकसित किया जा चुका है। बाकी 38 स्टेशनों को आदर्श स्टेशन योजना से 2022-23 तक विकसित कर दिया जाएगा। रेलमंत्री ने भाजपा सांसद नरहरि अमीन के एक प्रश्न का लिखित उत्तर देते हुए यह घोषणा की।

राज्यसभा में उपराष्ट्रपति नायडू बोले- सांसदों को सत्र के दौरान क्रिमिनल केसेज में गिरफ्तारी से छूट नहीं
राज्यसभा के सभापति और उपराष्ट्रपति वैंकैया नायडू ने शुक्रवार को कहा कि सांसदो को संसद सत्र के दौरान क्रिमिनल केसेज में गिरफ्तारी से छूट नहीं मिल सकती। वहीं, सांसद जांच एजेंसियों के समन को भी नजरअंदाज नहीं कर सकते। नायडू ने कहा- स्पष्ट कर देना चाहता हूं कि सदस्यों (संसद के) के बीच एक गलत धारणा है कि उन्हें एजेंसियों के खिलाफ विशेषाधिकार प्राप्त है, जबकि ऐसा नहीं है।

सांसदों को सत्र या समिति की बैठक शुरू होने से 40 दिन पहले और उसके 40 दिन बाद सिविल मामलों में गिरफ्तार नहीं किया जा सकता है। बता दें कि ED ने नेशनल हेराल्ड मामले में पूछताछ के लिए राज्यसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे को गुरुवार को बुलाया था। इस पर खड़गे ने सदन में पूछा था कि जांच एजेंसी उन्हें संसद की कार्यवाही के दौरान कैसे बुला सकते हैं?

दो बार स्थगित हुए दोनों सदन
लोकसभा और राज्यसभा की कार्यवाही दो बार स्थगित रहने के बाद फिर से शुरू हुई तो लोकसभा में ग्लोबल वॉर्मिंग और ऊर्जा साधनों पर चर्चा में भाजपा सांसद जगदंबिका पाल ने कहा- दुनिया में ग्लोबल वॉर्मिंग के लिए हमसे ज्यादा अमेरिका जिम्मेदार है।

इससे पहले लोकसभा प्रश्नकाल में भाजपा सांसद राजीव प्रताप रूड़ी ने बिहार में नकली शराब पर हुई मौतों और बिहार में बदहाल स्वास्थ्य सेवाओं पर अपनी ही सरकार को घेरा। उन्होंने वहां दवाओं की कम आपूर्ति और डॉक्टरों की कमी का सवाल उठाया। स्वास्थ्य मंत्री डॉ. मनसुख मंडाविया ने कहा- बिहार को हर संभव स्वास्थ्य सेवाओं की मदद की जाएगी।

सदन में कल भिड़े थे खड़गे और गोयल
मल्लिकार्जुन खड़गे:
ED ने मुझे नेशनल हेराल्ड मामले में पूछताछ के लिए पेश होने को कहा है। वे मुझे संसद की कार्यवाही के दौरान कैसे बुला सकते हैं? मुझे ED के सामने 12.30 बजे पेश होने को कहा गया है। मैं कानून का पालन करना चाहता हूं, लेकिन क्या सदन की कार्यवाही के दौरान मुझे बुलाया जाना सही है?

कल पुलिस ने सोनिया गांधी और राहुल गांधी के घरों को घेर लिया था। क्या ऐसे माहौल में डेमोक्रेसी जिंदा रहेगी? क्या हम संविधान के मुताबिक काम कर पाएंगे? हम इससे डरेंगे नहीं, हम इससे लड़ेंगे।

पीयूष गोयल: सरकार किसी भी एजेंसी के कामकाज में दखल नहीं देती है। हो सकता है कांग्रेस के समय में ऐसा होता होगा, लेकिन अब अगर कोई भी शख्स गलत काम करेगा तो एजेंसियां अपना काम करेंगी।

कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे यंग इंडिया कंपनी के आधिकारिक प्रतिनिधि हैं। ED ने कहा कि सर्च पूरी होने के लिए उनका मौजूद होना जरूरी है।
कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे यंग इंडिया कंपनी के आधिकारिक प्रतिनिधि हैं। ED ने कहा कि सर्च पूरी होने के लिए उनका मौजूद होना जरूरी है।

दोनों सदन हुई थीं स्थगित
संसद की 14वें दिन की कार्यवाही के दौरान दोनों सदनों में कांग्रेस ने सरकार के खिलाफ हंगामा किया था। इसके चलते दोनों सदनों को शुक्रवार तक के लिए स्थगित कर दिया गया था। सदनों में कांग्रेस नेताओं ने सरकार पर जांच एजेंसियों के दुरुपयोग का आरोप लगाया। मामला नेशनल हेराल्ड केस में ED की कार्रवाई से जुड़ा है। दरअसल, कल ही ED ने नेशनल हेराल्ड मामले में यंग इंडिया के दिल्ली स्थित दफ्तर को सील किया था।
परिवहन मंत्री ने कार के सुरक्षा मानकों पर की थी बात
लोकसभा स्थगित होने से पहले केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि सड़क व परिवहन मंत्रालय कार की पिछली सीट पर भी एयरबैग्स लगवाने की कोशिशों में है, ताकि पीछे बैठने वाले पैसेंजर्स की जान बचाई जा सके। इस बारे में एक प्रस्ताव पर विचार किया जा रहा है। सरकार जल्द ही इस पर फैसला लेगी। फिलहाल कार की अगली सीटों के लिए ही एयरबैग्स मौजूद होते हैं।

संसद की 14वें दिन की कार्रवाही के दौरान बोलते केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी।
संसद की 14वें दिन की कार्रवाही के दौरान बोलते केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी।

यह भी पढ़ें: राहुल बोले- हम नरेंद्र मोदी से नहीं डरते, कर लें जो करना है; पात्रा का जवाब- भागने नहीं देंगे

मानसून सत्र में आधी भी नहीं चली संसद
संसद का मानसून सत्र 18 जुलाई को शुरू हुआ था। यह 12 अगस्त तक चलना है। संसद में एक दिन में छह घंटे काम होता है। इस हिसाब से अब तक 14 दिन में दोनों सदनों में 84-84 घंटे काम होना चाहिए था। लेकिन, लोकसभा में 33.7 और राज्यसभा में 28.9 घंटे ही काम हुआ हुआ। प्रश्नकाल लोकसभा में 4.1 और राज्यसभा में 6 घंटे ही चला। विधायी कार्य लोकसभा में 14.6 और राज्यसभा में 11 घंटे हुआ। गैर विधायी कार्य लोकसभा में 12.7 और राज्यसभा में 7.2 घंटे हुए। अन्य कार्य लोकसभा में 2.3 और राज्यसभा में 4.7 घंटे हुए।