• Hindi News
  • National
  • first batch of four Chinook helicopters for the Indian Air Force arrived at the Mundra airport
विज्ञापन

सैन्य ताकत / अमेरिका से 4 चिनूक हेलिकॉप्टर की पहली खेप गुजरात पहुंची, 15 का हुआ है सौदा

Dainik Bhaskar

Feb 10, 2019, 03:58 PM IST


अमेरिका लंबे वक्त से चिनूक हेलिकॉप्टर का इस्तेमाल कर रहा है। अमेरिका लंबे वक्त से चिनूक हेलिकॉप्टर का इस्तेमाल कर रहा है।
X
अमेरिका लंबे वक्त से चिनूक हेलिकॉप्टर का इस्तेमाल कर रहा है।अमेरिका लंबे वक्त से चिनूक हेलिकॉप्टर का इस्तेमाल कर रहा है।
  • comment

  • 2015 में भारत ने अमेरिका से 22 अपाचे और 15 चिनूक हेलिकॉप्टर खरीदने के लिए डील की थी
  • 2.5 अरब डॉलर की है डील, इस साल के अंत तक भारत को सभी हेलिकॉप्टर मिलेंगे

गांधीनगर. अमेरिका से खरीदे गए चिनूक हेलिकॉप्टर की पहली खेप वायुसेना के बेड़े में शामिल हो गई। रविवार को 4 चिनूक हेलिकॉप्टर गुजरात में कच्छ के मुंद्रा एयरपोर्ट पहुंचे। भारत ने 2015 में अमेरिकी विमान निर्माता कंपनी बोइंग से 15 चिनूक हेलिकॉप्टर खरीदने का सौदा किया था। 2.5 अरब डॉलर के इस सौदे में 22 अपाचे हेलिकॉप्टर भी शामिल हैं।

बहुत ऊंचाई पर उड़ान भरने में सक्षम है चिनूक

  1. इससे पहले अमेरिका के फिलाडेल्फिया में बोइंग ने इसी हफ्ते भारत को पहले चिनूक हेलिकॉप्टर की खेप आधिकारिक रूप से सौंप दी थी। डील के मुताबिक, इस साल के अंत तक भारत को सभी अपाचे और चिनूक हेलिकॉप्टर मिल जाएंगे। इससे वायुसेना की ताकत में काफी इजाफा होगा।

  2. बोइंग के मुताबिक, अपाचे दुनिया के सबसे अच्छे लड़ाकू हेलिकॉप्टर माने जाते हैं। वहीं, चिनूक हेलिकॉप्टर बहुत ऊंचाई पर उड़ान भरने में सक्षम है। चिनूक भारी-भरकम सामान को भी काफी ऊंचाई पर आसानी से पहुंचा सकता है। अमेरिकी सेना लंबे वक्त से अपाचे और चिनूक का इस्तेमाल कर रही है।

  3. भारत अपाचे का इस्तेमाल करने वाला 14वां और चिनूक को इस्तेमाल करने वाला 19वां देश होगा। बोइंग ने 2018 में वायुसेना के पायलटों और फ्लाइट इंजीनियरों को चिनूक हेलिकॉप्टर उड़ाने की ट्रेनिंग भी दी थी।

COMMENT
Astrology
Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें