• Hindi News
  • National
  • First Indian Doctor Couple To Scale Mount Everest, Gave A Special Message

सर्जन दंपती ने रचा इतिहास:माउंट एवरेस्ट फतह करने वाला पहला भारतीय डॉक्टर कपल, दिया खास मैसेज

नई दिल्ली7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

गुजरात के एक सर्जन दंपती ने माउंट एवरेस्ट पर चढ़कर इतिहास रच दिया है। कपल माउंट एवरेस्ट पर चढ़ने वाला पहला भारतीय डॉक्टर कपल बन गया है। वहीं एक अन्य भारतीय पर्वतारोही ने बिना ऑक्सीजन सिडेंलर के दुनिया की चौथी सबसे ऊंची चोटी माउंट ल्होत्से को फतह कर लिया है। नेपाल के स्थानीय मीडिया ने इसकी जानकारी दी है।

चोटी पर चढ़ दिया पर्यावरण संरक्षण का मैसेज
गुजरात के डॉ. हेमंत ललितचंद्र लेउवा और उनकी पत्नी डॉ. सुरभिबेन हेमंत लेउवा शुक्रवार सुबह करीब 8:30 बजे माउंट एवरेस्ट की सबसे ऊंची चोटी जो 8,849 मीटर पर है, के शिखर पर थे। इस दंपती ने पर्यावरण को बचाने के संदेश के साथ माउंट एवरेस्ट की चोटी पर चढ़ाई की। हेमंत NHL म्युनिसिपल मेडिकल कॉलेज में सर्जरी के प्रोफेसर हैं। वहीं उनकी पत्नी सुरभिबेन गुजरात विद्यापीठ में मुख्य चिकित्सा अधिकारी हैं।
लद्दाख के रिगजिग ने किया कमाल
वहीं लद्दाख के एक पर्वतारोही स्कालजांग रिगजिन (Skalzang Rigzin) ने भी इतिहास रचा है। वो बिना ऑक्सीजन सिलेंडर की मदद के दुनिया की चौथी सबसे ऊंची चोटी माउंट ल्होत्से पर चढ़े, जिसकी ऊंचाई करीब 8,516 मीटर है। बता दें कि इससे पहले रिगजिन ने 28 अप्रैल को अन्नपूर्णा पर्वत पर चढ़ाई की। उन्होंने 16 दिनों में दो चोटियों पर चढ़कर कमाल कर दिया है। खास बात यह है कि दोनों बार उन्होंने ऑक्सीजन सिलेंडर का इस्तेमाल नहीं किया।

बता दें कि इससे पहले नेपाली शेरपा महिला लक्पा ने गुरुवार को दुनिया की सबसे ऊंची एवरेस्ट चोटी को सर्वाधिक बार फतह करने का अपना ही रिकॉर्ड तोड़ दिया था।