सैन्य ताकत / भारतीय एयरफोर्स को अपाचे हेलिकॉप्टर की पहली खेप मिली, जुलाई में भारत पहुंचाए जाएंगे



अमेरिका के एरिजोना में भारत को सौंपी गई पहली खेप। अमेरिका के एरिजोना में भारत को सौंपी गई पहली खेप।
First US-made attack helicopter handed to Indian Air Force Updates
First US-made attack helicopter handed to Indian Air Force Updates
X
अमेरिका के एरिजोना में भारत को सौंपी गई पहली खेप।अमेरिका के एरिजोना में भारत को सौंपी गई पहली खेप।
First US-made attack helicopter handed to Indian Air Force Updates
First US-made attack helicopter handed to Indian Air Force Updates

  • 2015 में भारत ने अमेरिका से 22 अपाचे और 15 चिनूक हेलिकॉप्टर खरीदने के लिए डील की थी
  • 2.5 अरब डॉलर की है डील, इस साल के अंत तक भारत को सभी हेलिकॉप्टर मिलेंगे

Dainik Bhaskar

May 11, 2019, 11:21 AM IST

वॉशिंगटन. अमेरिका ने शनिवार को भारतीय वायुसेना को अपाचे गार्जियन अटैक हेलिकॉप्टर की पहली खेप सौंप दी। एरिजोना स्थित बोइंग प्रोडक्शन फैसिलिटी में रखे गए एक कार्यक्रम में एयर मार्शल एएस बुटोला ने पहला हेलिकॉप्टर स्वीकार किया। पहली खेप इसी साल जुलाई में भारत पहुंचाई जाएगी। 

 

भारत ने 2015 में अमेरिकी विमान निर्माता कंपनी बोइंग से 22 अपाचे खरीदने का सौदा किया था। 2.5 अरब डॉलर (करीब 17.5 हजार करोड़ रुपए) के इस सौदे में 15 चिनूक हेलिकॉप्टर भी शामिल थे। बोइंग के मुताबिक, अपाचे दुनिया के सबसे अच्छे लड़ाकू हेलिकॉप्टर माने जाते हैं। यह खासतौर पर भारतीय वायुसेना की जरूरतों को ध्यान में रखकर बनाए गए हैं। कम ऊंचाई पर उड़ने की क्षमता की वजह से यह पहाड़ी क्षेत्रों में छिपकर वार करने में सक्षम हैं। वायुसेना के मुताबिक, भविष्य में थलसेना के साथ किसी भी तरह के साझा ऑपरेशन में अटैक हेलिकॉप्टर बड़ा फर्क पैदा करेंगे। 

 

फरवरी में भारत पहुंची थी चिनूक हेलिकॉप्टरों की खेप

भारत अपाचे का इस्तेमाल करने वाला 14वां देश होगा। इससे वायुसेना की ताकत में काफी इजाफा होगा। इसी साल फरवरी में अमेरिका से खरीदे गए चिनूक हेलिकॉप्टर की पहली खेप वायुसेना के बेड़े में शामिल हो चुकी है। 4 चिनूक हेलिकॉप्टर गुजरात में कच्छ के मुंद्रा एयरपोर्ट पहुंचे थे।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना