पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • For Asaram Bapu\'s Bail A Big Deal Of 50 Lakh Rupees In Rajasthan By A Fraud Arrest Couple

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

फर्जी प्रिंसीपल एडवाइजर बनकर दंपती ने ठगे करोड़ों रुपए, आसाराम की जमानत के लिए किया 50 लाख में सौदा

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
एसओजी की गिरफ्त में आए शातिर ठग। - Dainik Bhaskar
एसओजी की गिरफ्त में आए शातिर ठग।
  • एसओजी जयपुर ने दो दिन पहले किया था शातिर ठग दंपती को गिरफ्तार
  • एक वकील के माध्यम से जोधपुर जेल में बंद आसाराम से करता था संपर्क
जयपुर. राजस्थान पुलिस ने नौकरी का झांसा देकर युवाओं से करोड़ों रुपए ठगने वाले दंपती को गिरफ्तार किया है। पति-पत्नी खुद को केंद्रीय विधि एवं न्याय मंत्रालय का मुख्य सलाहकार बताकर लोगों को झांसे में लेते थे। इतना ही नहीं उन्होंने दुष्कर्म केस में सजा काट रहे आसाराम को पैरोल और जमानत दिलाने के लिए 50 लाख रुपए में सौदा कर रखा था। आरोपी पति ने 7 महीने में चार बार जोधपुर जेल में आसाराम से मुलाकात की बात कही है।
 
एसओजी एएसपी करण शर्मा के मुताबिक, फर्जीवाड़े के आरोपी नितिन और शिखा गुप्ता ने पूछताछ में अहम खुलासे किए हैं। उनके करीब 8 बैंक खातों और कॉल डिलेट की पड़ताल हो रही है, ताकि ठगी की रकम और पीड़ितों के बारे में जानकारी मिल सके। नितिन आसाराम के एक वकील के संपर्क में था। दंपती ने सुपरिंटेंडेंट को रौब दिखाकर जेल में आसाराम से मुलाकात की थी। नितिन ने कहा है कि आसाराम जमानत के एवज में 50 लाख रुपए देने को तैयार था।
 
रसूख बताया- मेरी कई नेताओं से जान-पहचान है

नितिन ने एसओजी अफसरों को बताया कि वह अलीगढ़ के पास स्थित अचरोली का रहने वाला है। उसके पिता गांव के इंटर स्कूल में प्रिंसिपल थे। इसी स्कूल में एक टीचर थे जो वर्तमान में राजस्थान में उच्च पद पर तैनात हैं। उसने इसी अफसर का नाम लेकर आसाराम की जमानत कराने की बात कही थी। आरोपी दंपती की कॉल डिटेल खंलाली जा रही हैं, ताकि पता चल सके कि दोनों कौन से अफसर और नेताओं के करीबी हैं।

 

गिड़गिड़ाया- एक फोन कर लेने दो, रुपए लौटा दूंगा
ठग दंपती की गिरफ्तारी के बाद एसओजी ने जैसे ही आरोपियों से पूछताछ की तो आरोपी नितिन ने पुलिस अफसरों को कहा कि मुझे केवल एक फोन कर लेने दीजिए। जिसने भी मामला दर्ज कराया है उसके सारे रुपए लौटा दूंगा।

 

दावा- उपराष्ट्रपति ऑफिस के पीएस की सिफारिश से कमेटी में शामिल हुआ
जांच में पता चला है कि नितिन उत्तर-पश्चिम रेलवे की जोनल रेलवे यूजर कंसलटेंट कमेटी का सदस्य है। यह कमेटी रेलवे के द्वारा दी जाने वाली सुविधाओं की निगरानी करती है। नितिन चार महीने पहले कमेटी में शामिल हुआ था। पूछताछ में उसने दावा किया है कि कमेटी की सदस्यता के लिए उपराष्ट्रपति कार्यालय में तैनात एक पीएस ने उसकी सिफारिश की थी।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थिति आपके लिए बेहतरीन परिस्थितियां बना रही है। व्यक्तिगत और पारिवारिक गतिविधियों के प्रति ज्यादा ध्यान केंद्रित रहेगा। बच्चों की शिक्षा और करियर से संबंधित महत्वपूर्ण कार्य भी आ...

और पढ़ें