सोनाक्षी पर धोखाधड़ी का केस

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

लखनऊ. मुरादाबाद में बॉलीवुड ऐक्ट्रेस सोनाक्षी सिन्हा समेत पांच लोगों के खिलाफ 37 लाख रुपये की धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज किया गया है। दबंग गर्ल एडवांस पेमेंट लेने के बावजूद दिल्ली में शो करने नहीं पहुंचीं। आयोजक प्रमोद शर्मा ने पुलिस से शिकायत की, लेकिन आरोपियों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की जा रही थी। इससे दुखी होकर प्रमोद ने 13 फरवरी को जहर खाकर जान देने की कोशिश की। जांच के बाद अभिनेत्री सोनाक्षी, टैलेंट फुल ऑन कंपनी के अभिषेक सिन्हा, मालविका पंजाबी, धूमिल ठक्कर और एडगर सकारिया को आरोपी बनाया गया है।

 

सोनाक्षी को अवॉर्ड कार्यक्रम में जाना था

कटघर इलाके के शिवपुरी गांव के प्रमोद शर्मा ने बीते 24 नवंबर को मुरादाबाद के एसएसपी से सोनाक्षी सिन्‍हा के खिलाफ शिकायत की थी। प्रमोद के मुताबिक, उन्‍होंने दिल्ली में 30 सितंबर को इंडिया फैशन ऐंड ब्यूटी अवाॅर्ड कार्यक्रम का आयोजन किया था। इसमें अवाॅर्ड बांटने के लिए सोनाक्षी को आना था। इसके लिए प्रमोद ने टैलेंट फुल ऑन कंपनी से करार किया था। प्रमोद का दावा है कि सोनाक्षी की निजी सचिव मालविका पंजाबी से बातचीत के बाद उन्‍होंने 37 लाख की रकम उनके खाते में ऑनलाइन ट्रांसफर कर दी थी, पर ऐन वक्‍त पर सोनाक्षी ने कार्यक्रम में आने से इनकार कर दिया। 

 

पुलिस पर दबाव बनाने को खाया जहर: एसएचओ

प्रमोद की शिकायत पर एसएसपी ने सीओ कटघर सुदेश कुमार गुप्‍ता को मामले की जांच के आदेश दिए। जांच रिपोर्ट आने के बाद शुक्रवार देर शाम मुकदमा दर्ज कर लिया गया। कटघर थाने के एसएचओ अजीत कुमार सिंह का कहना है कि चूंकि यह दिल्‍ली का मामला था, इसलिए जांच वहीं से होनी चाहिए थी। फिर भी एसएसपी के निर्देश के बाद पूरे मामले की जांच की गई। शिकायतकर्ता प्रमोद शर्मा द्वारा जहर खाए जाने के बाबत कटघर थाने के एसएचओ ने कहा कि प्रमोद ने ऐसा पुलिस पर दबाव बनाने के लिए किया था। उनके शिकायत की जांच चल रही थी और अब मुकदमा भी दर्ज कर लिया गया है।