• Hindi News
  • National
  • GoAir Pilots Shut Down Wrong Engine, Restarted It After Bird Hit: Report

3330 फीट की ऊंचाई पर गो-एयर के पायलटों ने बंद कर दिया था गलत इंजन: डीजीसीए

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • इंजन नंबर 2 से टकराया था पक्षी, पायलट ने बंद कर दिया था इंजन नंबर 1
  • जून 2017 की घटना, दिल्ली से मुंबई जा रही फ्लाईट में सवार थे 156 यात्री

नई दिल्ली. गोएयर की दिल्ली से मुंबई जा रही फ्लाइट के पायलटों ने उड़ान के दौरान खराब इंजन की जगह सही इंजन बंद कर दिया। इंजन टेकऑफ के दौरान पक्षी टकराने से खराब हुआ था। हालांकि, गलती का अहसास होने पर पायलट एक इंजन के सहारे विमान को वापस दिल्ली एयरपोर्ट पर ले आए। इस विमान में 156 यात्री सवार थे। डायरेक्टोरेट जनरल ऑफ सिविल एविएशन (डीजीसीए) की रिपोर्ट में इस बात का जिक्र किया गया है।

1) 21 जून 2017 को हुई थी घटना

5 नवंबर 2018 को सामने आई डीजीसीए की रिपोर्ट में कहा गया- 21 जून 2017 को सुबह 5:58 बजे गोएयर की ए320 फ्लाइट में यह घटना हुई। जांच में पता चला कि टेकऑफ के दौरान फ्लाइट के इंजन-2 से पक्षी टकराया था।

रिपोर्ट के मुताबिक, टेकऑफ के दौरान अस्वाभाविक आवाज आने के बावजूद इन-चार्ज पायलट ने उड़ान जारी रखने का फैसला किया, क्योंकि वह विमान के हवा में पहुंचने के बाद इस खामी का पता करना चाहता था।

"टेकऑफ के बाद भी हालात का गलत आकलन किया गया और इंजन-2 जो कि खराब था, उसकी जगह इंजन-1 को बंद करने का फैसला लिया गया। विमान खराब इंजन के सहारे ही 3 मिनट तक उड़ान भरता रहा।"

"3330 फीट पर पहुंचने के बाद विमान ने ऊंचाई पर जाना बंद कर दिया। इसके बाद पायलटों को अहसास हुआ कि उन्होंने गलत इंजन को बंद कर दिया है। इसके बाद उन्होंने इंजन-1 को शुरू करने की कोशिश की, लेकिन पहली बार में ऐसा नहीं हो पाया।"

"दूसरी कोशिश में इंजन-1 स्टार्ट हो पाया। एक इंजन के सहारे पायलटों ने दिल्ली एयरपोर्ट पर विमान को लैंड किया। इस दौरान कोई अप्रिय घटना नहीं हुई। विमान की जांच करने पर इंजन नंबर-2 पर खून के धब्बे मिले। इंजन के पंखे के दो ब्लेड पक्षी के टकराने से खराब हो गए थे।"

रिपोर्ट में कहा गया कि इंजन की गलत पहचान, हालात का सही आकलन ना कर पाना, कॉकपिट के स्रोतों का सही इस्तेमाल ना कर पाना और इमरजेंसी के हालात में एयरक्राफ्ट की गलत हैंडलिंग के चलते यह घटना हुई। दोनों पायलटों के खिलाफ उचित कार्रवाई करनी चाहिए।