राफेल डील / मोदी सरकार कल संसद में पेश करेगी कैग रिपोर्ट



Govt to table CAG report on Rafale deal in Parliament Tuesday
Govt to table CAG report on Rafale deal in Parliament Tuesday
X
Govt to table CAG report on Rafale deal in Parliament Tuesday
Govt to table CAG report on Rafale deal in Parliament Tuesday

  • कैग रिपोर्ट आने से पहले ही कांग्रेस ने सवाल उठाए
  • सिब्बल ने कहा- जब राफेल सौदा हुआ तब राजीव महर्षि देश के वित्त सचिव थे, अब वही कैग के पद पर
  • जेटली ने सिब्बल के आरोपों पर कहा- संस्थाओं को तोड़ने वाले अब कैग पर सवाल उठा रहे

Dainik Bhaskar

Feb 11, 2019, 08:52 PM IST

नई दिल्ली. राफेल डील पर कांग्रेस के आरोपों के बीच मोदी सरकार ने मंगलवार को नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (कैग) की रिपोर्ट संसद में पेश की। इस दौरान विपक्ष ने जेपीसी से जांच के लिए हंगामा किया। गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि विपक्ष डील को लेकर बार-बार झूठ न बोलें, इससे आरोप सच साबित नहीं हो जाएंगे। फ्रांस के साथ 36 राफेल विमान सौदे में कांग्रेस लगातार गड़बड़ी के आरोप लगा रही है। 

 

यह सीधे-सीधे हितों के टकराव का मामला- सिब्बल

  1. अप्रैल-मई में लोकसभा चुनाव होने हैं। यह 16वीं लोकसभा का अंतिम सत्र है। ऐसे में बजट सत्र खत्म होने से एक दिन पहले सरकार ने लोकसभा में रिपोर्ट रखी। इससे पहले रविवार को कांग्रेस ने रिपोर्ट आने से पहले ही सवाल उठाए थे।

  2. कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने कहा था- यह सीधे-सीधे हितों के टकराव का मामला है क्योंकि जिस समय मोदी सरकार ने 36 राफेल की खरीद का सौदा किया और यूपीए के वक्त के 126 राफेल की खरीद के सौदे को रद्द किया, उस समय राजीव महर्षि देश के वित्त सचिव थे। अब वही कैग के पद पर हैं। 

  3. उन्होंने कहा था, "जिस अफसर (राजीव महर्षि) के देख-रेख में यह भ्रष्ट सौदा हुआ, वह अपने ही खिलाफ जांच कैसे करेंगे? यह तो वही बात हुई , मैं ही गलत, मैं ही जज।” सिब्बल ने कहा- महर्षि से कैसे अपेक्षा की जा सकती है कि वह इसमें हुई गड़बड़ियों की निष्पक्ष जांच करेंगे।

  4. जेटली ने महर्षि पर सिब्बल के आरोप नकारे

    सिब्बल के आरोपों पर केन्द्रीय मंत्री अरुण जेटली ने कहा था कि यूपीए सरकार में दस साल मंत्री रहे लोग शासन की अज्ञानता से ग्रसित हैं। पूर्व मंत्रियों को यह तक नहीं पता कि वित्त सचिव केवल एक पद भर है जो वित्त मंत्रालय में सबसे वरिष्ठ सचिव को दिया जाता है।”

  5. जेटली ने ट्वीट किया था- संस्थाओं को तोड़ने वाले अब झूठ के आधार पर कैग पर भी सवाल उठाने लगे। 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना