• Hindi News
  • National
  • Kashmir Target Killing | Jammu Kashmir Grenade Attack; Terrorists Kill Bihar Worker In Pulwama

कश्मीर में दो महीने बाद फिर टारगेट किलिंग:पुलवामा के गदूरा में बिहार के मजदूरों पर ग्रेनेड अटैक; हमले में 1 की मौत, 2 घायल

8 दिन पहले
हमले में घायल पिता-पुत्र मोहम्मद आरिफ और मोहम्मद मजबूल बिहार के रामपुर के रहने वाले हैं।

पुलवामा के गदूरा इलाके में आतंकियों ने मजदूरों पर ग्रेनेड फेंका। इस घटना में बिहार के रहने वाले एक मजदूर की मौत हो गई और दो घायल हो गए। जम्मू-कश्मीर पुलिस ने इलाके की घेराबंदी कर दी है। मरने वाले की पहचान बिहार के परसा के मोहम्मद मुमताज के रूप में हुई है। बिहार के रामपुर के पिता-पुत्र मोहम्मद आरिफ और मोहम्मद मजबूल घायल हैं। दोनों की हालत स्थिर है।

टेंट हाउस में काम करते थे मजदूर
आतंकियों ने जिन मजदूरों पर हमला किया वे गदूरा गांव में एक टेंट हाउस में काम करते थे। हमले के वक्त ये सभी सूती बिस्तर बनाने का काम कर रहे थे। पिछले दो महीनों से घाटी में आतंकियों के एनकाउंटर होते रहे हैं, जिसके चलते टारगेट किलिंग की घटनाएं नहीं हुईं थीं। गुरुवार रात हुए इस हमले से आतंकी एक बार फिर सक्रिय हो गए हैं।

इससे पहले बुधवार को जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर के अलोचीबाग बांध इलाके में आतंकवादियों ने पुलिस की गाड़ी पर गोलीबारी की थी। हालांकि, इस हमले में किसी तरह के जान-माल का नुकसान नहीं हुआ था।

अप्रैल में भी मजदूर बने थे निशाना
इससे पहले अप्रैल में आतंकियों ने पुलवामा जिले के लाजूरा में बिहार के दाे लाेगाें पर गोलियां चलाई थीं। हमले में दोनों मजदूर घायल हुए थे। दोनों की पहचान चौतरवा थाना के सिकटौर गांव के 46 साल के जोखू चौधरी तथा पुत्र 23 साल के पत्लेश्वर चौधरी के रूप में हुई है।

आर्टिकल 370 से जोड़कर देखा जा रहा हमला
5 अगस्त को जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटने के तीन साल हो गए हैं। ऐसे में गैर कश्मीरियों पर इस हमले को उसी से जोड़कर देखा जा रहा है। उधर गुरुवार को IB ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि जैश-ए-मोहम्मद और लश्कर-ए-तैयबा जैसे आतंकी संगठन किसी हमले को अंजाम देने की साजिश रच रहे हैं।

इंटेलिजेंस ब्यूरो (IB) ने 15 अगस्त को देखते हुए अलर्ट जारी किया, साथ ही दिल्ली पुलिस को 10 पन्ने की रिपोर्ट सौंपी, जिसमें स्वतंत्रता दिवस के दिन आतंकी हमला होने की आशंका जताई गई है। पढ़ें पूरी खबर...