• Hindi News
  • National
  • Gujarat Cabinet Minister List Update; Bhupendra Patel Vijay Rupani | Gujarat Cabinet Latest News And Updates Today

गुजरात के नए CM की नई टीम:भूपेंद्र पटेल कैबिनेट में 24 मंत्री शामिल, रुपाणी मंत्रिमंडल के सभी 22 बाहर; बदलाव के साथ 2022 के चुनाव की तैयारी

अहमदाबाद3 महीने पहले

गुजरात के नए मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने गुरुवार को अपनी पूरी नई टीम बना ली। राजभवन में दोपहर 1:30 बजे हुई शपथ में 24 विधायकों को मंत्री पद की शपथ दिलाई गई। 10 कैबिनेट और 14 राज्य मंत्री हैं। पूर्व मुख्यमंत्री विजय रुपाणी की 22 मंत्रियों वाली पूरी टीम बाहर हो गई है, इनमें पूर्व उप-मुख्यमंत्री नितिन पटेल भी शामिल हैं। नई कैबिनेट की पहली मीटिंग आज शाम को हुई, जिसमें प्रोफाइल का बंटवारा किया गया।

ये 10 विधायक बने कैबिनेट मंत्री

नामकहां से विधायक
राजेंद्र त्रिवेदीरवापुरा
जीतू वाघानीभावनगर पश्चिम
ऋषिकेष पटेलविसनगर
पूर्णेश मोदीसूरत पश्चिम
राघव पटेलजामनगर ग्रामीण
कनुभाई देसाईपारदी
किरीट सिंह राणालिम्बड़ी
नरेश पटेलगंडेवी
प्रदीप सिंह परमारअसरवा
अर्जुन सिंह चव्हाणमहेमदावाद

ये 14 विधायक बने राज्य मंत्री

नामकहां से विधायक
हर्ष सांघवीमाजरा
जगदीश पांचालनिकोल
बृजेश मेरजामोरबी
जीतू भाई चौधरीकपराड़ा
मनीषा वकीलबडोदरा
मुकेश पटेलओलपाड़
निमिषाबेन सुतारमोरवा हदफ
अरविंद रैयाणीराजकोट
कुबेर सिंह डिंडोरसंत रामपुर
कीर्ति सिंह वाघेलाकंकराज
गजेंद्र सिंह परमारप्रांतिज
आरसी मकवानामहुवा
विनोद भाई मोराडियाकतारगाम
देवा भाई मालमकेशोद

नई सरकार में नंबर-2 का दर्जा होगा राजेंद्र त्रिवेदी का
भूपेंद्र पटेल की कैबिनेट के मंत्रियों ने 5-5 के गुट में शपथ ली। सबसे पहले शपथ लेने वाले थे राजेंद्र त्रिवेदी, जिन्होंने विधानसभा अध्यक्ष पद से आज ही इस्तीफा दिया। इस्तीफे के करीब एक घंटे बाद ही वे मंत्री बना दिए गए। बताया जा रहा है कि पटेल की टीम में उनका दर्जा नंबर-2 का होगा।

मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल की सरकार में राजेंद्र त्रिवेदी का दर्जा नंबर-2 का होगा।
मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल की सरकार में राजेंद्र त्रिवेदी का दर्जा नंबर-2 का होगा।

कलह के चलते टला था शपथ ग्रहण, नाराजगी जताने वाले बाहर
पहले शपथ ग्रहण बुधवार दोपहर होना था, लेकिन नए मंत्रिमंडल को लेकर रुपाणी और पूर्व डिप्टी CM नितिन पटेल नाराज थे। इसे लेकर बुधवार को सुबह से रात तक विधायकों और वरिष्ठ नेताओं के बीच बैठकों का दौर जारी रहा। इसके बाद हाईकमान ने नाराज नेताओं को मनाने का जिम्मा रुपाणी पर ही छोड़ दिया था। आज जब शपथ ग्रहण हुआ तो नाराजगी जताने वाले सभी को कैबिनेट से बाहर कर दिया गया।

खबरें और भी हैं...