• Hindi News
  • National
  • Gujarat CM Vijay Rupani Resignation LIVE Update | Gujarat New CM Race Candidates | Mansukh Mandaviya, Parshottam Rupala Nitin Patel And Gujarat BJP President CR Patil

गुजरात सरकार में बड़ा बदलाव:रुपाणी के इस्तीफे के बाद भाजपा आज चुनेगी नया नेता, सभी विधायकों को अहमदाबाद बुलाया गया

3 महीने पहले

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने चुनाव से एक साल पहले अचानक पद से इस्तीफा दे दिया। नया नेता चुनने के लिए भाजपा ने गांधीनगर में आज को विधायक दल की बैठक बुलाई है। इस मीटिंग से पहले गृह मंत्री अमित शाह अहमदाबाद पहुंचेंगे। इधर, पार्टी विधायकों को भी अहमदाबाद पहुंचने के निर्देश दिए गए हैं।

नए CM की रेस में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया, केंद्रीय मत्स्य एवं पशुपालन मंत्री पुरुषोत्तम रुपाला, गुजरात के उप-मुख्यमंत्री नितिन पटेल और गुजरात भाजपा के अध्यक्ष सीआर पाटिल के नाम शामिल हैं। इनमें मांडविया सबसे आगे बताए जा रहे हैं। शनिवार दोपहर को मनसुख मांडविया और नितिन पटेल गांधीनगर में BJP कार्यालय पहुंचे।

पढ़िए... रुपाणी को हटाने के 5 कारण; रावत, सोनोवाल और येदियुरप्पा को भी हटा चुकी है BJP

मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद विजय रुपाणी ने मीडिया से बातचीत में कहा कि अब जो भी नई जिम्मेदारी मिलेगी उसका निर्वहन करूंगा।
मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद विजय रुपाणी ने मीडिया से बातचीत में कहा कि अब जो भी नई जिम्मेदारी मिलेगी उसका निर्वहन करूंगा।

रुपाणी बोले- मैंने अपनी जिम्मेदारी पूरी की
मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा कि पार्टी में समय के साथ दायित्व बदलते रहते हैं। भाजपा में यह स्वाभाविक प्रक्रिया है। मुझे 5 साल के लिए मुख्यमंत्री की जिम्मेदारी मिली, जो मैंने पूरी की है। अब नई लीडरशिप में गुजरात का विकास जारी रहना चाहिए।

माना जा रहा है कि इस बदलाव के पीछे अगले साल होने वाला विधानसभा चुनाव है। मुख्यमंत्री बदलने से जनता की नाराजगी को कम किया जा सकेगा और कुछ उम्मीदें जागेंगी। इससे अगला चुनाव जीतने में मदद मिलेगी।

पढ़िए... गुजरात में BJP की 10 महीने पहले चुनाव कराने की तैयारी

कांग्रेस बोली- दिल्ली के रिमोट कंट्रोल से चल रही गुजरात सरकार
रुपाणी के इस्तीफे पर गुजरात कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष और पाटीदार नेता हार्दिक पटेल ने कहा है कि गुजरात सरकार को दिल्ली के रिमोट कंट्रोल से चलाया जा रहा है। कोरोना में अव्यवस्था और नाकामी की वजह से लोगों में नाराजगी थी। ऐसे में भाजपा CM बदलकर लोगों को गुमराह कर रही है। उसने उत्तराखंड में भी यही किया है।

पढ़िए... क्यों गुजरात में मोदी के अलावा BJP का कोई CM 5 साल का कार्यकाल पूरा नहीं कर सका

रुपाणी ने कहा- 2022 का चुनाव मोदी जी की अगुआई में लड़ेंगे
रुपाणी ने कहा कि जेपी नड्‌डा जी का भी मार्गदर्शन मेरे लिए अभूतपूर्व रहा है। अब मुझे जो भी जिम्मेदारी मिलेगी मैं उसका निर्वहन करूंगा। हम पद नहीं जिम्मेदारी कहते हैं। मुझे जो जिम्मेदारी मिली थी वह मैंने पूरी की है। हम प्रदेश के चुनाव नरेंद्र मोदी जी की अगुआई में लड़ते हैं और 2022 का चुनाव भी उन्हीं की अगुआई में लड़ा जाएगा।

बता दें रुपाणी ने 26 दिसंबर 2017 को दूसरी बार गुजरात के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी। भाजपा ने गुजरात में 2017 के चुनाव में 182 सीटों में से 99 सीटें जीतकर बहुमत हासिल किया था। फिर रुपाणी विधायक दल के नेता और नितिन पटेल उपनेता चुने गए थे। रुपाणी फिलहाल राजकोट (पश्चिम) सीट से विधायक हैं।

पढ़िए... रुपाणी के इस्तीफे में छिपी BJP की बेचैनी; गुजरात में पिछले 3 चुनाव से दरक रही जमीन

राजभवन में राज्यपाल आचार्य देवव्रत को इस्तीफा सौंपते हुए विजय रुपाणी।
राजभवन में राज्यपाल आचार्य देवव्रत को इस्तीफा सौंपते हुए विजय रुपाणी।

बीते कुछ दिनों से चल रही थीं नेतृत्व परिवर्तन की अटकलें
बीते कुछ दिनों से गुजरात सरकार में नेतृत्व परिवर्तन की अटकलें लग रही थीं। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह गुरुवार रात करीब 8 बजे अचानक अहमदाबाद पहुंचे थे। उनके गुजरात आने का कोई तय शेड्यूल नहीं था। एयरपोर्ट पर अमित शाह का स्वागत करने राज्य गृहमंत्री प्रदीप सिंह जाडेजा, मेयर किरीट परमार और स्टैंडिंग कमेटी के चेयरमैन हितेश बारोट पहुंचे थे।

हालांकि गुरुवार रात को अमित शाह अपनी बहन के घर पहुंचे थे तो लगा कि पारिवारिक काम से आए होंगे, लेकिन अब लग रहा है कि शायद सत्ता में बदलाव के सिलसिले में ही वे गुजरात पहुंचे होंगे।

विजय रुपाणी (बाएं से दूसरे) इस्तीफा देने राजभवन पहुंचे तो उनके साथ गुजरात भाजपा के नेताओं के साथ पार्टी के केंद्रीय नेता भी मौजूद थे।
विजय रुपाणी (बाएं से दूसरे) इस्तीफा देने राजभवन पहुंचे तो उनके साथ गुजरात भाजपा के नेताओं के साथ पार्टी के केंद्रीय नेता भी मौजूद थे।

3 घंटे पहले मोदी के कार्यक्रम में शामिल हुए थे रुपाणी
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज 11 बजे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए अहमदाबाद में सरदारधाम भवन का उद्घाटन किया था। करीब एक घंटे चले इस कार्यक्रम में विजय रुपाणी भी शामिल हुए थे, लेकिन दोपहर बाद करीब 3 बजे रुपाणी ने अचानक इस्तीफे का ऐलान कर सबको चौंका दिया।

रुपाणी ने सुबह 10.57 बजे ट्वीट कर दी थी मोदी के कार्यक्रम की जानकारी।
रुपाणी ने सुबह 10.57 बजे ट्वीट कर दी थी मोदी के कार्यक्रम की जानकारी।

3 महीने में भाजपा शासित राज्यों में 4 मुख्यमंत्री बदले
विजय रुपाणी भाजपा शासित राज्यों में इस्तीफा देने वाले 3 महीने में चौथे मुख्यमंत्री बन गए है। जुलाई में कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा को बदला गया था। फिर जुलाई में ही उत्तराखंड में दो बार मुख्यमंत्री बदले गए। पहले त्रिवेंद्र रावत की जगह तीरथ सिंह को और फिर उनकी जगह पुष्कर सिंह धामी को कमान सौंप दी गई।