पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • National
  • Gujarat Municipal Election Result 2021 LIVE Update | Ahmedabad Surat Vadodara Rajkot Jamnagar Nagar Palika Chunav Parinam Latest News

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

गुजरात में AAP का उदय, ओवैसी की एंट्री:6 नगर निकायों में भाजपा को 576 में से 483 सीटें मिलीं, कांग्रेस सिर्फ 8% सीटें जीत पाई

अहमदाबाद7 दिन पहलेलेखक: मयंक व्यास
  • कॉपी लिंक

गुजरात के 6 महानगर पालिका (मनपा) चुनावों में एक बार फिर भाजपा का परचम लहराया है। मंगलवार को काउंटिंग पूरी होने पर सभी 6 मनपा यानी अहमदाबाद, सूरत, राजकोट, वडोदरा, जामनगर और भावनगर में भाजपा को बहुमत मिला। भाजपा ने इन शहरो में 483 यानी 85% और कांग्रेस ने 46 यानी 8% सीटें जीतीं, लेकिन चौंकाने वाले नतीजे अहमदाबाद और सूरत से आए। अहमदाबाद में ओवैसी की पार्टी AIMIM के 7 पार्षद चुने गए। वहीं, सूरत में पहली बार आम आदमी पार्टी के 27 पार्षद जीतकर आए।

सूरत में कांग्रेस का सूपड़ा साफ, उलटा पड़ा पाटीदार कार्ड

  • कांग्रेस को सूरत में जबर्दस्त झटका लगा है। यहां पाटीदार कार्ड खेलने के बावजूद सूरत मनपा से पार्टी का सूपड़ा साफ हो गया है। सूरत की 120 सीटों में से भाजपा ने 97 पर जीत दर्ज की। वहीं, 27 सीटें जीतकर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की पार्टी ने गुजरात में अपनी एंट्री दर्ज कराई है। गुजरात की 6 मनपा की कुल 576 सीटों पर 21 फरवरी को वोट डाले गए थे।
  • सूरत में कांग्रेस ने पाटीदार वोट बैंक को साधने के लिए हार्दिक पटेल को प्रदेश कांग्रेस का कार्यकारी प्रमुख बनाया था। लेकिन, पाटीदार आरक्षण समिति के नेता हार्दिक के कांग्रेस ज्वाइन करते ही पाटीदारों में फूट पड़ गई। कांग्रेस ने जिन पाटीदार नेताओं को टिकट नहीं दिया, उन्होंने आम आदमी पार्टी के टिकट से चुनाव लड़ा और कांग्रेस का हार्दिक फॉर्मूला नाकाम कर दिया।
  • पिछले चुनाव में भाजपा को सूरत मनपा की 80 सीटें मिली थीं, जो अब बढ़कर 97 हो गई हैं। वहीं, कांग्रेस ने 36 सीटें जीती थीं। यहां कांग्रेस की ऐसी हालत 1995 में भी हुई थी। उस दौरान हार का कारण 1992 में हुए बाबरी विध्वंस को माना गया था। उस चुनाव में भी कांग्रेस के सारे उम्मीदवार चुनाव हार गए थे। वहीं, 50 कांग्रेसी कैंडिडेट ऐसे थे, जिनकी जमानत जब्त हो गई थी। करीब 26 साल बाद कांग्रेस का सूरत मनपा से नामो-निशान मिट गया है।

6 नगर निगम में कुल 2,276 उम्मीदवार, सबसे ज्यादा भाजपा के
भाजपा और कांग्रेस ने राज्य में आगामी विधानसभा चुनाव को देखते हुए इस चुनाव को ज्यादा अहमियत दी थी। मुख्यमंत्री विजय रूपाणी के अलावा केंद्रीय मंत्रियों ने भी प्रचार में कोई कमी नहीं छोड़ी थी। भाजपा ने चुनाव में सबसे ज्यादा कैंडीडेट उतारे थे।

  • भाजपा- 577
  • कांग्रेस- 566
  • आप- 470
  • राकांपा- 91
  • अन्य पार्टियां- 353
  • निर्दलीय- 228

मोदी-शाह ने जनता का आभार जताया
गुजरात में भाजपा के शानदार प्रदर्शन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि चुनाव परिणाम साफ तौर पर विकास और सुशासन की राजनीति के प्रति लोगों के अटूट विश्वास को दिखाते हैं। भाजपा पर फिर से भरोसा करने के लिए राज्य की जनता का आभारी हूं।गृह मंत्री अमित शाह ने कहा, 'नतीजों से एक बात साबित हुई है कि गुजरात हमारी पार्टी का गढ़ है। भाजपा ने यहां 85% सीटों पर जीत हासिल की है। पूरे गुजरात में सिर्फ 44 सीटें ही कांग्रेस को मिल पाई है।

केजरीवाल बोले- विधानसभा चुनाव भाजपा और AAP के बीच
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि गुजरात के लोगों ने काम की राजनीति को वोट दिया है। लोग भाजपा और कांग्रेस की राजनीति से त्रस्त थे। लोगों को एक विकल्प चाहिए था और आम आदमी पार्टी के रूप में उनको यह विकल्प मिला है। अब आने वाला चुनाव सिर्फ आम आदमी पार्टी और भाजपा के बीच होगा।

जिला-तालुका पंचायतों में भी होने हैं चुनाव
अगले रविवार यानी 28 फरवरी को गुजरात में 31 जिला, 231 तालुका पंचायत और 81 नगर पालिकाओं में चुनाव होंगे।

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आपकी सकारात्मक और संतुलित सोच द्वारा कुछ समय से चल रही परेशानियों का हल निकलेगा। आप एक नई ऊर्जा के साथ अपने कार्यों के प्रति ध्यान केंद्रित कर पाएंगे। अगर किसी कोर्ट केस संबंधी कार्यवाही चल र...

और पढ़ें