• Hindi News
  • National
  • Gujarat Sex Trafficking And Drugs Case Udpate; MBA MSc Girls Including 48 Rescue In Ahmedabad

ड्रग्स के बदले जिस्म का सौदा:अहमदाबाद में बड़े घरों की 48 लड़कियां नशे के जाल से निकाली गईं, ड्रग्स पैडलर्स उन्हें होटलों में भेजने लगे थे

6 महीने पहले
  • MBA और MSc करने वाली लड़कियां नशे के चंगुल में फंसीं
  • ड्रग्स के लिए पैसा नहीं मिला तो होटलों में जिस्मफरोशी के लिए गईं

गुजरात पुलिस ने नशे की आदी हो रही युवा पीढ़ी को सही राह पर ले जाने का बीड़ा उठाया है। अहमदाबाद पुलिस ने इसकी शुरुआत की। ड्रग्स के चक्रव्यूह से 48 लड़कियों को बाहर निकाला गया। इनसे चौंकाने वाली जानकारी सामने आई है। ज्यादातर लड़कियां बड़े घरों की हैं और काफी पढ़ी-लिखी भी। नशे की आदत ने उन्हें जिस्मफरोशी तक के लिए मजबूर कर दिया। ऐसी ही एक लड़की ने भास्कर को बताया कि किस तरह से वह ड्रग्स के दलदल में उतरी और इसमें धंसती चली गई। पढ़िए ऐसी ही लड़कियों की दो कहानियां...

पहली कहानी- शादी के बाद भी ड्रग पैडलर का पीछा नहीं छूटा
अहमदाबाद के होटल मार्वल में पुलिस ने जुलाई 2020 में छापा मारा। यहां 20 साल की लड़की मिली थी, जिसकी शादी हो गई थी। पुलिस ने बताया कि वह अच्छे घर की लड़की थी। उसने बताया कि ड्रग्स डीलर पहले तो पैसेवाले घरों की लड़कियों को नशे के जाल में फंसाते हैं। इसके बाद जब वो लड़की बुरी तरह नशे की आदी हो जाती है तो उसे पैसों के लिए जिस्म बेचने पर भी मजबूर करते हैं।

यह लड़की अपने हाथ पुलिसवालों से छिपाने की कोशिश कर रही थी। दरअसल, नशे के इंजेक्शन लेने से उसके हाथों और शरीर के अन्य हिस्सों पर निशान पड़ गए थे और यही निशान छिपाने की वह कोशिश कर रही थी। उसने पुलिस से अंग्रेजी में बात की और अपनी बातें सामने रखीं। बताया कि वह एक नामी साइंस कॉलेज में पढ़ रही है, लेकिन नशे की लत की वजह से यहां तक पहुंच गई।

उसने बताया कि कुछ समय पहले एक दोस्त के साथ पार्टी में गई थी, जहां अजनबी लड़के भी आ रहे थे। इस हाई प्रोफाइल पार्टी में नशा एक स्टेटस सिंबल था। साथ की लड़कियां ऐसा कर रही थीं तो उसने भी यह कदम उठा लिया। बाद में ड्रग्स डीलर के संपर्क में आई और पूरी पॉकेटमनी ड्रग्स पर खर्च करने लगी। कोरोना में पिता का कारोबार ठप हो गया तो पॉकेटमनी भी बंद हो गई। डीलर ने शुरुआत में तो फ्री में डोज दी पर बाद में उसने ऐसा करना बंद कर दिया।

लड़की ने बताया कि उसने ड्रग्स डीलर से ड्रग्स मांगी और बताया कि पैसे भी नहीं हैं। इसके बाद डीलर ने कहा कि एक घंटे के लिए होटल में जाओ और जो कुछ भी कहा जाए, सब करो। ड्रग पैडलर उसे ड्रग्स का डोज देने से पहले होटल ले जाता था और उससे जिस्मफरोशी कराता था। जब लड़की के परिवार को इसका पता चला तो उन्होंने उसकी शादी करा दी, लेकिन शादी के बाद भी वह ड्रग्स पैडलर के लिए काम करती रही।

दूसरी कहानी- पैसों के लिए गिड़गिड़ाई तो होटल पहुंचा दिया
अहमदाबाद की एक जानी-मानी कंपनी के मालिक की बेटी को ड्रग्स की लत लग गई। शुरू में तो परेशानी नहीं हुई, पर नशा करते-करते उसे पैसों की किल्लत होने लगी। ड्रग्स डीलर ने जब बिना पैसों के ड्रग्स देने से इनकार कर दिया तो वह उसके सामने गिड़गिड़ाने तक लगी। इसके बाद ड्रग्स डीलर ने ही उसे जिस्मफरोशी के बाजार में उतार दिया। पैसों के लिए उसे होटलों में भेजने लगा।

पुलिस ने उठाया लड़कियों को सुधारने का बीड़ा
इन लड़कियों का सच सामने आने के बाद अहमदाबाद पुलिस ने एक धार्मिक संप्रदाय की मदद से लड़कियों की मदद और उनका इलाज शुरू किया। ऐसी करीब 48 लड़कियों को अब तक पुलिस नशे के चंगुल से मुक्त करा चुकी है। अहमदाबाद पुलिस अब इस ड्रग्स के कारोबार की जड़ तक पहुंचने की कोशिश कर रही है। इसके एक्शन प्लान को लेकर गुजरात पुलिस के अधिकारियों से भी चर्चा की जा चुकी है।

अहमदाबाद के DCP चौहान ने भास्कर को बताया कि इन लड़कियों ने अपना जीवन सुधारने के लिए कोशिश की और कामयाबी भी मिली। अगर कोई और लड़की भी मदद चाहती है तो वह पुलिस से संपर्क करे और उसकी पहचान जाहिर किए बिना मदद की जाएगी।

खबरें और भी हैं...