• Hindi News
  • National
  • Gujarat Surat Packaging Factory Fire Two Persons Dead 125 People Rescued

सूरत की पैकेजिंग फैक्ट्री में भीषण आग:2 मजदूरों की मौत, 145 बचाए गए; 5वीं मंजिल से कूदे कई मजदूर

अहमदाबाद3 महीने पहले

गुजरात में सूरत के कडोडोरा GIDC में आज तड़के में एक पैकेजिंग फैक्ट्री में आग लग गई। घटना में 2 मजदूरों की मौत हो गई। 145 लोगों को सुरक्षित बचाया गया है। आग से बचने के लिए कई मजदूर पांच मंजिला इमारत से कूद गए, जिससे कुछ के घायल होने की भी खबर है।

सूरत फायर ब्रिगेड ने बताया कि उन्हें हादसे की जानकारी सुबह 4.30 बजे मिली। इसके तुरंत बाद फायर ब्रिगेड की 10 गाड़ियां मौके पर पहुंचीं और दमकलकर्मी बचाव कार्य में जुट गए। उन्हें आग पर काबू पाने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ी। करीब साढ़े तीन घंटे के बाद आग पर काबू पाया जा सका।

आग से बचने के लिए कई मजदूर इमारत की छत पर चले गए थे। इन्हें हाइड्रोलिक क्रेन से नीचे उतारा गया।
आग से बचने के लिए कई मजदूर इमारत की छत पर चले गए थे। इन्हें हाइड्रोलिक क्रेन से नीचे उतारा गया।

15 मजदूर अस्पताल में भर्ती
108 एंबुलेंस के EME निकेश लिखर ने बताया कि 20 कर्मचारी जल गए। 15 लोगों को सूरत के अस्पताल में भर्ती कराया गया है। सुबह से पुणे, वराछा, गोदादरा, लिंबायत, नवगाम और सूरत के 108 एंबुलेंस के कर्मचारी मरीजों को अस्पताल पहुंचाने में लगे हुए हैं।

पुलिसकर्मी और फायर ब्रिगेड के कर्मचारी राहत और बचाव कार्य के लिए घटनास्थल पर पहुंचे।
पुलिसकर्मी और फायर ब्रिगेड के कर्मचारी राहत और बचाव कार्य के लिए घटनास्थल पर पहुंचे।

हादसे की जांच शुरू
आग लगने की वजह फिलहाल पता नहीं चल पाई है। पुलिस ने घटना की जांच शुरू कर दी है। पुलिस अधिकारी ने बताया कि जब आग लगी तो कई मजदूर पांचवीं मंजिल पर काम कर रहे थे। आग की लपटें उठते देख मजदूर डर गए और जान बचाने के लिए वहीं से कूद गए।

दमकलकर्मियों ने श्रमिकों को बचाने के लिए 2 हाइड्रोलिक क्रेन का इस्तेमाल किया।
दमकलकर्मियों ने श्रमिकों को बचाने के लिए 2 हाइड्रोलिक क्रेन का इस्तेमाल किया।

बचाव कार्य में काफी मशक्कत करनी पड़ी
SDM के.जी. वाघेला ने बताया कि हादसे के समय इमारत में 100 से ज्यादा लोग थे। दमकल विभाग के कर्मचारियों ने लोगों को बचाने के लिए कड़ी मेहनत की। सूरत की मेयर हिमाली बोगावाला ने कहा, "मुझे सुबह करीब साढ़े पांच बजे आग लगने की खबर मिली और मैं तुरंत मौके पर पहुंची। राहत और बचाव का कार्य जारी है।"

आग इतनी भयानक थी कि कुछ ही समय में बिल्डिंग के कई हिस्सों तक फैल गई।
आग इतनी भयानक थी कि कुछ ही समय में बिल्डिंग के कई हिस्सों तक फैल गई।

अप्रैल में भरूच के अस्पताल में आग लगने से 18 मरे थे
इसी साल अप्रैल में गुजरात के भरूच में पटेल वेलफेयर कोविड अस्पताल में भीषण आग लग गई थी। हादसे में 18 लोगों की मौत हुई थी। इनमें 16 मरीज और 2 स्टाफ नर्स थे। इस चार मंजिला अस्पताल में 50 मरीज और भर्ती थे। सभी को सिविल अस्पताल, सेवाश्रम अस्पताल और जंबुसर अल महमूद अस्पतालों में शिफ्ट किया गया था।

खबरें और भी हैं...