पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • HAL Employee Arrested By Maharashtra Anti Terrorism Squad For Supplying Fighter Jet Details To Pakistan ISI

जासूसी करने वाला एचएएल कर्मचारी गिरफ्तार:वाट्सऐप और सोशल मीडिया के जरिए आईएसआई के संपर्क में था, लड़ाकू विमानों से जुड़ी कई खुफिया जानकारी देश से बाहर पहुंचाई

मुंबई9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
एटीएस अफसरों के मुताबिक, जासूसी के आरोप में गिरफ्तार दीपक शिरसाट नासिक के ओझर स्थित एचएएल के एयरक्राफ्ट डिविजन में क्वालिटी कंट्रोल से जुड़ा काम करता था।- फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
एटीएस अफसरों के मुताबिक, जासूसी के आरोप में गिरफ्तार दीपक शिरसाट नासिक के ओझर स्थित एचएएल के एयरक्राफ्ट डिविजन में क्वालिटी कंट्रोल से जुड़ा काम करता था।- फाइल फोटो
  • गिरफ्तार आरोपी की पहचान नासिक के ओझर स्थित एचएएल प्लांट में काम करने वाले दीपक शिरसाट के तौर पर हुई है
  • गिरफ्तार एचएल कर्मचारी के पास से तीन मोबाइल, पांच सिमकार्ड और दो मेमोरी कार्ड जब्त किए गए हैं

महाराष्ट्र एंटी टेररिस्ट स्कवाड ( एटीएस) ने पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई के लिए जासूसी करने वाले हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) के कर्मचारी को गिरफ्तार किया है। उसकी पहचान 41 साल के दीपक शिरसाट के तौर पर हुई है।

वह वाट्सऐप और सोशल मीडिया के जरिए आईएसआई के संपर्क में था। उसने भारतीय लड़ाकू विमानों और उन्हें तैयार करने से जुड़ी खुफिया जानकारी पाकिस्तान भेजी थी। तीन दिन पहले उसे पुलिस हिरासत में लिया गया था। हालांकि, एटीएस के एडिशनल डीजी देवेन भारती ने शुक्रवार को इसकी जानकारी दी।

एटीएस अफसरों के मुताबिक, शिरसाट नासिक के ओझर स्थित एचएएल के एयरक्राफ्ट डिविजन में क्वालिटी कंट्रोल से जुड़ा काम करता था। एचएल के ओझर प्लांट में मिग और सुखोई लड़ाकू विमानों के अलग-अलग वेरिएंट तैयार किए जाते हैं।

पिछले कुछ दिनों से सुरक्षा एजेंसियों के रडार पर था
शिरसाट ने कुछ दिनों पहले एक विदेशी व्यक्ति से मुलाकात की थी। पुलिस और सुरक्षा एजेंसियों को इसकी जानकारी मिली। इसके बाद से ही वह सुरक्षा एजेंसियों के रडार पर था। उसके पास तीन मोबाइल, पांच सिमकार्ड और दो मेमोरी कार्ड जब्त किए गए हैं।

पूछताछ में उसने आईएसआई से संपर्क में होने की बात कबूल की है। उसने लड़ाकू विमान तैयार करने वाली सुविधा से जुड़े कई दस्तावेज, तस्वीरें और कुछ नक्शे आईएसआई को दिया था। वह देश की रक्षा सुविधाओं के बारे में अहम जानकारियां जुटा रहा था।

खबरें और भी हैं...