• Hindi News
  • National
  • Hanuman's Birth Anniversary Procession Was Stopped Near Jama Masjid, There Was A Ruckus After The Debate

दिल्ली पुलिस की FIR में हिंसा की कहानी:जामा मस्जिद के पास रोकी गई थी हनुमान जन्मोत्सव की शोभायात्रा, बहस के बाद हुआ बवाल

नई दिल्ली2 महीने पहले

जहांगीरपुरी में हनुमान जन्मोत्सव की शोभायात्रा पर हुए हमले की FIR पुलिस ने दर्ज की है। थाने के पुलिस अधिकारी राजीव रंजन सिंह ने FIR में जो कहानी बताई है, उसके अनुसार जामा मस्जिद के पास शोभायात्रा पहुंचते ही कुछ लोगों ने बहस शुरू कर दी थी। बहस इतनी बढ़ी कि देखते-ही-देखते पथराव शुरू हो गया, जिसके बाद हिंसा भड़क गई।

FIR में दर्ज पूरी कहानी पढ़ने से पहले पोल में हिस्सा लेकर अपनी राय दीजिए...

बहस के बाद शुरू हुआ पथराव
FIR में बताया गया है- थाना जहांगीरपुरी के इलाके में हनुमान जन्मोत्सव की शोभा यात्रा निकाली जा रही थी। शनिवार शाम 04:15 PM पर शोभायात्रा जहांगीरपुरी से शुरू हुई, जो BJRM हॉस्पिटल रोड, BC मार्केट, कुशल चौक होते हुए महेंद्र पार्क पर समाप्त होनी थी। शोभायात्रा शांतिपूर्वक तरीके से चल रही थी।

शाम करीब 6 बजे जैसे ही शोभायात्रा जामा मस्जिद के पास पहुंची तो अंसार नाम का एक शख्स अपने 4-5 साथियों के साथ आया और शोभायात्रा में शामिल लोगों से बहस करने लग गया। बहस ज्यादा बढ़ने के कारण दोनों पक्षों में पथराव शुरू हो गया, जिसके कारण शोभायात्रा में भगदड़ मच गई।

पुलिस समझाती रही, लोग पत्थर फेंकते रहे
हंगामे की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और पथराव रोकने और शांति बनाए रखने की अपील करते हुए दोनों पक्षों को समझा-बुझाकर अलग अलग कर दिया। कुछ ही मिनट के बाद दोनों पक्षों की ओर से अचानक फिर से नारेबाजी और पथराव शुरू हो गया। हालात बिगड़ते देख और पुलिस फोर्स बुलाया गया।

आंसू गैस के गोले छोड़कर हालात काबू किए
पुलिस की लगातार अपील के बाद भी एक पक्ष लगातार पत्थरबाजी करता रहा। हालात को काबू करने के लिए पुलिस ने 40-50 आंसू गैस के गोले दागे ताकि भीड़ को तितर-बितर किया जा सके। भीड़ की ओर से पुलिस पर फायरिंग और पथराव किया गया। थाना जहांगीरपुरी के SI मेदालाल के बाएं हाथ में गोली लगी। पथराव में 6-7 पुलिसकर्मियों व एक नागरिक को गंभीर चोटें आई हैं।

उपद्रव कर रहे लोगों ने एक स्कूटी में आग लगा दी और 4-5 गाड़ियों में तोड़-फोड़ कर दी। उपद्रवियों ने शोभायात्रा पर हमला तो किया ही, साथ ही प्राइवेट प्रॉपर्टी भी जला दी। FIR दर्ज कराने वाले सब इंस्पेक्टर राजीव रंजन ने बताया कि बवाल में उन्हें भी चोट आई है।

मौके पर पत्थर, बोतलें और क्षतिग्रस्त वाहन मिले
जांच अधिकारी जहांगीरपुरी थाने के सब इंस्पेक्टर राजेश ने बताया कि जब वह मौके पर पहुंचे तो वहां पत्थर, टूटी हुई बोतलें, क्षतिग्रस्त वाहन पड़े थे। लोगों से पूछताछ में पता चला है कि बवाल में कई लोग घायल हुए, जो अपना इलाज प्राइवेट अस्पतालों में करा रहे हैं।

ये भी पढ़ें