पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Corona Vaccine Haryana News | A Company In Malta Show Interest To Supply Up To 60 Million Doses Of The Russian Vaccine Sputnik V

हरियाणा सरकार का दावा:माल्टा की फार्मा कंपनी स्पुतनिक V के 6 करोड़ डोज देने को तैयार, एक डोज की कीमत 1120 रुपए होगी

चंडीगढ़2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

माल्टा की एक कंपनी ने रूसी वैक्सीन स्पुतनिक V के 6 करोड़ डोज सीधे हरियाणा को सप्लाई करने में दिलचस्पी दिखाई है। राज्य सरकार ने शनिवार को एक बयान में कहा कि फार्मा रेगुलेटरी सर्विसेज लिमिटेड नाम की इस कंपनी का हेडक्वार्टर यूरोप में है। कंपनी ने एक्सप्रेशन ऑफ इंटरेस्ट भेजा है। अब तक कंपनियां राज्यों को वैक्सीन देने से इनकार करती रही हैं।

हरियाणा सरकार के मुताबिक, कंपनी ने वैक्सीन को 1,120 प्रति डोज पर बेचने की पेशकश की है। साथ ही पहले 5 लाख डोज के पहले बैच की सप्लाई के लिए 30 दिन की डेडलाइन दी है। इसके बाद हर 20 दिन में 10 लाख डोज की सप्लाई की जाएगी।

टेंडर की डेट निकलने के बाद कंपनी का प्रस्ताव मिला
हरियाणा मेडिकल सर्विसेज कॉरपोरेशन लिमिटेड (HMSCL) ने 26 मई को 18+ के वैक्सीनेशन के लिए एक करोड़ डोज सप्लाई का ग्लोबल टेंडर जारी किया था। इसमें फार्मा कंपनियों को सीधे वैक्सीन की सप्लाई करने के लिए बुलाया गया था। शुक्रवार को कोई बिड नहीं मिलने के बाद टेंडर बंद कर दिया गया। माल्टा की फर्म ने भी अपना प्रपोजल डेडलाइन खत्म होने के बाद ही भेजा है।

हरियाणा के एडिशनल चीफ सेक्रेटरी ऑफ राजीव अरोड़ा ने बयान में कहा कि कंपनी का ऑफर टेंडर का वक्त खत्म होने के बाद आया है। सरकार सावधानी से इस बात की जांच कर रही है कि यह टेंडर में दी गईं शर्तों को पूरा करता है या नहीं। सरकार बस वैक्सीन की बिना रुकावट सप्लाई चाहती है।

महज 3.5% आबादी को दोनों डोज लगे
हरियाणा में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 723 नए मामले सामने आए हैं। इस दौरान 1,744 लोग डिस्चार्ज हुए और 59 लोगों की मौत हो गई। अब राज्य में एक्टिव केस 9,974 रहे गए हैं। अब तक यहां 7.61 लाख लोग संक्रमित हो चुके हैं। इनमें से 8,664 ने दम तोड़ दिया।

हरियाणा वैक्सीनेशन के मामले में काफी पिछड़ गया है। यहां की आबादी करीब ढाई करोड़ है। यहां अब तक 61.61 लाख डोज ही लगाए जा सके हैं। राज्य की महज 18% आबादी को ही सिंगल डोज लग पाया है। वहीं 3.5 % आबादी को ही दोनों डोज मिल पाए हैं।

भारत में डॉ. रेड्डीज लैबोरेट्रीज कर रही सप्लाई
अभी डॉ. रेड्डीज लैबोरेट्रीज देश में स्पुतनिक-V की डिलीवरी कर रही है। इसके एक डोज की कीमत 995.40 रुपए तय की गई है। डॉ. रेड्डीज के मुताबिक, वह 948 रुपए प्रति डोज की दर से वैक्सीन आयात कर रही है। इस पर 5% की दर से GST लग रहा है। इसके बाद वैक्सीन की कीमत 995.4 रुपए प्रति डोज हो जाती है।

डॉ. रेड्डीज लैबोरेट्रीज रशियन डायरेक्ट इन्वेस्टमेंट फंड (RDIF) की भारतीय पार्टनर है। स्पुतनिक-V का भारत में प्रोडक्शन डॉ. रेड्डीज लैबोरेट्रीज ही करेगी।

कई राज्यों ने टेंडर निकाले, लेकिन वैक्सीन नहीं मिली
दिल्ली में वैक्सीन की कमी को देखते हुए केजरीवाल सरकार ने भी इनकी खरीद के लिए ग्लोबल टेंडर जारी किया है। सरकार वैक्सीन मैन्युफैक्चरिंग कंपनियों से 1 करोड़ डोज खरीदेगी। इसके लिए टेंडर में वैक्सीन सप्लाई के लिए कंपनियां 7 जून तक बिड कर सकते हैं।

इससे पहले महाराष्ट्र की उद्धव सरकार ने 5 करोड़ वैक्सीन डोज के लिए ग्लोबल टेंडर निकाला था। हालांकि, कोरोना वैक्सीन बना रहीं अमेरिका की मॉडर्ना और फाइजर सीधे राज्यों से डील करने से इनकार कर चुकी हैं। यूपी सरकार ने 5 करोड़ डोज के लिए ग्लोबल टेंडर निकाला था। इसमें ज्यादा से ज्यादा कंपनियां शामिल हो सकें, इसलिए नियमों ढील दी गई। इसके बावजूद फायदा नहीं हुआ।

कंपनियों ने राज्यों के आवेदनों पर गौर ही नहीं किया
अमेरिकी कंपनी मॉडर्ना ने पंजाब को वैक्सीन देने से इनकार कर दिया। वहीं, फाइजर ने दिल्ली सरकार को कहा कि वह केंद्र सरकार को ही वैक्सीन देगी। इस बीच भास्कर ने अमेरिकी वैक्सीन निर्माता फाइजर और मॉडर्ना से संपर्क किया। उनका कहना था कि हमने भारतीय राज्यों के आवेदनों पर गौर ही नहीं किया।

ज्यादातर राज्यों ने कंपनियों को सप्लाई के लिए 3-6 महीने की डेडलाइन दी है, लेकिन वैश्विक मांग को देखते हुए जनवरी से पहले हम टीका देने की स्थिति में नहीं हैं।

खबरें और भी हैं...