राहुल गांधी ने केरल के वायनाड में किया रोड शो:अपने ऑफिस का भी किया दौरा, यहां 24 जून को हुई थी तोड़फोड़

तिरुवनंतपुरमएक महीने पहले

राहुल गांधी ने शुक्रवार को वायनाड में रोड शो किया है। राहुल अपने ऑफिस भी गए, जहां 24 जून को कथित तौर पर स्टूडेंट फेडरेशन ऑफ इंडिया (SFI) के कार्यकर्ताओं ने तोड़फोड़ की थी। राहुल ने पार्टी नेताओं के साथ कार्यालय में हुए नुकसान का जायजा लिया।

कन्नूर इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर पहुंचने पर पार्टी नेताओं ने राहुल गांधी का स्वागत किया।
कन्नूर इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर पहुंचने पर पार्टी नेताओं ने राहुल गांधी का स्वागत किया।

घटना को बताया दुर्भाग्यपूर्ण
राहुल गांधी ने तोड़फोड़ की हुई इस घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताया है। राहुल ने कहा- हिंसा से किसी भी समस्या का समाधान नहीं होता है। ऐसा काम करने वाले लोग गैर जिम्मेदार और बच्चे हैं। मेरी उनसे कोई दुश्मनी नहीं है और मेरे मन में उनके लिए कोई गुस्सा नहीं है।

राहुल गांधी ने अपने ऑफिस का दौरा किया और तोड़फोड़ में हुए नुकसान का जायजा लिया।
राहुल गांधी ने अपने ऑफिस का दौरा किया और तोड़फोड़ में हुए नुकसान का जायजा लिया।

24 जून को राहुल के दफ्तर में हुई थी तोड़फोड़
कांग्रेस सांसद राहुल गांधी के केरल के वायनाड दफ्तर में 24 जून को कुछ लोगों ने तोड़फोड़ की थी। कांग्रेस ने घटना के पीछे स्टूडेंट्स SFI का हाथ होने का आरोप लगाया था। पार्टी ने कहा था कि SFI के गुंडों ने पार्टी कार्यालय में मौजूद स्टॉफ से मारपीट भी की है।

तोड़फोड़ का वीडियो भी सामने आया था, जिसमें दिखाई दे रहा था कि वायनाड में कुछ लोग राहुल गांधी के दफ्तर की खिड़कियों पर चढ़ गए और तोड़फोड़ शुरू कर दी। हाथों में SFI के झंडे लिए कुछ लोग दफ्तर के अंदर तक पहुंच गए थे। वहां इन लोगों ने नारेबाजी भी की थी। पढ़ें पूरी खबर...

सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर राहुल की चुप्पी से नाराज लोग
राहुल केरल के वायनाड से सांसद हैं। हाल ही में सुप्रीम कोर्ट ने संरक्षित क्षेत्रों, वन्यजीव अभ्यारण्यों और राष्ट्रीय उद्यानों के आसपास के एक किलोमीटर इलाके को पर्यावरण-संवेदनशील क्षेत्र (ESZ) क्षेत्र घोषित कर दिया है। इस फैसले से नाराज इन लोगों की मांग है कि राहुल गांधी इस मामले पर अपनी चुप्पी तोड़ें।

3 दिवसीय दौरे पर हैं राहुल

  • राहुल गांधी 3 दिन की यात्रा पर केरल पहुंचे हैं।
  • मनांथावडी में किसान बैंक में एक भवन का उद्घाटन करेंगे।
  • बाथेरी में यूडीएफ बहुजन संगम में भी हिस्सा लेंगे।
  • इसके साथ ही वायनाड में कई कार्यक्रम में भी हिस्सा लेंगे।
राहुल गांधी ने पार्टी नेताओं के साथ मिलकर यूडीएफ विरोध मार्च का नेतृत्व किया है।
राहुल गांधी ने पार्टी नेताओं के साथ मिलकर यूडीएफ विरोध मार्च का नेतृत्व किया है।

4 लाख से ज्यादा वोटों से जीते थे राहुल
वायनाड सीट पर राहुल गांधी ने 4 लाख से ज्यादा वोटों से जीत हासिल की थी। उन्होंने अपने नजदीकी भाकपा प्रत्याशी पी. पी. सुनीर को हराया था। राहुल गांधी को 706367, जबकि पी. पी. सुनीर को 274597 वोट मिले थे। राहुल ने वायनाड और अमेठी से एक साथ चुनाव लड़ा था। वे अमेठी में भाजपा कैंडिडेट स्मृति ईरानी से हार गए थे, जबकि वायनाड से उन्हें जीत मिली थी।