सदन में बिक्रम मजीठिया ने सिद्धू को गद्दार कहा, वहीं सिद्धू ने मजीठिया को डाकू बताया, दोनों को शांत करा रहे थे सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

नेशनल डेस्क। पुलवामा में हुए हमले के बाद आतंकवाद को लेकर बयान देने वाले पंजाब सरकार में कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू के खिलाफ पंजाब विधानसभा में अकाली दल ने जमकर प्रदर्शन किया। पंजाब सरकार में मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू और शिरोमणि अकाली दल के नेता बिक्रम मजीठिया के बीच विधानसभा में तीखी बहस हो गई। हालात ऐसे बिगड़े कि विधान सभा अध्यक्ष ने मार्शल को भाजपा और अकाली विधायकों को सदन से बाहर करने का आदेश सुना डाला। दरअसल, बजट सत्र के तीसरे दिन जैसे ही सदन की कार्यवाही शुरू हुई अकाली दल और भाजपा के विधायकों ने नवजोत सिंह सिद्धू का विरोध करना शुरू कर दिया। थोड़ी ही देर में अकाली विधायक सिद्धू के पाकिस्तान दौरे की तस्वीर सदन में लहराने लगे जिसमें वो पाकिस्तान आर्मी चीफ के साथ गले मिलते हुए दिख रहे थे। सदन में मजीठिया ने सिद्धू को गद्दार कहा, वहीं सिद्धू ने मजीठिया को डाकू बताया। दोनों ही नेताओं ने एक-दूसरे के खिलाफ अपशब्दों का इस्तेमाल किया। हंगामे के बीच पंजाब विधानसभा में बजट भाषण रोक दिया गया। बता दें पुलवामा आतंकी हमले में 40 जवान शहीद हो गए जिसके बाद सिद्धू ने कहा था कि आतंकवाद का कोई देश-धर्म नहीं होता।