• Hindi News
  • National
  • IMD Rainfall Weather Update; Madhya Pradesh Chhattisgarh Karnataka Kerala Idamalayar Dam Gates Opened

इंदौर में एक रात में साढ़े चार इंच बारिश:यूपी में 28 गांव गंगा के पानी में घिरे, छत्तीसगढ़ में NH-163 पर पुल टूटा

2 महीने पहले

लगातार बारिश से मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में हालात खराब हैं। इंदौर में बीती रात साढ़े 4 इंच बारिश हुई, इससे कई इलाकों में इतना ज्यादा पानी भर गया कि कारें तक बह गईं। राजधानी भोपाल में भी 6 घंटे में ढाई इंच बारिश हुई। छत्तीसगढ़ में नेशनल हाईवे 163 पर तुमनार नदी का पुल टूट गया। उधर, UP में गंगा का जलस्तर बढ़ने से 28 गांवों में पानी भर गया।

इधर, कर्नाटक के बेलगावी में भारी बारिश के बाद कई जगह जलभराव से रास्ते बंद हो गए। केरल में मंगलवार को एडमलयार बांध के चार शटर खोलने पड़े। राज्य के बांधों में पिछले साल की तुलना में 20% ज्यादा पानी भर चुका है। देशभर में बारिश का हाल आप इस मैप के जरिए देख सकते हैं…

मध्यप्रदेश: भोपाल में 6 घंटे बारिश से केरवा डैम ओवरफ्लो

केरवा डैम का एक गेट खोला गया है। कैचमेंट एरिया में बारिश होने पर बाकी गेट भी खुल सकते हैं।
केरवा डैम का एक गेट खोला गया है। कैचमेंट एरिया में बारिश होने पर बाकी गेट भी खुल सकते हैं।

मध्यप्रदेश के कई इलाकों में मंगलवार से जोरदार बारिश जारी है। भोपाल में 6 घंटे में ढाई इंच बारिश की वजह से केरवा डैम बुधवार सुबह ओवरफ्लो हो गया। इसके अलावा इंदौर में भी बीती रात साढ़े 4 इंच बारिश हुई। इससे कई इलाकों में घुटनों तक पानी भर गया। तेज बारिश की वजह से यशवंत सागर के दो गेट खोलने पड़े।

नर्मदापुरम में तवा डैम के 13 और रायसेन जिले के बाड़ी स्थित बारना डैम के 8 गेट भी मंगलवार रात को खोल दिए गए। इससे नर्मदा नदी का जलस्तर लगातार बढ़ रहा है और घाटों पर अलर्ट जारी किया गया है। अगले दो दिन प्रदेश में भारी बारिश का अनुमान है।

उत्तर प्रदेश: गंगा का जलस्तर खतरे के निशान के करीब

UP के फर्रुखाबाद में सरकारी स्कूल में गंगा का पानी भर गया। यहां 28 गांव भी बाढ़ के पानी में घिरे हुए हैं।
UP के फर्रुखाबाद में सरकारी स्कूल में गंगा का पानी भर गया। यहां 28 गांव भी बाढ़ के पानी में घिरे हुए हैं।

पहाड़ों पर हो रही बारिश के चलते गंगा का जलस्तर बढ़ता जा रहा है। तीन दिन में बिजनौर में बने गंगा बैराज से करीब 3 लाख क्यूसेक पानी छोड़ा जा चुका है। इससे यूपी के 7 जिलों में गंगा से सटे क्षेत्रों में बाढ़ जैसे हालात हैं। बिजनौर, कासगंज, अमरोहा, बुलंदशहर, अलीगढ़, फर्रुखाबाद, कन्नौज में गंगा का जलस्तर खतरे के निशान के करीब है।

फर्रुखाबाद में 28 गांवों में बाढ़ का पानी पहुंच गया है। इससे 22 गांव बाढ़ के खतरे में हैं। कुछ स्कूल भी डूब गए। वहीं बुलंदशहर में 10 करोड़ से बना एक बंधा टूट गया है।

महाराष्ट्र: तेलंगाना के रास्ते पर पोडसा पुल डूबा

महाराष्ट्र में पिछले 3 दिन से भारी बारिश जारी है। महाराष्ट्र और तेलंगाना के बीच पोडसा पुल पानी में डूबने से दोनों राज्यों के बीच संपर्क टूट गया है। चंद्रपुर-गढ़चिरौली को जोड़ने वाला आष्टी पुल भी पानी में डूब गया, जिससे कई गांवों का संपर्क टूट गया है। वहीं कोल्हापुर क्षेत्र में बांध ओवरफ्लो हो गए हैं। बुधवार को अमरावती में बाढ़ में एक ट्रेक्टर बह गया, इसमें तीन लोग सवार थे।

छत्तीसगढ़: भारी बारिश के कारण ऑरेंज अलर्ट जारी

छत्तीसगढ़ में नेशनल हाईवे 163 पर तुमनार नदी का पुल टूट गया। रायपुर, दुर्ग और बस्तर में भारी बारिश का अलर्ट है।
छत्तीसगढ़ में नेशनल हाईवे 163 पर तुमनार नदी का पुल टूट गया। रायपुर, दुर्ग और बस्तर में भारी बारिश का अलर्ट है।

छत्तीसगढ़ में भारी बारिश का नया ऑरेंज अलर्ट जारी हुआ है। मौसम विभाग के मुताबिक अगले 24 घंटों में रायपुर, दुर्ग और बस्तर संभाग के कई जिलों में भारी से अति भारी वर्षा हो सकती है। कई जगह आकाशीय बिजली गिरने की भी संभावना है। वहीं बिलासपुर के जांजगीर-चांपा में भारी वर्षा और वज्रपात का यलो अलर्ट जारी किया गया है। तेज बारिश से राजनांदगांव मेडिकल कॉलेज अस्पताल में पानी घुस गया।

वहीं नेशनल हाईवे 163 से होकर गुजरने वाली तुमनार नदी के पानी से पुल टूट गया। एप्रोच सड़क उखड़ गई, जिससे सड़क और पुल के बीच करीब 10 फीट लंबा और 5 फीट गहरा गड्ढा हो गया। पिछले 9 दिनों की बारिश ने चार साल का रिकॉर्ड तोड़ा दिया है। वहीं बीजापुर जिले में बाढ़ जैसे हालात से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है।

राजस्थान: उदयपुर में लगातार बारिश से नदी-नाले उफान पर

उदयपुर में नाले उफान पर आने से कई लोग बह गए, बाढ़ में घिरी एक महिला को बचाते हुए गांव के लोग।
उदयपुर में नाले उफान पर आने से कई लोग बह गए, बाढ़ में घिरी एक महिला को बचाते हुए गांव के लोग।

राजस्थान में मानसून का पांचवा दौर मंगलवार रात से शुरू हो गया। दिनभर उमस के बाद रात को बादलों ने बरसना शुरू किया। बुधवार सुबह से उदयपुर के अलग-अलग हिस्सों में हल्की और तेज बारिश का दौर जारी है। बीती रात जयसमंद में लगभग 12 घंटे में 79 एमएम बारिश हुई। इससे जयसमंद झील में एक ही रात में बहुत ज्यादा पानी भर गया। इसका जलस्तर बढ़कर 3.90 मीटर हो गया।

वहीं बांसवाड़ा में बीते 14 घंटे के दौरान रिकॉर्ड तोड़ साढ़े 21 इंच बारिश हुई है। इसमें सबसे ज्यादा बारिश गढ़ी में हुई, जहां 120 MM यानी 4.72 इंच पानी बरसा। इधर, मोहकमपुरा क्षेत्र में बरसाती नाले में आए उफान के बीच रपट पर दो बाइक पर सवार 6 लोगों के बहने की सूचना है।

पूरे देश में अगले चार दिन कैसा रहेगा मानसून, जानने के लिए ये चार मैप देखें...