रेप केस की कोर्ट में चल रही थी सुनवाई, जज ने पीड़ित महिला को दे डाली ये अजीब सलाह तो चली गई उसकी नौकरी

DainikBhaskar.com

Apr 06, 2019, 07:49 PM IST

जज बोला- रेप हाेने से बचने के लिए महिला को सबसे पहले ये काम करना चाहिए था

in r*ape hearing, judge told victim, close your legs to prevent r*ape

इंटरनेशनल डेस्क, न्यूजर्सी। अमेरिका में एक जज को एक रेप पीड़ित महिला के साथ अजीब तरह की सलाह देने के मामले में सजा सुनाई है। दरअसल, जज ने महिला को सुनवाई के दौरान ये बताने की कोशिश कि वो अपना रेप होने से कैसे बचा सकती थी। जज का नाम जॉन रूसो है। मामला 2016 का है, जब वो एक रेप केस की सुनवाई कर रहा था। जॉन रूसो साउदर्न न्यू जर्सी के ओसन काउंटी बेंच में जज है और उस पर सस्पेंशन की तलवार लटक रही है। उसे एथिक्‍स कमेटी ने तीन माह की तक बर्खास्‍त करने की सलाह दी है। इस दौरान उन्‍हें किसी तरह की सैलरी भी नहीं दी जाएगी।


जज ने महिला से पूछा दिल दुखाने वाला सवाल
- 2016 में महिला रूसो के सामने पेश हुई थी। पीड़‍ित महिला उस व्‍यक्ति के खिलाफ कोर्ट से आदेश चाहती थी, जिसने उसका रेप किया था। जब पीड़‍ित ने कोर्ट को बताया कि किस तरह से उसका आरोपी से सामना हुआ तो रूसो ने दिल दुखाने वाली टिप्पणी कर दी। उन्होंने महिला से पूछो कि 'क्‍या आप जानती हैं कि कैसे किसी को आपके साथ इंटरकोर्स करने से रोका जा सकता है?'
- इस पर महिला ने हां में जवाब देते हुए कहा कि एक तरीका है कि वो उस जगह से भाग जाती। इस पर रूसो ने उसे जवाब दिया, 'क्या तुमने अपनी टांगें बंद की थीं और पुलिस को बुलाया था?, क्‍या तुमने इन दोनों में से कोई एक काम किया था।'
- हालांकि कोर्ट के दस्‍तावेजों में रूसो ने इस बात से साफ इनकार कर दिया है कि उन्‍होंने किसी भी तरह से न्‍यायिक नियमों को तोड़ा है। उनका कहना था कि वह पीड़‍िता से और ज्‍यादा जानकारी हासिल करने की कोशिश कर रहे थे न कि वह उसका कोई मानसिक शोषण करने का कोई प्रयास कर रहे थे।
- पैनल ने बुधवार को कहा, 'रूसो का व्यवहार न केवल असभ्य और अनुचित था, बल्कि पीड़िता से उन सवालों के पूछना बेहद खराब था।' जुलाई में इस मामले की आखिरी सुनवाई होगी और रूसो को पैनल की सिफारिश पर प्रतिक्रिया देने का मौका मिलेगा।

X
in r*ape hearing, judge told victim, close your legs to prevent r*ape
COMMENT