पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • India Covid Vaccination Drive Update, Tika Utsav News; 85 Lakh People Vaccinated On First Day

वैक्सीनेशन का महा रिकॉर्ड:एक दिन में 85 लाख से ज्यादा लोगों को कोरोना वैक्सीन लगाई गई, 16 लाख टीके लगाकर MP पहले नंबर पर

नई दिल्लीएक महीने पहले

नई गाइडलाइंस के मुताबिक वैक्सीनेशन शुरू होने के पहले दिन अब तक के सारे रिकॉर्ड टूट गए। सोमवार को 85 लाख से ज्यादा लोगों को टीका लगाया गया। राज्यों से पूरा डेटा आने के बाद यह संख्या और बढ़ने की उम्मीद है। cowin.gov.in पर दिए डेटा के मुताबिक, अब तक 85.15 लाख लोगों को वैक्सीन लगाई गई है। इससे पहले 5 अप्रैल को 43 लाख से ज्यादा लोगों को वैक्सीन लगाई गई थी।

रिकॉर्ड लोगों को वैक्सीन लगने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुशी जताई। उन्होंने सोशल मीडिया पर लिखा कि यह रिकॉर्ड तोड़ वैक्सीनेशन खुश करने वाला है। कोरोना से लड़ने के लिए वैक्सीन हमारा सबसे मजबूत हथियार बना हुआ है। उन सभी को बधाई जिन्होंने टीका लगवाया। सभी फ्रंटलाइन वॉरियर्स को बधाई जिन्होंने सुनिश्चित किया कि इतने सारे लोगों को टीका लगे। वेल डन इंडिया।

मध्य प्रदेश में सबसे ज्यादा वैक्सीनेशन
cowin.gov.in के मुताबिक, सोमवार को सबसे ज्यादा वैक्सीनेशन मध्य प्रदेश में हुआ है। यहां 16.70 लाख लोगों को टीका लगाया गया। यह किसी भी राज्य में एक दिन में सबसे ज्यादा वैक्सीनेशन का रिकॉर्ड है। इसके अलावा कर्नाटक में 11.11 लाख और यूपी में 7.16 लाख लोगों ने वैक्सीन लगवाई। दिल्ली में यह संख्या महज 76,282 रही।

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि देश में आज जितना वैक्सीनेशन हुआ है, उसमें मध्य प्रदेश ने अकेले 20% से ज़्यादा वैक्सीन लगा दी। अगर संपूर्ण वैक्सीनेशन हो गया तो हम कॉलेज और कोचिंग संस्थान खोल सकते हैं। हम 1 से 3 जुलाई फिर एक महाअभियान चलाएंगे।

मध्यप्रदेश के जबलपुर में एक वैक्सीनेशन सेंटर पर इतनी भीड़ हुई कि सोशल डिस्टेंसिंग की गुंजाइश ही खत्म हो गई।
मध्यप्रदेश के जबलपुर में एक वैक्सीनेशन सेंटर पर इतनी भीड़ हुई कि सोशल डिस्टेंसिंग की गुंजाइश ही खत्म हो गई।

वैक्सीनेशन का दायरा कितना बड़ा...
देश में सोमवार को जितने लोगों को टीका लगाया गया, उससे कम कम आबादी वाले दुनिया में 134 देश हैं। इनमें हांगकांग, सिंगापुर, न्यूजीलैंड, कुवैत, नार्वे और फिनलैंड जैसे देश शामिल हैं। भारत में एक दिन में इजराइल और स्विटजरलैंड की आबादी के लगभग लोगों को टीका लगाया गया है।

इस मामले में हमने अमेरिका को भी काफी पीछे छोड़ दिया है। अमेरिका में अब तक एक दिन में 40 लाख लोगों को टीका लगा है। यह रिकॉर्ड 4 अप्रैल को दर्ज हुआ था। ऑस्ट्रेलिया में अब तक कुल 6.87 लाख डोज लगे हैं। इससे करीब डेढ़ गुना भारत में एक दिन में ही लगा दिए गए।

टीका लगवाने वालों की कुल संख्या 28 करोड़ के पार
उधर, स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया है कि देश में अब तक 28.33 करोड़ लोगों को कोरोना की वैक्सीन लगाई जा चुकी है। इनमें 23.27 करोड़ से ज्यादा को पहला और 5.05 करोड़ को दूसरा डोज लग चुका है। नई गाइडलाइंस के मुताबिक, अब 18 साल से ज्यादा उम्र के हर नागरिक को केंद्र सरकार की ओर से मुफ्त वैक्सीन लगाई जा रही है। देश में 16 जनवरी से वैक्सीनेशन की शुरुआत की गई थी।

7 जून को PM ने किया था ऐलान
इससे पहले केंद्र सरकार ने राज्यों और निजी अस्पतालों को 50% टीके खरीदने की इजाजत दी थी। हालांकि, कई राज्यों ने फंडिंग सहित दूसरी समस्याओं की शिकायत की। इसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 7 जून को वैक्सीन गाइडलाइंस में संशोधन की घोषणा की थी।

हावड़ा जिले के उत्तर बटोरा द्वीप में डोर-टू-डोर वैक्सीनेशन किया गया। गांव वालों को टीका लगाने के लिए हेल्थकेयर वर्कर्स नाव से पहुंचे।
हावड़ा जिले के उत्तर बटोरा द्वीप में डोर-टू-डोर वैक्सीनेशन किया गया। गांव वालों को टीका लगाने के लिए हेल्थकेयर वर्कर्स नाव से पहुंचे।

ओडिशा में 51 साल के शख्स को 30 मिनट में 2 टीके लगाए
ओडिशा में 51 साल के एक शख्स को 30 मिनट के अंदर दो बार कोरोना का टीका लगा दिया गया। हालांकि, उसमें कोई बुरा असर नहीं दिखाई दिया है। अथॉरिटी ने मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं। सूत्रों ने सोमवार को बताया कि प्रसन्ना कुमार साहू नाम का यह शख्स मयूरभंज जिले के रघुपुर गांव का रहने वाला है। वह शनिवार को सत्यसाईं गवर्नमेंट हाई स्कूल में पहला डोज लगवाने गया था।

साहू का दावा है कि एक टीका लेने के बाद वह 30 मिनट का ऑब्जर्वेशन टाइम खत्म होने का इंतजार कर रहा था। तभी एक नर्स अंदर आई और उसके मना करने से पहले ही दूसरा इंजेक्शन लगा दिया। ऑफिशियल ऑब्जर्वर राजेंद्र बेहरा के मुताबिक, साहू टीका लगवाने के बाद ऑब्जर्वेशन रूम में जाने के बजाय वैक्सीनेशन एरिया में ही बैठा था। इस वजह से यह घटना हुई।

खबरें और भी हैं...