• Hindi News
  • National
  • India Covid Vaccination New Record Update: PM Narendra Modi On Children Covid 19 Vaccination

वैक्सीनेशन का नया कीर्तिमान:देश में अब तक वैक्सीन के 150 करोड़ डोज लगे; 5 दिनों में ही 2 करोड़ से ज्यादा बच्चों को लगा टीका

नई दिल्ली20 दिन पहले

कोरोना की तीसरी लहर के बीच अच्छी खबर आई है। देश ने कोरोना वैक्सीनेशन का एक और बड़ा मुकाम हासिल कर लिया है। शुक्रवार तक देश में वैक्सीनेशन का आंकड़ा 150 करोड़ डोज के पर चला गया। Co-Win डैशबोर्ड के मुताबिक, आज देर शाम 8 बजे तक देश में 1,50,60,30,242 डोज दिए जा चुके थे।

इधर, 3 जनवरी से शुरू हुए 15 से 17 साल के बच्चों के वैक्सीनेशन का आंकड़ा भी पांच दिनों में 2 करोड़ डोज के पार हो गया। Co-Win के मुताबिक, शुक्रवार को 2 करोड़ 91 हजार से ज्यादा बच्चों को पहला डोज दिया जा चुका था।

PM ने बताया ऐतिहासिक मुकाम
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसे ऐतिहासिक मुकाम बताया है। इधर, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बताया कि देश की 90% वयस्क आबादी को दो डोज लगाए जा चुके हैं और 3 जनवरी से अब तक 15 से 17 साल के लगभग 1.68 करोड़ बच्चों को एक डोज दिया जा चुका है। यह उपलब्धि पूरे देश की है, हर राज्य सरकार की है।

पीएम मोदी ने देश के वैज्ञानिकों, वैक्सीन निर्माताओं और स्वास्थ्य मंत्रालय को भी शुक्रिया कहा। उन्होंने कहा कि यह सभी के मिले-जुले प्रयासों का नतीजा है कि हम शून्य से इस शिखर तक पहुंचे हैं।

अब तक कैसी रही वैक्सीनेशन की रफ्तार?
देश में पिछले साल 16 जनवरी से वैक्सीनेशन अभियान की शुरुआत हुई थी। सरकार ने पिछले साल अगस्त में दिसंबर तक 216 करोड़ वैक्सीन डोज लगाने का टारगेट तय किया था। तय टारगेट के मुकाबले अब तक देश में 150 करोड़ डोज ही लगाए गए हैं। शुरुआती 20 करोड़ डोज 131 दिन में लगाए गए थे। अगले 20 करोड़ डोज 52 दिन में लगा दिए गए। इसके बाद 40 से 60 करोड़ डोज देने में 39 दिन ही लगे।

कैंपेन को तेज करने से 60 करोड़ से 80 करोड़ डोज तक पहुंचने में महज 24 दिन लगे। इसके बाद 80 करोड़ से 100 करोड़ डोज तक पहुंचने में 31 दिन लगे। अब 100 से 150 करोड़ वैक्सीन डोज होने में 78 दिन लगे। इस लिहाज से देखें तो अब वैक्सीनेशन की रफ्तार कम हो गई है। अगर इसी रफ्तार से वैक्सीनेशन होता रहा तो देश में बाकी 66 करोड़ वैक्सीन डोज लगने में करीब 102 दिन और लगेंगे यानी, 19 अप्रैल 2022 के आसपास ये आंकड़ा हम पार कर सकते हैं।

10 जनवरी से बुजुर्गों को लगेगा प्रिकॉशन डोज
देश में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच 10 जनवरी से 60 साल से ऊपर के बीमार बुजुर्गों, हेल्थकेयर और फ्रंटलाइन वर्कर्स को प्रिकॉशन डोज यानी वैक्सीन की तीसरी खुराक देने की शुरुआत होगी। प्रिकॉशन डोज 60 साल से अधिक उम्र के केवल उन्हीं लोगों को लगाया जाना है, जो कोमॉर्बिडिटी (एक से अधिक बीमारियों) से पीड़ित हैं।

सरकार ने कोमॉर्बिडिटी के तहत आने वाली 22 बीमारियों की लिस्ट जारी की है। हेल्थ मिनिस्ट्री ने स्पष्ट किया है कि कोमॉर्बिडिटी वाले 60 साल और उससे अधिक उम्र के सभी लोगों को प्रिकॉशन डोज लेने के लिए डॉक्टर से कोई सर्टिफिकेट देने/प्रस्तुत करने की जरूरत नहीं होगी। हालांकि ऐसे लोगों को प्रिकॉशन डोज लेने से पहले डॉक्टर से सलाह लेने को कहा गया है।