पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • National
  • Indira Gandhi Amrit Kaur | India Former PM Indira Gandhi, Freedom Fighter Amrit Kaur In TIME Magazine 100 Women Of The Year Latest Updates'

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

टाइम मैगजीन ने इंदिरा गांधी को 1976 और राजकुमारी अमृत कौर को 1947 की ‘वुमन ऑफ द ईयर’ चुना

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • टाइम की लिस्ट में सदी की प्रमुख महिलाएं शामिल, 89 विशेष कवर पेज भी डिजाइन किए
  • इनमें से 11 महिलाएं रह चुकी हैं ‘पर्सन ऑफ द ईयर’, इनके लिए भी अलग से कवर पेज बने

नई दिल्ली. पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी और स्वतंत्रता सेनानी राजकुमारी अमृत कौर को टाइम मैगजीन ने दुनिया की उन 100 ताकतवर महिलाओं में शामिल किया है, जिन्होंने पिछली सदी को नई पहचान दी। टाइम ने कौर को 1947 और इंदिरा गांधी को 1976 की ‘वुमन ऑफ द ईयर’ चुना गया है। इनके लिए स्पेशल कवर पेज भी तैयार किए हैं।


मैगजीन ने इंदिरा गांधी के लिए लिखा, ‘‘1976 में इंदिरा गांधी ‘इंप्रेस ऑफ इंडिया’ थीं, जो कि बाद में भारत की महान सत्तावादी बन गईं। 1975 में आर्थिक अस्थिरता के बीच इंदिरा सरकार के खिलाफ प्रदर्शन शुरू हो गए थे और उनके चुनाव को अमान्य बताने के बाद आपातकाल की घोषणा कर दी गई थी। भारत के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू की बेटी इंदिरा जितनी कठोर थीं, उतनी ही करिश्माई भी।''

कौर ने आजादी के साथ ही कुप्रथाओं के खिलाफ मुहिम शुरू की थी
अमृत कौर के बारे में लिखा, ''कपूरथला की रॉयल फैमिली से ताल्लुक रखने वालीं राजकुमारी कौर 1918 में ऑक्सफोर्ड में पढ़ाई करने के बाद भारत लौटीं और जल्द ही महात्मा गांधी के सिद्धांतों की प्रशंसक बन गईं। उनका लक्ष्य भारत की स्वतंत्रता था। उन्होंने बहुत से सामाजिक मुद्दे उठाए जैसे कि महिलाओं की शिक्षा, उन्हें मतदान का अधिकार, बाल विवाह को रोकना। 1947 में आजादी के बाद कैबिनेट में शामिल होने वालीं पहली महिला थीं। वह 10 साल तक भारत की स्वास्थ्य मंत्री रहीं। इस दौरान उन्होंने इंडियन काउंसिल फॉर चाइल्ड वेलफेयर की शुरुआत की और मेडिकल कॉलेज को शुरू करने में अहम भूमिका निभाई। इसके साथ ही लोगों को मलेरिया और अन्य संक्रामक बीमारियों के प्रति जागरूक किया।''

‘100 वुमन ऑफ द ईयर’ सदी की महिलाओं को समर्पित 
टाइम मैगजीन ने बताया कि ‘100 वुमन ऑफ द ईयर’ में पिछली सदी के हर साल की ‘वुमन ऑफ द ईयर’ चुनी गई हैं। शुरुआती 72 सालों तक टाइम में ‘मैन ऑफ द ईयर’ प्रोजेक्ट चला था, जिसमें कोई राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री या कोई उद्योगपति होता था। पुरुषों का दबदबा खत्म करने के लिए 1999 में इसे बदलकर ‘पर्सन ऑफ द ईयर’ कर दिया गया, फिर भी सूची में अधिकतर पुरुषों को ही जगह मिली। इस साल मैगजीन महिलाओं के लिए ‘100 वुमन ऑफ द ईयर’ मुहिम लाई है।

ये महिलाएं भी 100 में 
मैगजीन ने अन्य महिलाओं में खास तौर पर डिजाइन कोको चैनल, लेखक वर्जीनिया वोल्फ, क्वीन एलिजाबेथ, अभिनेत्री मर्लिन मुनरो, प्रिंसेस डायना, चीनी केमिस्ट तु युयु, यूएन की रिफ्यूजी एजेंसी का नेतृत्व करने वाली जापान की सदाको ओगाटा और अमेरिका की पूर्व फर्स्ट लेडी मिशेल ओबामा हैं। टाइम ने इन महिलाओं के लिए 89 कवर पेज बनाए हैं, जो कई प्रमुख कलाकारों द्वारा डिजाइन किए गए हैं। इसके साथ ही 11 कवर पेज अलग से उन महिलाओं के लिए बनाए गए हैं, जो कभी ‘पर्सन ऑफ द ईयर’ रह चुकी थीं। 100 नाम चुनने के लिए टाइम के स्टाफ की ओर से 600 नाम सुझाए गए थे, जिसके बाद चयन की महीनों लंबी प्रक्रिया चली।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज आसपास का वातावरण सुखद बना रहेगा। प्रियजनों के साथ मिल-बैठकर अपने अनुभव साझा करेंगे। कोई भी कार्य करने से पहले उसकी रूपरेखा बनाने से बेहतर परिणाम हासिल होंगे। नेगेटिव- परंतु इस बात का भी ध...

और पढ़ें