पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • National
  • India Rejected The Claim Of The American Commission On Religious Freedom, Saying Do Not Discriminate On The Basis Of Religion In Hospitals, Do Not Give Religious Color To Our Fight

कोरोना पर अफवाह:विदेश मंत्रालय ने अस्पताल में धर्म के आधार पर मरीजों को रखने का अमेरिकी आयोग का दावा खारिज किया, कहा- इस लड़ाई को धार्मिक रंग न दें

नई दिल्ली/ गुजरात5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
यह तस्वीर अहमदाबाद के उसी सिविल अस्पताल की है, जहां अमेरिकी आयोग ने कोरोना मरीजों को धार्मिक पहचान के आधार पर अलग-अलग वार्ड में रखने का दावा किया था।
  • विदेश मंत्रालय ने कहा- धार्मिक स्वतंत्रता से जुड़ा अमेरिकी आयोग कोविड-19 के लिए तय किए गए मेडिकल प्रोटोकॉल पर गुमराह करने वाली रिपोर्ट फैला रहा
  • आयोग ने अहमदाबाद के सिविल अस्पताल में धार्मिक पहचान के आधार पर कोरोना मरीजों को अलग रखने की बात कही थी
  • गुजरात सरकार ने रिपोर्ट को निराधार बताया, अस्पताल के सर्जन ने कहा- मेरे बयान को गलत समझा गया, मैं इसकी निंदा करता हूं

भारत ने अमेरिका के अंतरराष्ट्रीय धार्मिक स्वतंत्रता आयोग (यूएससीआईआरएफ) के उस दावे को खारिज किया है, जिसमें कहा गया था कि अहमदाबाद के सिविल अस्पताल में कोरोनावायरस के मरीजों को धार्मिक आधार पर अलग-अलग रखा गया। विदेश मंत्रालय ने यूएससीआईआरएफ से कहा है कि वह कोरोना के खिलाफ भारत की लड़ाई को धार्मिक रंग देने की कोशिश न करे।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने बुधवार को कहा कि यूएससीआईआरएफ भारत में कोविड-19 के लिए तय किए गए मेडिकल प्रोटोकॉल पर गुमराह करने वाली रिपोर्ट फैला रहा है। गुजरात सरकार पहले ही साफ कर चुकी है कि अस्पताल में कोरोना मरीजों को धार्मिक आधार पर अलग-अलग नहीं रखा गया है।

गुजरात सरकार ने भी दावा खारिज किया
इधर, गुजरात सरकार अहमदाबाद के सिविल अस्पताल में मरीजों के साथ धार्मिक आधार पर भेदभाव से जुड़ी मीडिया रिपोर्ट को पहले ही निराधार बता चुकी है। सिविल अस्पताल के सर्जन जीएच राठौड़ ने एक बयान जारी कर कहा- कुछ अखबारों में छपी खबर में मेरे बयान को गलत तरह से समझा गया है। इनमें कहा गया कि हमने मुसलमानों और हिंदुओं के लिए अलग वार्ड बनाए हैं। यह रिपोर्ट झूठी और निराधार है और मैं इसकी निंदा करता हूं। 

आयोग ने धार्मिक भेदभाव की बात कही

अमेरिकी आयोग ने ट्वीट किया था कि वह इन खबरों को लेकर चिंतित है कि अस्पताल में हिंदू और मुस्लिम मरीजों को अलग-अलग रखा जा रहा है। उसने कहा था, ‘‘इस तरह के कदम भारत में मुसलमानों को कलंकित किए जाने की घटनाओं को बढ़ाने में मदद करेंगे और इन अफवाहों को और तीव्र करेंगे कि मुस्लिम कोविड-19 फैला रहे हैं। यूएससीआईआरएफ अंतर्राष्ट्रीय धार्मिक स्वतंत्रता संबंधी आयोग है, इसे 1998 के अंतरराष्ट्रीय धार्मिक स्वतंत्रता अधिनियम के तहत बनाया गया है। आयोग के कमिशनरों की नियुक्ति अमेरिकी राष्ट्रपति के अलावा सीनेट और हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव्स के दोनों राजनीतिक दलों के नेताओं द्वारा की जाती है।

गुजरात में 700 से ज्यादा संक्रमित

गुजरात में अब तक कोरोना संक्रमण के 766 मामले सामने आ चुके हैं। अकेले बुधवार को राज्य में 127 नए केस आए। इसमें से अकेले 88 नए मरीज अहमदाबाद में मिले। बुधवार को राज्य में कोरोना से 5 लोगों की मौत हुई। इसके साथ ही राज्य में मृतकों का आंकड़ा 33 हो गया।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय की गति आपके पक्ष में रहेगी। सामाजिक दायरा बढ़ेगा। पिछले कुछ समय से चल रही किसी समस्या का समाधान मिलने से राहत मिलेगी। कोई बड़ा निवेश करने के लिए समय उत्तम है। नेगेटिव- परंतु दोपहर बाद परिस...

और पढ़ें