पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • India US Face To Face On The Sale Of Lincoln House In Mumbai For 818 Crores, Poonawalla Bought It 6 Years Ago, Not Yet Got The Right

द न्यूयॉर्क टाइम्स से विशेष अनुबंध के तहत:818 करोड़ के लिंकन हाउस की बिक्री पर भारत-अमेरिका आमने-सामने, 6 साल पहले पूनावाला ने खरीदी, अब तक नहीं मिला हक

मुंबई2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
रखरखाव के अभाव में मुंबई के पाश इलाके की यह इमारत अब कमजोर पड़ने लगी है। इसका पेंट भी झड़ने लगा है। दरवाजे-खिड़कियां भी कमजोर हो गए हैं। - Dainik Bhaskar
रखरखाव के अभाव में मुंबई के पाश इलाके की यह इमारत अब कमजोर पड़ने लगी है। इसका पेंट भी झड़ने लगा है। दरवाजे-खिड़कियां भी कमजोर हो गए हैं।

अमेरिका के विदेश मंत्री एंटोनी जे. ब्लिंकन ने जब पद संभाला था तभी स्टाफ से उनका पहला सवाल मुंबई के लिंकन हाउस के मालिकाना हक को लेकर था, जहां कभी अमेरिकी दूतावास हुआ करता था। 6 साल पहले इसे 818 करोड़ रुपए में मुंबई-पुणे के रईस और कोविड-19 वैक्सीन कोविशील्ड निर्माता पूनावाला परिवार ने खरीदा था, लेकिन आज तक भारत सरकार ने इसके मालिकाना हक के स्थानांतरण को मंजूरी नहीं दी है। कारण अज्ञात है।

इस मामले में अमेरिकी संसद ने भी ब्लिंकन पर दबाव बनाया हुआ है। कुछ समय पहले अमेरिकी सीनेटर जेम्स ई.रिशू ने इस विषय पर ब्लिंकेन से लिखित सवाल पूछा था और कहा था कि यह दोनों देशों के संबंधों में आई बेवजह अड़चन है। क्या आप इस विवाद को सुलझाने के लिए भारत से चर्चा करेंगे? ब्लिंकन ने इसके जवाब में कहा था कि वे जरूर इस मामले में बात करेंगे।

रखरखाव के अभाव में कमजोर पड़ने लगी इमारत
खरीद-बिक्री के इस विवाद में लिंकन हाउस के देखभाल का बिल बढ़ता जा रहा है। वहीं रखरखाव के अभाव में मुंबई के पाश इलाके की यह इमारत अब कमजोर पड़ने लगी है। इसका पेंट भी झड़ने लगा है। दरवाजे-खिड़कियां भी कमजोर हो गए हैं।