पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • National
  • Cyber Crime Against Indian Armed Forces; Indian Armed Forces Attacked By Cyber Crooks Warning To Defence Personnel Issued.

सुरक्षा बलों पर बड़ा साइबर हमला, तीनों सेनाओं ने इमरजेंसी वॉर्निंग जारी की

8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सेना को शुक्रवार को बड़े साइबर अटैक की जानकारी मिली, इमरजेंसी वॉर्निंग जारी की गई। (फाइल फोटो)
  • सैन्यकर्मियों को जारी चेतावनी में लिखा- संदिग्ध ई-मेल मिलने पर इसे इनबॉक्स से एक्सेस न करें
  • पाकिस्तानी हैकर सेना के मूवमेंट, तैनाती और पूर्व सैनिकों की जानकारी जुटाने की कोशिश कर रहे

'नोटिस' है।

आपातकालीन चेतावनी में कहा गया- सैन्यकर्मियों को एक फिशिंग ई-मेल भेजे जाने का पता चला है। इसका शीर्षक Notice है और इसके साथ HNQ Notice File.xls नाम का अटैचमेंट भेजा गया है। अधिकतर सैन्यकर्मियों को यह मेल prvinayak.598k@gov.in आईडी से भेजा गया है। सुरक्षाकर्मियों को इस तरह के ई-मेल से सावधान रहने को कहा गया है। चेतावनी में लिखा गया, "ई-मेल मिलने पर इसे इनबॉक्स से एक्सेस न करें। इसे तुरंत हटाएं या रिपोर्ट करें।"

सुरक्षाबलों के लिए साइबर एजेंसी बनाई जाएगी
भारतीय सेना के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि भारत के महत्वपूर्ण बुनियादी ढांचों पर साइबर हमले पाकिस्तान या चीन से हो रहे हैं। अधिकारी ने कहा, "हमारी साइबर इकाइयां हाई अलर्ट पर हैं, क्योंकि हाल के दिनों में इस तरह के हमले बढ़े हैं।" सरकार ने सशस्त्र बलों के लिए एक विशिष्ट रक्षा साइबर एजेंसी बनाने की योजना भी बनाई है, जिसका फोकस केवल सैन्यबलों से संबंधित मुद्दों पर रहेगा। इसका मुख्य काम चीन या पाकिस्तान जैसे देशों के विदेशी हैकरों के बढ़ते खतरे का मुकाबला करना होगा।

पाकिस्तान सेना की टोह लेना चाहता है
पाकिस्तानी साइबर अपराधियों का टारगेट यह पता लगाना होता है कि सैन्यबलों की आवाजाही किस तरह हो रही है, अलग-अलग यूनिटों की तैनाती कहां है और सेना की रणनीति क्या है। यहां तक कि वे पूर्व सैनिकों के बारे में जानकारी जुटाना भी चाहते हैं। सूत्रों ने बताया कि कई बार पाकिस्तानी हैकरों ने किसी तीसरे देश से भारतीय सैन्य कर्मियों को निशाना बनाने की कोशिश की। खुद को सेना के किसी दूसरे विंग का अधिकारी बताकर, इन हैकरों ने सेना के संचार नेटवर्क में घुसपैठ तक कर ली थी।

2016 में स्कॉर्पियन पनडुब्बी डाटा हैक हुआ
2016 में साइबर बदमाशों ने भारत की स्कॉर्पियन पनडुब्बी बेड़े से संबंधित हजारों फाइलें चुरा लीं। हैकरों के पास करीब 22,400 पन्नों की जानकारी पहुंच गई थी। इस हमले में 6 पनडुब्बियों की युद्ध क्षमता से संबंधित गोपनीय डाटा चुरा लिया गया था। इन सभी पनडुब्बियों को फ्रांस की डीसीएनएस ने भारतीय नौसेना के लिए डिजाइन किया था। हैकरों ने वहीं से डाटा चुराया था। हालांकि बाद में नौसेना ने कहा था कि इसमें पनडुब्बी के संचालन से संबंधित डाटा नहीं था।


स्कॉर्पियन श्रेणी की पनडुब्बियों से संबंधित इस साइबर हमले का पता ऑस्ट्रेलिया ने लगाया था। फ्रांसीसी निर्माता ने ऑस्ट्रेलिया से अगली पीढ़ी की पनडुब्बियों का निर्माण करने के लिए 2.71 लाख करोड़ रुपए का ठेका हासिल किया था। उसी दौरान कंपनी के डाटा में सेंध लगाने का खुलासा हुआ।

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - धर्म-कर्म और आध्यामिकता के प्रति आपका विश्वास आपके अंदर शांति और सकारात्मक ऊर्जा का संचार कर रहा है। आप जीवन को सकारात्मक नजरिए से समझने की कोशिश कर रहे हैं। जो कि एक बेहतरीन उपलब्धि है। ने...

और पढ़ें