• Hindi News
  • National
  • Sanjay Raut Mumbai ED Office | Patra Chawl Land Scam (Money Laundering Case) Updates

संजय राउत की ED के सामने 1 जुलाई को पेशी:जमीन घोटाला केस में नया समन जारी, पात्रा चॉल से जुड़े दस्तावेज भी मांगे

नई दिल्ली3 महीने पहले

प्रवर्तन निदेशालय यानी ED ने शिव सेना सांसद संजय राउत को 24 घंटे में दूसरा समन जारी किया है। अब जांच एजेंसी के सामने राउत की पेशी 1 जुलाई को होगी। राउत से पात्रा चॉल जमीन घोटाले से जुड़े दस्तावेज भी लाने को कहा गया है।

इससे पहले ED ने पात्रा चॉल जमीन घोटाला केस में पूछताछ के लिए राउत को 29 जून को हाजिर होने का नोटिस दिया था। उनके वकील ने मुंबई ED ऑफिस जाकर पेशी के लिए मोहलत मांगी थी।

राउत के वकील विकास ने मंगलवार को कहा कि ED का समन सोमवार को संजय राउत को मिला था, लेकिन यह बहुत लेट आया था। ED ने कुछ डॉक्यूमेंट मांगे थे, लेकिन इतने कम समय में डॉक्यूमेंट लाना मुश्किल है। हमें मोहलत मिल गई है। उधर, नोटिस मिलने के बाद संजय राउत ने अलीबाग में एक मीटिंग का हवाला देते हुए पेश होने में असमर्थता जताई थी।

शिव सेना नेता संजय राउत के वकील विकास ने मंगलवार को मुंबई ED ऑफिस पहुंचकर पेशी के लिए मोहलत मांगी थी।
शिव सेना नेता संजय राउत के वकील विकास ने मंगलवार को मुंबई ED ऑफिस पहुंचकर पेशी के लिए मोहलत मांगी थी।

राउत ने नोटिस को साजिश बताया था
इससे पहले उन्होंने सोमवार को ED के समन को साजिश करार देते हुए ट्वीट भी किया था, 'अब मैं समझता हूं कि ED ने मुझे समन क्यों भेजा है। अच्छा है। महाराष्ट्र में बड़े घटनाक्रम चल रहे हैं। बाला साहेब के हम सभी शिव सैनिक एक बड़ी लड़ाई में शामिल हो गए हैं। यह साजिश चल रही है। मेरी गर्दन कट जाए तो भी मैं गुवाहाटी के रास्ते पर नहीं जाऊंगा। चलो। मुझे गिरफ्तार करो! जय महाराष्ट्र!'

ED ने मुंबई की पात्रा चॉल की जमीन को लेकर 1,034 करोड़ रुपए के घोटाले की बात कही है। इसी मामले में संजय राउत को नोटिस मिला है।
ED ने मुंबई की पात्रा चॉल की जमीन को लेकर 1,034 करोड़ रुपए के घोटाले की बात कही है। इसी मामले में संजय राउत को नोटिस मिला है।

ED ने 5 अप्रैल को राउत की संपत्ति कुर्क की
ED ने 1,034 करोड़ रुपए के पात्रा चॉल भूमि घोटाला मामले में महाराष्ट्र के बिजनेसमैन और राउत के करीबी प्रवीण राउत को फरवरी में गिरफ्तार किया था, जिसके बाद इस केस में संजय राउत का नाम भी जुड़ा। 5 अप्रैल को ED ने इसी मामले में राउत के अलीबाग वाले प्लॉट के साथ दादर व मुंबई में एक-एक फ्लैट को भी कुर्क कर लिया था।

संजय राउत की पत्नी पर भी आरोप
जब ED ने प्रवीण को पकड़ा तो संजय राउत का नाम सामने आया। प्रवीण शिव सेना सांसद संजय राउत का दोस्त है। प्रवीण की पत्नी ने संजय राउत की पत्नी वर्षा को 83 लाख रुपए का कर्ज भी दिया था, जिसका इस्तेमाल राउत परिवार ने दादर में एक फ्लैट खरीदने के लिए किया था। जब जांच शुरू हुई तो वर्षा ने 55 लाख रुपए प्रवीण की पत्नी को लौटा दिए।

पात्रा चॉल मामले में गिरफ्तार हुए प्रवीण शिंदे और संजय राउत की पत्नी वर्षा के बीच बड़ी रकम के लेन-देन की बात कही गई थी।
पात्रा चॉल मामले में गिरफ्तार हुए प्रवीण शिंदे और संजय राउत की पत्नी वर्षा के बीच बड़ी रकम के लेन-देन की बात कही गई थी।

इस मामले का एक और आरोपी सुजीत पतकार भी संजय राउत से जुड़ा हुआ है। सुजीत संजय की बेटी की एक फर्म में पार्टनर है। सुजीत की पत्नी और संजय राउत की पत्नी ने एक साथ मिलकर अलीबाग में जमीन खरीदी। ये जमीन भी घोटाले के पैसे से ली गई थी।

ये है जमीन घोटाले का मामला
2007 में गुरुआशीष कंस्ट्रक्शन और महाराष्ट्र हाउसिंग एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी के बीच समझौता हुआ था। महाराष्ट्र हाउसिंग एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी ने गुरुआशीष को पात्रा चॉल के किरायेदारों के 672 फ्लैट को री-डेवलप करने का काम सौंपा था। बता दें कि गुरुआशीष कंस्ट्रक्शन हाउसिंग डेवलपमेंट एंड इन्फ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड की सिस्टर कंपनी है।

समझौते में यह भी तय हुआ था कि करीब 3 हजार फ्लैट महाराष्ट्र हाउसिंग एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी को सौंपने होंगे। ये फ्लैट अथॉरिटी की 47 एकड़ जमीन पर बनने थे, लेकिन गुरुआशीष कंस्ट्रक्शन ने फ्लैट को री-डेवलप करने और अथॉरिटी को बाकी फ्लैट्स सौंपने की बजाय, इस जमीन को 8 अलग-अलग बिल्डरों को 1 हजार 34 करोड़ रुपए में बेच दिए।

प्रवीण राउत हाउसिंग डेवलपमेंट एंड इन्फ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड में सारंग वधावन और राकेश वधावन के साथ डायरेक्टर थे। मार्च 2018 में अथॉरिटी ने गुरुआशीष कंस्ट्रक्शन के खिलाफ FIR दर्ज कराई। इस मामले में फरवरी 2020 में इकोनॉमिक ऑफेंस विंग ने प्रवीण राउत को गिरफ्तार किया। प्रवीण राउत को जमानत पर छोड़ दिया गया। हाल ही में, ED ने फिर गिरफ्तार कर लिया था।

खबरें और भी हैं...