ट्रांसफॉर्मेशन / वॉट्सऐप ग्रुप से मिली प्रेरणा और दंपत्ति ने खुद में किया ऐसा बदलाव कि हर कोई सरप्राइज



inspiring weight loss stories
X
inspiring weight loss stories

  • खुद में बदलाव के बाद अब दूसरों को कर रहे ट्रेंड, बोले, दुबला होना है तो रनिंग, कार्डियो नहीं बल्कि वेट्र ट्रेनिंग करें
  • एक वॉट्सऐप ग्रुप से मिली थी फिट होने की प्रेरणा, अब खुद की जिम खोली

Dainik Bhaskar

Jul 01, 2019, 03:06 PM IST

डेटा इंटेलीजेंस डेस्क. राजस्थान के सिरोही में रहने वाले मारवाड़ी दंपत्ति आदित्य और गायत्री शर्मा ने खुद में ऐसा बदलाव किया कि हर किसी को सरप्राइज कर दिया। 6 महीने में आदित्य ने जहां 20 किलो वजन कम किया तो वहीं उनकी पत्नी ने 4 माह में 10 किलो वजन घटाया। खास बात ये है कि उन्हें वजन घटाने और बॉडी बनाने का इंस्पीरेशन किसी कोच से नहीं बल्कि वॉट्सऐप ग्रुप से मिला था।

 

वॉट्सऐप पर फिटनेस एडवाइज देने वाले ग्रुप का हिस्सा बने और फिर फिटनेस का ऐसा जुनून चढ़ा कि अब खुद ही फिटनेस कोच बन गए। खुद ही जिम भी खोल ली। सेहत के साथ पैसा भी कमा रहे हैं। आदित्य ने दैनिक भास्कर प्लस ऐप से बातचीत में खुद के ट्रांसफॉर्मेशन का एक्सपीरियंस शेयर किया साथ ही काम की टिप्स भी दीं। 

कैसे लाए खुद में इतना बड़ा बदलाव, जानिए पूरी कहानी

  1. जिम गए लेकिन कार्डियो, रनिंग नहीं की

    आदित्य ने खुद में ऐसा बदलाव किया कि हर कोई सरप्राइज हुआ।

     

    आदित्य ने 2015 में वेटलॉस जर्नी शुरू की। सही एडवाइज मिलने के बाद उन्होंने जिम ज्वॉइन की। रोजना डेढ़ से दो घंटे जिम में बिताने लगे लेकिन इस दज्ञैरान कार्डियो, रनिंग और एब्स नहीं लगाए बल्कि वेट ट्रेनिंग की। वे कहते हैं कि वजन उठाने से अपने आप ही एब्स बनना शुरू हो जाते हैं और जैसे-जैसे फैट लॉस होता है मसल्स डेवलप होते जाती हैं। मसल्स डेवलप होने के साथ ही स्टेमिना बढ़ने लगता है। वे दूसरों को भी वजन कम करने के लिए कार्डियो के बजाए वेट ट्रेनिंग की सलाह देते हैं। 

  2. जिम में कौन सी एक्सरसाइज करते हैं

    एक दिन में दो बॉडी पार्ट की एक्सरसाइज करते हैं। एक दिन बैक-बायसेप, दूसरे दिन चेस्ट-ट्राइसेप और तीसरे दिन शोल्डर। इनके साथ ही कंपाउंड लिफ्ट, स्क्वाट्स, डेड लिफ्ट किया करते हैं। हफ्ते में एक दिन बॉडी को आराम देते हैं। वेट ट्रेनिंग में पहले कम वेट से एक्सरसाइज की। बाद में जब क्षमता बढ़ी तो वजन भी बढ़ाते गए। अब 80 किलो तक वजन उठा लेते हैं। वे कहते हैं कि वजन ज्यादा नहीं उठ रहा तो रिपीटेशन बढ़ाते जाएं। धीरे-धीरे वजन ज्यादा उठाने की क्षमता
    भी बढ़ने लगेगी।

  3. डाइट कैसी लेते हैं

    वे कहते हैं कि सही डाइट के बिना कभी बॉडी को फिट नहीं किया जा सकता। जानिए उन्होंने कैसी डाइट ली। 

    ब्रेकफास्ट : सोया चंकस और चावल को साथ में उबाल कर खाते हैं। 
    लंच : पालक, पनीर और दही लेते हैं। पालक और पनीर को मिलाकर अलग-अलग तरह की डिश बनाते हैं लेकिन लंच में यही खाते हैं। 
    डिनर : सोया चंकस और चावल के साथ सलाद खाते हैं। उन्होंने पिछले तीन साल से रोटी नहीं खाई क्योंकि रोटी उनकी बॉडी के लिए सही नहीं। कहते हैं जिन लोगों को रोटी से कोई दिक्कत नहीं, वे रोटी ले सकते हैं। 
    प्रोटीन : दोनों टाइम एक-एक स्कूप प्रोटीन पाउडर पानी के साथ मिलाकर लेते हैं। आदित्य के मुताबिक, प्रोटीन बॉडी के लिए सबसे ज्यादा जरूरी है। जिम जा रहे हैं तो जितना वजन है, उसका दोगुना प्रोटीन लिया जाना चाहिए। 
    जिम जाने के पहले : सिर्फ ब्लेक टी लेते हैं।

  4. जिन्हें बॉडी बनाना है उन्हें क्या सलाह देते हैं

    • सबसे पहले अपना लक्ष्य निर्धारित करें। मोटे हो तो फैटलॉस का टारगेट रखो। दुबले हो तो मस्कुलर होने का टारगेट रखो। 
    • दोनों ही कंडीशन में एक्सरसाइज तो करना ही है इसलिए जिम जरूर ज्वॉइन करें।
    • अपनी बॉडी के हिसाब से डाइट निर्धारित करें। यदि खुद समझ में नहीं आ रहा तो किसी डाइटीशियन की सलाह लें। सही डाइट और एक्सरसाइज के कॉम्बीनेशन से ही बॉडी बन सकती है। 
    • वे कहते हैं जिम बनाना है तो ड्रिंक, जंक फूड और सिगरेट पूरी तरह छोड़ दें।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना