• Hindi News
  • National
  • Jammu and Kashmir: Article 370: Terror groups are active again in PoK, News Update

अनुच्छेद 370 / सीमा पर तनाव बढ़ा, पाक के कब्जे वाले कश्मीर में 10 से ज्यादा आतंकी शिविर बने



श्रीनगर में कर्फ्यू के दौरान तैनात सुरक्षाबल। श्रीनगर में कर्फ्यू के दौरान तैनात सुरक्षाबल।
X
श्रीनगर में कर्फ्यू के दौरान तैनात सुरक्षाबल।श्रीनगर में कर्फ्यू के दौरान तैनात सुरक्षाबल।

  • केंद्र सरकार ने जम्मू-कश्मीर में 10 हजार अतिरिक्त सुरक्षाबलों को तैनात किया
  • एनएसएस अजीत डोभाल ने राज्य का दौरा किया, सैन्य अधिकारियों के साथ बैठक की
  • सोमवार को अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद घाटी में कर्फ्यू लगाया गया था, छठवें दिन हटाया गया

Dainik Bhaskar

Aug 10, 2019, 09:07 PM IST

श्रीनगर. नियंत्रण रेखा (एलओसी) से सटे पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) के कोटली, रावलकोट, बाघ और मुजफ्फराबाद में 10 से ज्यादा आतंकी शिविर सक्रिय हो गए हैं। खुफिया सूत्रों के हवाले से न्यूज एजेंसी ने शनिवार को इसकी जानकारी दी। आतंकी गुटों की सक्रियता पाकिस्तानी सेना के सहयोग से बढ़ी है। इसे देखते हुए भारतीय सुरक्षाबलों को हाई अलर्ट पर रखा गया है।

 

दरअसल, पेरिस स्थित फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स (एफएटीएफ) ने पाकिस्तान को मई 2019 तक इन शिविरों पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगाए जाने की बात कही थी। ऐसा न किए जाने पर पाक को दी जाने वाली रकम रोकी जा सकती है। 

 

हमला होता है तो इस्लामाबाद जिम्मेदार नहीं: इमरान खान
सूत्रों के अनुसार, पाक प्रधानमंत्री इमरान खान ने दो दिन पहले संसद के संयुक्त सत्र में कहा था कि भारत में अगर दोबारा पुलवामा जैसा हमला होता है तो इसके लिए इस्लामाबाद जिम्मेदार नहीं होगा। इमरान का यह बयान जैश-ए-मोहम्मद, लश्कर-ए-तैयबा और आईएसआई के हैंडलर्स को आतंकी शिविरों को दोबारा सक्रिय किए जाने छूट देने जैसा है।

 

मसूद अजहर का भाई इब्राहिम पीओके में दिखा

खुफिया रिपोर्ट्स में यह खुलासा हुआ है कि जैश, लश्कर और तालिबान के लगभग 150 सदस्य कथित तौर पर कोटली के निकट फागूश और कुंड शिविरों और मुजफ्फराबाद क्षेत्र में शवाई नल्लाह और अब्दुल्लाह बिन मसूद शिविरों में इकट्ठे हुए हैं। पिछले दिनों मसूद अजहर का भाई इब्राहिम अतहर भी पीओके में दिखा था।

 

डोभाल ने वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक की

कश्मीर में मौजूद राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजीत डोभाल ने वरिष्ठ अधिकारियों के साथ उच्चस्तरीय बैठक की। इसमें आईबी के निदेशक अरविंद कुमार, जम्मू एवं कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह और सेना के शीर्ष अधिकारी मौजूद थे। इस दौरान सुरक्षा रणनीति और आतंकी खतरों पर चर्चा हुई।

 

DBApp

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना