• Hindi News
  • National
  • Jammu And Kashmir Latest News Update; Explosion Inside Jammu Airport, Jammu Airport Blast, Forensic Team Reaches The Spot

पहली बार ड्रोन से आतंकी हमला:जम्मू एयरफोर्स स्टेशन पर ब्लास्ट की जांच के लिए NIA टीम पहुंची, एयरपोर्ट पर भी स्पेशल सिक्योरिटी टीम तैनात

जम्मू4 महीने पहले

जम्मू एयरफोर्स स्टेशन के टेक्निकल एरिया के पास धमाका होने से एयरफोर्स के 2 जवानों को हल्की चोटें आई हैं। यहां 5 मिनट के अंतराल पर दो ब्लास्ट हुए। पहला ब्लास्ट परिसर की बिल्डिंग की छत पर और दूसरा नीचे हुआ। विस्फोट करने के लिए दो ड्रोन इस्तेमाल किए गए थे। हमलावरों का पता नहीं चल पाया है, लेकिन आशंका है कि विस्फोट वाले इलाके में खड़े एयरक्राफ्ट उनके निशाने पर थे।

जम्मू-कश्मीर के DGP दिलबाग सिंह ने घटना को आतंकी हमला करार दिया। उन्होंने कहा कि पुलिस और IAF के साथ अन्य एजेंसियां भी मामले की जांच कर रही हैं। ऐसा पहली बार है, जब किसी आतंकी हमले में ड्रोन का इस्तेमाल किया गया है।

कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया जा रहा है कि मौके से अब तक विस्फोटक के टुकड़े ही मिले हैं। ड्रोन के अवशेष नहीं मिले हैं। माना जा रहा है कि ड्रोन से विस्फोटक को गिराया गया होगा। उन्हें IED के तौर पर इस्तेमाल नहीं किया गया।

एयरफोर्स चीफ ने घायल जवानों से फोन पर बात की
भारतीय वायु सेना के चीफ एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया ने हमले में घायल एयरफोर्स के दोनों जवानों से फोन पर बात की है। भदौरिया इस समय बांग्लादेश में हैं। अधिकारियों के मुताबिक, दोनों जवान डॉक्टरों की निगरानी में हैं और ठीक हैं।

घटना के बाद जम्मू एयरपोर्ट पर स्पेशल फोर्स भेजी गई है।
घटना के बाद जम्मू एयरपोर्ट पर स्पेशल फोर्स भेजी गई है।

UAPA के तहत केस दर्ज, NIA अपने हाथ में ले सकती है जांच
जम्मू एयरपोर्ट पर विस्फोटकों से लदे ड्रोन से हमले के मामले में रविवार को अनलॉफुल एक्टिविटीज (प्रीवेंशन) एक्ट के तहत केस दर्ज किया गया है। जूनियर वारंट ऑफिसर की शिकायत पर सतवारी थाने में यह केस दर्ज हुआ है। एक अधिकारी के मुताबिक, राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) इस मामले की जांच अपने हाथ में ले सकती है। वे पहले से ही धमाके वाली जगह पर हो रही जांच की निगरानी कर रहे हैं।

घटना के बाद IG कश्मीर विजय कुमार ने BCAS, NSG, IAF, CRPF, BSF, CISF के अफसरों, डायरेक्टर एयरपोर्ट, DIG सेंट्रल कश्मीर रेंज और SSP बडगाम के साथ एयरपोर्ट की सुरक्षा की समीक्षा की है।

5-6 किग्रा IED बरामद
दिलबाग सिंह ने ANI को बताया कि जम्मू एयरफील्ड पर हुए दोनों धमाकों में पेलोड के साथ ड्रोन के इस्तेमाल से विस्फोटक सामग्री गिराने की आशंका है। जम्मू पुलिस ने 5-6 किलोग्राम IED भी बरामद किया है। यह IED लश्कर-ए-तैयबा के ऑपरेटिव द्वारा प्राप्त किया गया था और इसे किसी भीड़-भाड़ वाली जगह पर लगाया जाना था।

उन्होंने कहा कि इस रिकवरी से बड़ा आतंकी हमला टल गया है। पूछताछ के दौरान एक संदिग्ध को हिरासत में लिया गया है। इस नाकाम IED विस्फोट के मामले में और भी संदिग्धों के पकड़े जाने की संभावना है। पुलिस अन्य एजेंसियों के साथ मामले की जांच में जुटी है।

धमाका होने से आस-पास के इलाकों में अफरातफरी मच गई।
धमाका होने से आस-पास के इलाकों में अफरातफरी मच गई।

अपडेट्स

  • मामले में एक संदिग्ध को हिरासत में लिया गया है। उसे जम्मू के एयरफोर्स स्टेशन के पास से ही पकड़ा गया। उससे पूछताछ हो रही है।
  • इसी बीच जम्मू एयरफोर्स स्टेशन में जांच जारी है। एनआईए और एनएसजी की टीम यहां पहुंच चुकी हैं।

एयरफोर्स की हाईलेवल टीम जांच करेगी
धमाके की आवाज काफी दूर तक सुनाई दी। घटना शनिवार आधी रात की है। पहला धमाका रात 1.37 बजे और दूसरा धमाका ठीक 5 मिनट बाद 1.42 बजे हुआ। जहां यह घटना हुई है, उसी कैंपस में जम्मू का मुख्य एयरपोर्ट भी आता है। वायुसेना, नौसेना और जम्मू-कश्मीर पुलिस के अधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर हालात का जायजा लिया है। भारतीय वायुसेना की एक हाईलेवल टीम इस घटना की जांच करेगी।

रक्षा मंत्री ने हालात की जानकारी ली
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने जम्मू के वायु सेना स्टेशन पर हुई घटना के संबंध में वाइस एयर चीफ एयर मार्शल एचएस अरोड़ा से बात की। रक्षा मंत्री कार्यालय के मुताबिक, एयर मार्शल विक्रम सिंह स्थिति का जायजा लेने जम्मू पहुंच रहे हैं।

किसी भी उपकरण को कोई नुकसान नहीं
मामले पर भारतीय वायु सेना का कहना है कि रविवार को दो कम तीव्रता वाले विस्फोटों की सूचना मिली है। एक विस्फोट से इमारत की छत को मामूली नुकसान पहुंचा जबकि दूसरा खुले क्षेत्र में फटा। किसी भी उपकरण को कोई नुकसान नहीं हुआ। जांच चल रही है।

जम्मू से एक आतंकी गिरफ्तार
उधर, जम्मू-कश्मीर पुलिस के हाथ बड़ी कामयाबी लगी है। पुलिस ने नरवाल इलाके से एक आतंकी को गिरफ्तार किया है। उसके पास से 5 किलो IED बरामद हुआ है। जांच अभी जारी है।