पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • National
  • Jammu And Kashmir Plans Restricted Amarnath Yatra 500 Pilgrims To Be Allowed Per Day

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

15 दिन की अमरनाथ यात्रा पर विचार:बाबा बर्फानी के लाइव दर्शन शुरू, एलजी मुर्मू ने भी पूजा की; मंजूरी मिली तो बालटाल मार्ग से रोज 500 श्रद्धालु गुफा तक जा पाएंगे

जम्मू5 महीने पहलेलेखक: मोहित कंधारी
  • कॉपी लिंक
श्रीनगर के श्री अमरेश्वरी मंदिर से रविवार को छड़ी मुबारक बाबा अमरनाथ गुफा के लिए रवाना हुई। अमरनाथ पहुंचने से पहले अनंतनाग के पहलगाम में छड़ी पूजा होगी। फोटो- आबिद भट
  • कोरोना संक्रमण के कारण अमरनाथ यात्रा पर आने-जाने के लिए कई नियम बदले जाएंगे
  • अमरनाथ गुफा 3880 फीट की ऊंचाई पर, पहलगाम और बालटाल मार्ग से 42 दिन की यात्रा
  • इस बार यात्रा 23 जून से शुरू होनी थी, लेकिन कोरोना संक्रमण के मद्देनजर इसमें देरी हुई

पहली बार बाबा बर्फानी की विशेष पूजा का लाइव प्रसारण रविवार सुबह 7.30 बजे से शुरू हो गया। प्रसारण 3 अगस्त तक यानी रक्षाबंधन तक जारी रहेगा। इसके लिए दूरदर्शन की 15 लोगों की टीम गुफा परिसर में रहेगी। रविवार को विशेष पूजा में जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल गिरीश चंद्र मुर्मू, बीएस राजू, जीओसी चिनार कॉर्प्स समेत कई अफसर शामिल हुए। 

जम्मू-कश्मीर के एलजी गिरीश चंद्र मुर्मू ने सपरिवार बाबा अमरनाथ की पूजा की।
जम्मू-कश्मीर के एलजी गिरीश चंद्र मुर्मू ने सपरिवार बाबा अमरनाथ की पूजा की।

पिछले साल 2 अगस्त को मार्ग में विस्फोटक मिलने के बाद यात्रा रोक दी गई थी। 3.42 लाख लोगों ने दर्शन किए थे। श्री अमरनाथ श्राइन बोर्ड के चेयरमैन और जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल गिरीश चंद्र मुर्मू की अध्यक्षता में यात्रा के स्वरूप पर एक से दो दिन में फैसला हो सकता है। हालांकि, प्रशासन ने कहा है कि इस बार यात्रा पर कई तरह के प्रतिबंध लगाए गए हैं। अगर यात्रा की अनुमति मिलती है तो यह बालटाल के रास्ते ही होगी। 

श्रीनगर से छड़ी मुबारक रवाना।
श्रीनगर से छड़ी मुबारक रवाना।

पहलगाम के पारंपरिक रास्ते से नहीं होगी। बालटाल वाले रास्ते में 16 किमी की चढ़ाई है। इसी रास्ते से यात्री एक से दो दिन में दर्शन करके लौट सकते हैं। हर दिन अमरनाथ गुफा तक सिर्फ 500 श्रद्धालुओं को ही जाने की इजाजत मिलेगी। बालटाल मार्ग में चार हैलीपैड और बेस कैंप तैयार हो गए हैं। सूत्रों का कहना है कि इस बार हेलिकॉप्टर के जरिए भी यात्रा कराई जा सकती है।

श्रीनगर से सुरक्षा में छड़ी मुबारक को रवाना किया गया।
श्रीनगर से सुरक्षा में छड़ी मुबारक को रवाना किया गया।

जुलाई के अंत में 15 दिन के लिए यात्रा संभव
अमरनाथ गुफा 3880 फीट की ऊंचाई पर स्थित है। यहां हर साल दो मार्गों अनंतनाग के पहलगाम और गांदेरबल के बालटाल से यात्रा शुरू होती है, जो कि 42 दिन तक चलती है। इस बार यात्रा 23 जून से शुरू होनी थी, लेकिन कोरोना संक्रमण के मद्देनजर इसमें देरी हुई। हालांकि, सूत्रों का कहना है कि अमरनाथ श्राइन बोर्ड जुलाई के अंत में 15 दिन के लिए यात्रा कराने की योजना बना रहा है।

तस्वीर बाबा बर्फानी गुफा के प्रवेश द्वार की है। अमरनाथ यात्रा हर साल 42 दिन तक चलती है। इस बार यात्रा 23 जून से शुरू होनी थी, लेकिन कोरोना संक्रमण के कारण देरी हुई।
तस्वीर बाबा बर्फानी गुफा के प्रवेश द्वार की है। अमरनाथ यात्रा हर साल 42 दिन तक चलती है। इस बार यात्रा 23 जून से शुरू होनी थी, लेकिन कोरोना संक्रमण के कारण देरी हुई।

जम्मू-कश्मीर आने वालों का कोरोना टेस्ट होगा

चीफ सेक्रेटरी बीवीआर सुब्रमण्यम यात्रा के स्वरूप पर काम कर रहे हैं। उन्होंने वैकल्पिक सड़क मार्ग नीलग्रथ से बालटाल में चल रहे कार्यों का जायजा लिया है। फुट ब्रिज, बेली ब्रिज, मील के पत्थर के निर्माण, बाल्टल बेस कैंप से डोमेल तक 1.25 किमी सड़क पर चल रहे काम की समीक्षा की। उनका कहना है कि मौजूदा परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए यात्रा पर सख्त नियम लागू रहेंगे। कोरोना बढ़ने से राज्य में आने वाले हर व्यक्ति का टेस्ट कराना जरूरी है। जब तक टेस्ट निगेटिव ना आए जाए, लोगों को क्वारैंटाइन सेंटर में रहना होगा।

कश्मीर के 10 में से 9 जिले कोरोना के रेड जोन में

प्रशासन ने यात्रा के मार्ग पर तैनात स्वास्थ्यकर्मियों और डॉक्टरों को पर्याप्त मात्रा में पीपीई किट और अन्य सुरक्षा उपकरण मुहैया कराए हैं। चीफ सेक्रेटरी ने कहा कि कश्मीर के 10 में से 9 जिले कोरोना के रेड जोन में हैं। केंद्र शासित प्रदेश में 8019 कोरोना संक्रमित मिल चुके हैं। इनमें से 2825 एक्टिव केस हैं। 127 मौतें हुई हैं। मेडिकल स्टाफ बिजी है। यात्रा के लिए दूसरे राज्यों से भी डॉक्टर नहीं बुलाए जाते हैं।

अमरनाथ यात्रा पर ये भास्कर ब्रेकिंग भी पढ़ सकते हैं...

अमरनाथ पर बैठक हुई, पहले कहा- यात्रा कैंसिल; 25 मिनट बाद प्रेस रिलीज कैंसिल हुई, उसके 1 घंटे 13 मिनट बाद कहा- यात्रा संभव नहीं, लेकिन फैसला बाद में लेंगे

देश की सबसे कठिन तीर्थ यात्राओं के बारे में जानिए...

मानसरोवर में 90 और अमरनाथ में 45 किमी की चढ़ाई, 12 साल में एक बार होने वाली नंदा देवी यात्रा में 280 किमी का सफर 3 हफ्ते में

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- रचनात्मक तथा धार्मिक क्रियाकलापों के प्रति रुझान रहेगा। किसी मित्र की मुसीबत के समय में आप उसका सहयोग करेंगे, जिससे आपको आत्मिक खुशी प्राप्त होगी। चुनौतियों को स्वीकार करना आपके लिए उन्नति के...

और पढ़ें