• Hindi News
  • National
  • Jammu Kashmir Terrorist Attack News Update; Srinagar| Attack On Police Team In Jammu And Kashmir, A Terrorist Killed In Retaliation; Second Run

आतंकियों को मुंहतोड़ जवाब:जम्मू-कश्मीर में पुलिस टीम पर हमला, जवाबी कार्रवाई में लश्कर का एक आतंकी ढेर; दूसरा भागा

श्रीनगर2 महीने पहले

श्रीनगर के नाटीपोरा इलाके में आतंकियों ने शुक्रवार रात पुलिस टीम पर हमला कर दिया। जवाबी कार्रवाई में लश्कर का एक आतंकी मारा गया। उसका साथी भागने में कामयाब रहा। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि मारे गए आतंकी से हथियार और गोला बारूद बरामद किया गया है।

उसके पास एक ID कार्ड मिला है। इससे पता चला कि वह ट्रेंज शोपियां का रहने वाला था। उसका नाम आकिब बशीर कुमार था और वह प्रतिबंधित आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा से जुड़ा था।

दूसरे आतंकी की तलाश जारी
पुलिस के मुताबिक, पूरे इलाके को सील कर दिया गया है और मौके से भाग निकले दूसरे आतंकवादी को पकड़ने के लिए तलाशी अभियान शुरू कर दिया गया है। पुलिस टीम पर हमला ऐसे समय में हुआ है, जब सुरक्षा बल आम लोगों की हत्याओं के मद्देनजर हाई अलर्ट पर हैं।

एक साल से लापता था आकिब
आकिब के भाई इशफाक ने उसकी पहचान की की। उसने कहा कि 24 साल का आकिब लगभग एक साल से लापता था। पिछली बार वह 12 नवंबर 2020 को दिखा था। परिवार ने इमाम साहिब शोपियां में उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी।

आम लोगों को निशाना बना रहे आतंकी
कश्मीर में पिछले एक हफ्ते में आतंकी 5 आम लोगों की हत्या कर चुके हैं। इनमें श्रीनगर में एक कश्मीरी पंडित दवा कारोबारी, एक कश्मीरी पंडित टीचर, सिख समुदाय की महिला प्रिंसिपल, एक बिहार का स्ट्रीट वेंडर और एक बांदीपोरा का नागरिक शामिल है। इससे घाटी में सिखों और कश्मीरी पंडितों में डर का माहौल है।

अमित शाह ने मनोज सिन्हा को दिल्ली बुलाया
सरकार से जुड़े सूत्रों के मुताबिक, कश्मीर में आम लोगों को टारगेट बनाकर किए जा रहे हमलों के मद्देनजर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा को दिल्ली बुलाया है। दोनों शनिवार को इस मुद्दे पर चर्चा कर सकते हैं। गृह मंत्री के गुजरात से दिल्ली लौटने के तुरंत बाद उनकी बैठक होगी। मनोज सिन्हा शनिवार सुबह दिल्ली पहुंचेंगे।

स्कूल में हमले के बाद शाह ने की हाईलेवल मीटिंग
कश्मीर में आम लोगों को निशाना बनाए जाने और स्कूल में दो शिक्षकों की हत्या के बाद गृह मंत्री अमित शाह ने अपने ऑफिस में लगभग तीन घंटे बैठक की थी। इसमें राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल, गृह सचिव अजय भल्ला, खुफिया ब्यूरो के डायरेक्टर अरविंद कुमार, BSF के डायरेक्टर जनरल पंकज सिंह, CRPF के चीफ कुलदीप सिंह और गृह मंत्रालय के अधिकारी शामिल हुए। बैठक में जवाबी कार्रवाई के रोडमैप पर चर्चा की गई।