कश्मीर / 13 साल बाद घाटी में निकाय चुनाव; पहले चरण की वोटिंग खत्म, 63.83% मतदान हुआ

Dainik Bhaskar

Oct 08, 2018, 06:49 PM IST


पहले चरण में 46 मतदान केंद्रों को अति संवेदनशील घोषित किया गया। पहले चरण में 46 मतदान केंद्रों को अति संवेदनशील घोषित किया गया।
शहरी स्थानीय निकाय चुनाव 8-16 अक्टूबर तक चार चरणों में होने हैं। शहरी स्थानीय निकाय चुनाव 8-16 अक्टूबर तक चार चरणों में होने हैं।
राज्य के 1145 वॉर्ड में करीब 17 लाख मतदाता। राज्य के 1145 वॉर्ड में करीब 17 लाख मतदाता।
आतंकी धमकियों को देखते हुए भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया। आतंकी धमकियों को देखते हुए भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया।
35ए हटाने की कोशिशों की वजह से नेशनल कॉन्फ्रेंस और पीडीपी ने चुनावों का बहिष्कार किया। 35ए हटाने की कोशिशों की वजह से नेशनल कॉन्फ्रेंस और पीडीपी ने चुनावों का बहिष्कार किया।
जम्मू नगर निगम में 75 वार्ड हैं, यहां 447 उम्मीदवारों ने नामांकन भरा। जम्मू नगर निगम में 75 वार्ड हैं, यहां 447 उम्मीदवारों ने नामांकन भरा।
इन चुनावों के विरोध को देखते हुए अलर्ट जारी किया गया है। इन चुनावों के विरोध को देखते हुए अलर्ट जारी किया गया है।
जम्मू में 534 वार्डों के लिए 2136 उम्मीदवार मैदान में। जम्मू में 534 वार्डों के लिए 2136 उम्मीदवार मैदान में।
पहले चरण में 46 मतदान केंद्रों को अति संवेदनशील घोषित किया गया। पहले चरण में 46 मतदान केंद्रों को अति संवेदनशील घोषित किया गया।
केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने जम्मू में वोट डाला। केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने जम्मू में वोट डाला।
पूर्व उप-मुख्यमंत्री कवींद्र गुप्ता ने भी जम्मू में वोट डाला। पूर्व उप-मुख्यमंत्री कवींद्र गुप्ता ने भी जम्मू में वोट डाला।
X
पहले चरण में 46 मतदान केंद्रों को अति संवेदनशील घोषित किया गया।पहले चरण में 46 मतदान केंद्रों को अति संवेदनशील घोषित किया गया।
शहरी स्थानीय निकाय चुनाव 8-16 अक्टूबर तक चार चरणों में होने हैं।शहरी स्थानीय निकाय चुनाव 8-16 अक्टूबर तक चार चरणों में होने हैं।
राज्य के 1145 वॉर्ड में करीब 17 लाख मतदाता।राज्य के 1145 वॉर्ड में करीब 17 लाख मतदाता।
आतंकी धमकियों को देखते हुए भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया।आतंकी धमकियों को देखते हुए भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया।
35ए हटाने की कोशिशों की वजह से नेशनल कॉन्फ्रेंस और पीडीपी ने चुनावों का बहिष्कार किया।35ए हटाने की कोशिशों की वजह से नेशनल कॉन्फ्रेंस और पीडीपी ने चुनावों का बहिष्कार किया।
जम्मू नगर निगम में 75 वार्ड हैं, यहां 447 उम्मीदवारों ने नामांकन भरा।जम्मू नगर निगम में 75 वार्ड हैं, यहां 447 उम्मीदवारों ने नामांकन भरा।
इन चुनावों के विरोध को देखते हुए अलर्ट जारी किया गया है।इन चुनावों के विरोध को देखते हुए अलर्ट जारी किया गया है।
जम्मू में 534 वार्डों के लिए 2136 उम्मीदवार मैदान में।जम्मू में 534 वार्डों के लिए 2136 उम्मीदवार मैदान में।
पहले चरण में 46 मतदान केंद्रों को अति संवेदनशील घोषित किया गया।पहले चरण में 46 मतदान केंद्रों को अति संवेदनशील घोषित किया गया।
केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने जम्मू में वोट डाला।केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने जम्मू में वोट डाला।
पूर्व उप-मुख्यमंत्री कवींद्र गुप्ता ने भी जम्मू में वोट डाला।पूर्व उप-मुख्यमंत्री कवींद्र गुप्ता ने भी जम्मू में वोट डाला।

  • राज्य के 1145 वॉर्डों में 4 चरणों में चुनाव, 20 अक्टूबर को नतीजे 
  • नेशनल कॉन्फ्रेंस और पीडीपी ने चुनावों का किया बहिष्कार
  • घाटी के 10% वार्डों में भाजपा के निर्विरोध जीतने का दावा

श्रीनगर. जम्मू-कश्मीर में 13 साल बाद सोमवार को शहरी स्थानीय निकाय चुनावों के पहले चरण के लिए मतदान हुआ। चुनाव आयोग ने बताया कि 11 जिलों में हुए मतदान में शाम 4 बजे तक 63.83% मतदान हुआ है। सबसे ज्यादा मतदान करगिल में 78 फीसदी हुआ। इसके अलावा राजौरी में 76.9%, पुंछ में 70.9%, जम्मू में 60.6%, लेह में 52%, कुपवाड़ा में 36.6%, अनंतनाग में 7.3%, बड़गाम में 17% और बारामूला में 5.7%, बांदीपोरा में 3.3% वोट पड़े।

COMMENT