• Hindi News
  • National
  • Jammu Kashmir | JCO And One Soldier Martyred In Jammu Rajouri Poonch National Highway Near Bhimber Gali Area Of Mendhar

चार दिन में दूसरी मुठभेड़:जम्मू-कश्मीर के पुंछ में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच एनकाउंटर, JCO और एक जवान शहीद

जम्मू10 दिन पहले
भाटा धूरियां गांव के बाहर तैनात सुरक्षा बल।

जम्मू-कश्मीर में सोमवार के बाद गुरुवार को आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ हुई। इसमें एक जूनियर कमीशंड ऑफिसर (JCO) और एक जवान शहीद हो गया। यह एनकाउंटर जम्मू-राजौरी-पुंछ नेशनल हाईवे के करीब भिम्बर गली इलाके में हुआ जो मेंढर सब-डिवीजन में आता है। यहां भाटा धूरियां गांव है और इसी गांव में सर्च ऑपरेशन चला रहे सैन्य दस्ते पर आतंकियों ने फायरिंग की।

इसके पहले सोमवार को इसी इलाके में आतंकियों के हमले में पांच जवान शहीद हो गए थे।

करीबी इलाके में मुठभेड़
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, तीन दिन पहले जिस डेरा की गली क्षेत्र में एनकाउंटर हुआ था, गुरुवार को भी उसी इलाके से कुछ दूरी पर मुठभेड़ हुआ। खबर लिखे जाने तक फायरिंग जारी थी।

एक अधिकारी के मुताबिक, सुरक्षा बल यहां आतंकवाद विरोधी अभियान चला रहे हैं। इस इलाके में घने जंगल हैं और यहां राजौरी और पुंछ जिलों को जोड़ता है। सुरक्षा बलों ने गुरुवार को भाटा भूरियां इलाके को घेर लिया था।

आतंकियों ने शुरू की फायरिंग
एक अफसर के मुताबिक- सुरक्षा बलों ने इलाके को घेरने के बाद यहां सर्च ऑपरेशन शुरू किया। इसी दौरान छिपे हुए आतंकियों ने सुरक्षा बलों पर फायरिंग शुरू कर दी। इस दौरान एक JCO और एक जवान को गोली लगी। उन्हें करीबी अस्पताल पहुंचाया गया, लेकिन बचाया नहीं जा सका। इसके बाद सुरक्षा बलों का एक और दस्ता मौके पर भेजा गया। सुरक्षा घेरा सख्त किया गया और सर्च ऑपरेशन जारी रखा गया।

इस इलाके में लगातार चौथे दिन सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है। 12 अक्टूबर को इसी इलाके में हमारे पांच जवान शहीद हुए थे। अब तक ये साफ नहीं है कि यहां किस ग्रुप के आतंकी छिपे हुए हैं। सेना के सामने सवाल है कि क्या ये वही आतंकी हैं जिन्होंने सोमवार को पांच जवानों की जान ली थी या ये कोई दूसरा ग्रुप है। फिलहाल, पुंछ-राजौरी हाईवे पर ट्रैफिक बंद कर दिया गया है।

खबरें और भी हैं...