पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जींद और रामगढ़ विधानसभा सीट पर उपचुनाव के नतीजे आज, दोनों सीटों पर त्रिकोणीय मुकाबला

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • जींद में 75.72% और रामगढ़ में 79.14% मतदान हुआ
  • रामगढ़ में 20 उम्मीदवार मैदान में; मुख्य मुकाबला कांग्रेस, भाजपा और बसपा के बीच
  • जींद में 21 प्रत्याशी; मुख्य मुकाबला भाजपा, जजपा और कांग्रेस के बीच

जींद/अलवर. हरियाणा की जींद और राजस्थान की रामगढ़ विधानसभा सीट पर 28 जनवरी को हुए उपचुनाव के नतीजे गुरुवार को आए। रामगढ़ में कांग्रेस की सफिया जुबेर खां ने जीत दर्ज की। उन्होंने भाजपा के सुखवंत सिंह को 12,228 वोटों से हराया। इस जीत के साथ 200 सीटों वाली राजस्थान विधानसभा में कांग्रेस की 100 सीटें हो गई हैं। जींद में भाजपा के कृष्ण मिड्ढा 12,935 वोटों से जीत गए।

 

आठवें राउंड की गिनती के दौरान ईवीएम मशीन के नंबर मैच नहीं करने पर काउंटिंग सेंटर के अंदर उम्मीदवार विनोद आश्री के समर्थकों ने हंगामा किया। इसके बाद काउंटिंग सेंटर के बाहर भी कुछ लोगों ने हंगामा किया। पुलिस को हंगामा कर रहे कर रहे लोगों पर लाठीचार्ज करना पड़ा। हंगामे के कारण काउंटिंग करीब 55 मिनट रुकी रही।

 

जींद: किस राउंड में किसे कितने वोट मिले

राउंड रणदीप सुरजेवाला (कांग्रेस)  कृष्ण मिड्‌ढा (भाजपा) दिग्विजय चौटाला (जजपा)
1 2169 2835 3639
2 1754 3719 4253
3 1890 2796 3334
4 1801 6131 2217
5 1199  5571 1872
6  1225 5360 1057
7 1609 2399 3031
8 2086 3369 3467
9 2043 5381 2455
10 1815 5163 1521
11 2020 4192 4110
12 2081 1950 4337
13 1048 1700 2338
कुल 22740 50566 37631


रामगढ़: किस राउंड में किसे कितने वोट मिले

राउंड सफिया जुबेर खां (कांग्रेस)  सुखवंत सिंह (भाजपा) जगत सिंह (बसपा)
1 7020 2659 463
2 3225 4455 568
3 2907 5087 657
4 4515 3897 1131
5 6440 2518 820
6 9109 1046 903
7 4284 5237 988
8 4660 3925 412
9 2349 4780 839
10 2047 3632 2383
11 5600 2105 1473
12 5060 2081 1981
13 3067 2640 3353
14 3623 3192 1887
15 2109 3151

2912

16 3261 3552 2148
17 2991 4347 988
18 2125 6692 216
19 4014 3663 314
20 4898 2394 411
पोस्टल वोट 7 30 9
कुल 83311 71083 24856

 

जींद में इनेलो विधायक के बेटे को भाजपा ने उम्मीदवार बनाया था
2014 में हुए विधानसभा चुनाव में जींद से हरिचंद मिड्‌ढा इंडियन नेशनल लोकदल के टिकट पर जीते थे। उनके निधन के कारण यह सीट खाली हुई। उनके बेटे कृष्ण मिड्‌ढा यहां से भाजपा ने  प्रत्याशी बनाया था। नवगठित जननायक जनता पार्टी (जजपा) ने दिग्विजय चौटाला को उतारा। दिग्विजय ने पहली बार चुनाव लड़ा। कांग्रेस ने कैथल से विधायक रणदीप सिंह सुरजेवाला को जींद में प्रत्याशी बनाकर मुकाबला त्रिकोणीय कर दिया। वहीं, इनेलो ने उमेद रेडू को समर्थन दिया।

 

भाजपा जींद में 1.86% वोट के अंतर से हारी थी
जींद विधानसभा में इससे पहले 12 बार हुए चुनाव में 5 बार कांग्रेस, 4 बार लोकदल-इनेलो ने जीत दर्ज की। एक-एक बार हरियाणा विकास पार्टी, एनसीओ और निर्दलीय विधायक ने जीत हासिल की। कांग्रेस नेता मांगेराम गुप्ता यहां से 4 बार जीते। 2009 में इनेलो नेता हरिचंद मिड्‌ढा ने गुप्ता को हराया। 2014 में मिड्‌ढा ने इनेलो से भाजपा में आए सुरेंद्र बरवाला को 1.86% यानी 2257 वोट से हराया था।

 

जींद में शहरी से ज्यादा ग्रामीण क्षेत्र में वोट पड़े थे
जींद में 28 जनवरी को 75.72 प्रतिशत वोट पड़े थे। 1,72,774 मतदाताओं में से 1,30,824 ने मताधिकार का प्रयोग किया था। शहरी क्षेत्र में 72 प्रतिशत और ग्रामीण क्षेत्र में 87 प्रतिशत मतदान हुआ था। जींद के इतिहास में चौथी बार 75 फीसदी से ज्यादा मतदान हुआ है। यहां 1987 में 76.28 प्रतिशत मतदान हुआ था।   

 

जींद में 1972 में जीता था जाट उम्मीदवार
जींद में करीब 48 हजार जाट वोटर हैं। ब्राह्मण, पंजाबी और वैश्य वर्ग की बात करें तो हर समुदाय के लोगों की संख्‍या 14 से 15 हजार के बीच है। पिछली बार 1972 में कोई जाट उम्‍मीदवार विजयी हुआ था। उस समय कांग्रेस के चौधरी दल सिंह विधायक बने थे। इसके बाद जितने भी विधायक बने, उनमें से अधिकतर वैश्य और पंजाबी समुदाय के हैं। इस बार जाट समुदाय से तीन बड़े चेहरे मैदान में थे।

 

राजस्थान: 200 में से 199 सीटों पर हुआ था चुनाव
रामगढ़ में विधानसभा चुनाव से पहले बसपा प्रत्याशी लक्ष्मण चौधरी का निधन हो गया था। इसके बाद चुनाव आयोग ने यहां चुनाव स्थगित कर दिया था। तब प्रदेश की 200 में से 199 विधानसभा सीटों पर ही मतदान हुआ था।

खबरें और भी हैं...