पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • National
  • Kashmir News Update: Kishan Reddy, Says Reopen Jammu Kashmir Temples Closed Over The Years In Valley

गृहराज्य मंत्री बोले- दोबारा खुलेंगे सालों से बंद पड़े मंदिर, सिनेमाघर और शिक्षण संस्थाएं, इसके लिए सर्वे होगा

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • दोबारा खुलेंगे जम्मू-कश्मीर में बंद पड़े स्कूल, मंदिर और सिनेमाघर
  • रेड्डी बोले- निवेश के इच्छुक लोग सरकार से ले सकते हैं जमीन
  • एसीबी करेगी जम्मू-कश्मीर सरकार को केंद्र से मिले पैसों की जांच

नेशनल डेस्क. केंद्रीय गृहराज्य मंत्री जी. किशन रेड्डी का कहना है कि केंद्र सरकार जम्मू-कश्मीर में बंद हो चुके मंदिरों, सिनेमा थिएटरों और शिक्षण संस्थाओं को दोबारा खोलने की योजना बना रही है और इसके लिए जल्द ही वहां एक सर्वे कराया जाएगा। इसके साथ ही उन्होंने बताया कि जम्मू-कश्मीर में निवेश के इच्छुक लोगों को वहां जमीन खरीदने की जरूरत नहीं है, वे सरकार से जमीन लेकर निवेश कर सकते हैं। रेड्डी ने ये भी कहा कि एंटी करप्शन ब्यूरो जल्द ही उन पैसों के बारे में जांच शुरू करेगा, जो केंद्र सरकार द्वारा जम्मू और कश्मीर को विकास के लिए दिए गए थे, लेकिन वहां खर्च नहीं हुए। ये बात उन्होंने बेंगलुरु में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कही।
 
केंद्रीय गृहराज्य मंत्री ने कहा, \'हमने सालों से बंद पड़े स्कूलों को फिर से खोलने के लिए एक समिति का गठन किया है। बीते कुछ सालों के दौरान घाटी में लगभग 50 हजार मंदिरों को बंद कर दिया गया। इनमें से कई को क्षतिग्रस्त भी किया गया साथ ही उनकी मूर्तियों को भी नुकसान पहुंचाया गया। हमने ऐसे मंदिरों का सर्वेक्षण कराते हुए उन्हें दोबारा खोलने का आदेश दिया है। कश्मीर घाटी में एक भी सिनेमाघर नहीं हैं और जो हैं वो 20 साल से बंद पड़े हैं। हम उन्हें भी दोबारा खोलने के बारे में सोच रहे हैं। हम ऐसे स्कूलों, सिनेमाघरों, मंदिरों और अन्य बंद पड़ी जगहों का एक सर्वे कराएंगे, जो फिलहाल बंद हैं।\'
 

हर गांव से दी जा रही पांच लोगों को सरकारी नौकरी
 
आगे रेड्डी ने कहा, \'वहां प्रचुर मात्रा में सरकारी भूमि उपलब्ध है, इसलिए जो लोग वहां निवेश करना चाहते हैं उन्हें जमीन खरीदने की जरूरत नहीं है। हम उन्हें सरकारी जमी देंगे, ताकि वे लोग वहां अपने संस्थान खोल सकें। राज्य (जम्मू-कश्मीर) के हर गांव से हम 5 लोगों को सरकारी पदों पर नौकरी दे रहे हैं। थल सेना, नौसेना और वायुसेना भी वहां भर्ती प्रक्रिया करने की योजना बना रही हैं। जम्मू और कश्मीर में हम विश्वविद्यालय खोलने की योजना बना रहे हैं। हमने पर्यटन को बढ़ावा देने का फैसला भी किया है।\'
 

राज्य में जल्द काम शुरू करेगी एसीबीः रेड्डी
 
पैसों की जांच को लेकर रेड्डी ने कहा, \'जम्मू-कश्मीर में एसीबी नहीं थी और हमने वहां इसकी स्थापना की है। केंद्र सरकार ने वहां करोड़ों रुपए दिए लेकिन उन्हें खर्च नहीं किया गया। एसीबी जांच शुरू करेगी।\' पड़ोसी देश से बने खतरे को लेकर उन्होंने कहा, \'केंद्रीय गृहमंत्री और रक्षा मंत्री पहले ही पाकिस्तान और आतंकवादियों को चेतावनी दे चुके हैं और हम भी इसे लेकर पहले से ही सावधान हैं.... पीओके सहित पूरा देश हमारे एजेंडे पर है। जैसा कि हमारे नेता कह चुके हैं, मैं भी वही कह रहा हूं, जरूरत पड़ी तो हम पीओके के लिए अपनी जान भी दे देंगे।\'
 

बच्चों के हाथ में कम्प्यूटर और झंडा देंगे
 
कांग्रेस पार्टी पर निशाना साधते हुए रेड्डी ने कहा, \'राहुल गांधी और कांग्रेस के नेता और अन्य पार्टियां पाकिस्तान की भाषा बोल रही हैं। कुछ राजनीतिक दल पाकिस्तान के समर्थन में बात कर रहे हैं। हम जम्मू-कश्मीर के बच्चों के हाथ में कम्प्यूटर और भारतीय झंडा देंगे।\' आगे उन्होंने कहा, \'भारत ने चार बार के पाकिस्तान खिलाफ युद्ध लड़ा और जीत हासिल की। पाकिस्तान अब दुनिया में अलग-थलग पड़ चुका है। आतंकवाद के मुद्दे को लेकर प्रधानमंत्री मोदी ने पाकिस्तान को दुनिया के सामने सवालों में लाकर खड़ा कर दिया है। अनुच्छेद 370 हटाने के भारत के फैसले को अमेरिका और चीन समेत दुनियाभर के देशों से समर्थन मिला है।\'
 

झंडे का अपमान बर्दाश्त नहीं होगा
 
रेड्डी ने ये भी कहा कि जम्मू-कश्मीर में भारतीय झंडे को जलाने वाले लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा, \'जम्मू-कश्मीर में जो लोग भारतीय झंडा जलाते थे, उनके खिलाफ कोई केस दर्ज नहीं होता है। आने वाले दिनों में अगर कोई भारतीय झंडा जलाएगा तो उसके साथ कानून के मुताबिक वैसा ही व्यवहार किया जाएगा, जैसा अन्य राज्यों में किया जाता है।\' 

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- मेष राशि वालों से अनुरोध है कि आज बाहरी गतिविधियों को स्थगित करके घर पर ही अपनी वित्तीय योजनाओं संबंधी कार्यों पर ध्यान केंद्रित रखें। आपके कार्य संपन्न होंगे। घर में भी एक खुशनुमा माहौल बना ...

और पढ़ें