• Hindi News
  • National
  • Two Factions Clashed In The Name Of Savarkar And Tipu Sultan; Section 144 Imposed In The City

कर्नाटक के शिवमोगा में पोस्टर विवाद:सावरकर और टीपू सुल्तान के नाम पर दो गुट भिड़े, चाकूबाजी हुई; धारा 144 लगाई गई

बेंगलुरुएक महीने पहले
इलाके में तनाव को देखते हुए पूरे शहर में धारा 144 लगा दी गई है। भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती भी की गई है। - Dainik Bhaskar
इलाके में तनाव को देखते हुए पूरे शहर में धारा 144 लगा दी गई है। भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती भी की गई है।

कर्नाटक के शिवमोगा शहर में सोमवार को दो गुटों में झड़प हो गई। यहां के अमीर अहमद सर्कल में हिंदू संगठन के लोगों ने वीर सावरकर का पोस्टर लगाया था। इसके बाद टीपू सुल्तान सेना ने विरोध किया और अपना झंडा लेकर पहुंच गए। इन्होंने टीपू सुल्तान के पोस्टर लगाने की कोशिश की। विवाद रोकने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा। बाद में सावरकर की तस्वीर भी हटा दी गई।

इलाके में तनाव को देखते हुए पूरे शहर में धारा 144 लगा दी गई है। वहीं, भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गई है। शिवमोगा के DM ने मंगलवार को शहर और भद्रावती टाउन लिमिट में स्कूल और कॉलेज बंद रखने का आदेश दिया है। DM ने कहा कि इन दोनों जगहों पर 18 अगस्त तक धारा 144 लागू रहेगी।

शिवमोगा के अमीर अहमद सर्कल में टीपू सुल्तान का बैनर लगाने के लिए एक समूह ने सावरकर के बैनर हटाने की कोशिश की।
शिवमोगा के अमीर अहमद सर्कल में टीपू सुल्तान का बैनर लगाने के लिए एक समूह ने सावरकर के बैनर हटाने की कोशिश की।

एक व्यक्ति को चाकू मारा
जानकारी के मुताबिक यहां के गांधी बाजार इलाके में एक व्यक्ति को चाकू भी मारा गया है, लेकिन पुलिस का कहना है कि चाकूबाजी इसी मामले में हुई है या किसी और मुद्दे पर, इसकी जांच की जा रही है। घायल व्यक्ति को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उसकी हालत स्थिर है।

मामले को लेकर BJP और अन्य हिंदू संगठनों ने विरोध प्रदर्शन किया। इन्होंने मांग की कि उन्हें सावरकर के पोस्टर लगाने की अनुमति दी जाए और दूसरे समूह के खिलाफ सावरकर का अपमान करने को लेकर कार्रवाई की जाए। इसी तरह के एक और मामले में मेंगलुरु के सुरतकल चौराहे का नाम सावरकर के नाम पर रखने वाले एक पोस्टर को भी पुलिस ने हटा दिया है।

जून में BJP नेता की हुई थी हत्या
कर्नाटक के शिवमोगा में 23 जून को BJP नेता मोहम्मद अनवर की चाकू मारकर हत्या कर दी गई थी। हत्यारे बाइक से आए थे। मोहम्मद अनवर BJP महासचिव थे। भाजपा सांसद शोभा करंदलाजे ने इस हत्या के पीछे कट्टरपंथियों का हाथ बताया था।