पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

पुलवामा में मुठभेड़, सुरक्षाबलों ने लश्कर के 4 आतंकियों को मार गिराया

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • खुफिया इनपुट के बाद सुरक्षाबलों ने लस्सीपोरा इलाके में तलाशी अभियान चलाया
  • आतंकियों ने जवानों पर फायरिंग की, जवाबी कार्रवाई में मारे गए

श्रीनगर. पुंछ में सोमवार को पाकिस्तान के सीजफायर वॉयलेशन में बीएसएफ का एक इंस्पेक्टर शहीद हो गया। इस दौरान 6 साल की बच्ची की भी मौत हो गई। पाकिस्तान ने पुंछ के शाहपुर और केरनी इलाके में सुबह 7.45 बजे संघर्ष विराम का उल्लंघन भी किया। भारतीय सेना ने भी इसका माकूल जवाब दिया।

 

लश्कर के 4 आतंकी मारे गए

कश्मीर के पुलवामा जिले में सोमवार तड़के हुई मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने लश्कर-ए-तैयबा के चार आतंकियों को मार गिराया। इनमें लश्कर कमांडर जफर अहमद पॉल भी शामिल है। वह कई आतंकी वारदातों में शामिल था। खुफिया एजेंसी की ओर से लस्सीपोरा इलाके में आतंकियों के छिपे होने की सूचना मिली थी। रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता कर्नल राजेश कालिया ने बताया कि आतंकियों ने पहले जवानों पर गोलियां चलाईं, जवाबी कार्रवाई में मारे गए। आतंकियों के कब्जे से दो एके 47 राइफल, एक एसएलआर, एक पिस्टल और गोला-बारूद मिला है। 28 मार्च को 4 आतंकी और 29 मार्च को बड़गाम में दो आतंकी मारे गए थे।

 

चार साल से फरार जैश का आतंकी गिरफ्तार

उधर, दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने श्रीनगर से जैश-ए-मोहम्मद के वांछित आतंकी फैयाज अहमद लोन को गिरफ्तार किया। दिल्ली पुलिस ने लोन पर दो लाख रुपए का इनाम रखा था। आतंकी 2015 में वारंट जारी होने के बाद से फरार चल रहा था।

 

पुलवामा हमले के बाद आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई तेज
14 फरवरी को जैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों ने सीआरपीएफ के काफिले पर फिदायीन हमला किया था। इसमें 40 जवान शहीद हो गए थे। इसके बाद मोदी सरकार ने घाटी में आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई को लेकर सुरक्षाबलों को पूरी छूट दी थी। भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान के बालाकोट में एयर स्ट्राइक कर जैश के कई ठिकाने तबाह किए थे। इस दौरान 300 से ज्यादा आतंकियों के मारे जाने की बात कही गई थी।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय पूर्णतः आपके पक्ष में है। वर्तमान में की गई मेहनत का पूरा फल मिलेगा। साथ ही आप अपने अंदर अद्भुत आत्मविश्वास और आत्म बल महसूस करेंगे। शांति की चाह में किसी धार्मिक स्थल में भी समय व्यतीत ह...

और पढ़ें