• Hindi News
  • National
  • Babulal Gaur Death, Former Madhya Pradesh chief minister and BJP leader Babulal Gaur dies at 89 after cardiac arrest

स्मृति शेष / अटलजी के साथ साइकिल से तालाब में नहाने जाते थे गौर, उन्हें बड़ा भाई मानते थे



Babulal Gaur Death, Former Madhya Pradesh chief minister and BJP leader Babulal Gaur dies at 89 after cardiac arrest
Babulal Gaur Death, Former Madhya Pradesh chief minister and BJP leader Babulal Gaur dies at 89 after cardiac arrest
Babulal Gaur Death, Former Madhya Pradesh chief minister and BJP leader Babulal Gaur dies at 89 after cardiac arrest
Babulal Gaur Death, Former Madhya Pradesh chief minister and BJP leader Babulal Gaur dies at 89 after cardiac arrest
X
Babulal Gaur Death, Former Madhya Pradesh chief minister and BJP leader Babulal Gaur dies at 89 after cardiac arrest
Babulal Gaur Death, Former Madhya Pradesh chief minister and BJP leader Babulal Gaur dies at 89 after cardiac arrest
Babulal Gaur Death, Former Madhya Pradesh chief minister and BJP leader Babulal Gaur dies at 89 after cardiac arrest
Babulal Gaur Death, Former Madhya Pradesh chief minister and BJP leader Babulal Gaur dies at 89 after cardiac arrest

  • पूर्व प्रधानमंत्री वाजपेयी से बाबूलाल गौर की राजनीति के इतर अच्छी दोस्ती थी
  • अटलजी जब भी भोपाल दौरे पर आते तो गौर के घर पर ही रुकते थे

Dainik Bhaskar

Aug 21, 2019, 11:42 AM IST

भोपाल. मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री बाबूललाल गौर अब हमारे बीच नहीं रहे। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी से उनकी राजनीति के इतर भी अच्छी दोस्ती थी। गौर उनको भाई साहब कहकर बुलाते थे। अटलजी का भी उन पर काफी स्नेह था। पिछली साल अटलजी के निधन की खबर सुन गौर अपने आंसू नहीं रोक पाए थे। तब उन्होंने कहा था कि मैंने अपना बड़ा भाई खो दिया।

 

  • 1973-74 में अटलजी के देशभर में दौरे शुरू हो गए थे। अटलजी जब भोपाल आते तो गौर के बरखेड़ी स्थित घर पर ही रुकते थे। दोनों के बीच घंटों कामकाज की बात के अलावा हंसी-मजाक भी होता था। गौर कहते थे कि अटलजी ऐसे इंसान थे कि उनसे कैसा भी मजाक कर लो वो बुरा नहीं मानते थे।
  • अटलजी जब भी भोपाल आते थे, तो गौर की साइकिल पर पीछे बैठकर बड़े तालाब नहाने के लिए जाते थे। गौर ने एक इंटरव्यू में बताया था कि अटलजी उस समय बस और ट्रेन से अकेले ही दौरे करते थे। उनके बैग में दो-तीन जोड़ी कुर्ता और धोती रहती थीं। एक जोड़ी कपड़े वह तीन-चार दिन पहनते थे। मैं उन्हें नहलाने और कपड़े धुलवाने के लिए अपनी साइकिल से बड़े तालाब के घाट पर ले जाता था।
  • गौर का कहना था कि आधे रास्ते वो साइकिल चलाते और आधे रास्ते अटलजी साइकिल चलाते थे। घर से निकलने से पहले हम लोग कपड़े में गुड़ और चना बांध लेते थे। तालाब पर नहाने के बाद दोनों लोग गुड़ और चने खाते फिर वापस घर आ जाते थे।

 

DBApp

 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना