गुजरात ब्रिज हादसे के दर्दनाक VIDEO:कोई तैरकर बचा, तो कोई कंधे पर लाश लेकर भागा

गांधीनगर3 महीने पहले

गुजरात के मोरबी में रविवार को सस्पेंशन ब्रिज हादसे में कई परिवार बर्बाद हो गए। शाम करीब साढ़े छह बजे मच्छू नदी पर बना 143 साल पुराना ब्रिज अचानक टूट गया। करीब 500 लोग नदी में जा गिरे। बचाओ-बचाओ की पुकार और चारों तरफ अफरा-तफरी।

कुछ लोग तैरकर बाहर आ गए। कुछ ने दूसरों को निकाला भी। कई लोग टूटे ब्रिज पर जिंदगी और मौत के बीच झूल रहे थे। कुछ लाशें लेकर अस्पताल की ओर दौड़ रहे थे।

खबर पूरी पढ़ने से पहले आप इस पोल में अपनी राय दे सकते हैं...

अब देखिए हादसे के वे वीडियो, जो हादसे की पूरी कहानी बया कर रहे हैं...

ब्रिज पर लटके लोग मदद मांगते रहे, आधा शरीर पानी में

इस वीडियो में हादसे के तुरंत बाद टूटे ब्रिज पर लोग लटके हुए दिखाई दे रहे हैं। इनमें से कुछ के शरीर का हिस्सा पानी में हैं। ये सभी टूटे ब्रिज से मदद मांगते नजर आ रहे हैं। खबर है कि ब्रिज पर लटके लोगों को बाद में बचा लिया गया।

स्थानीय लोगों ने नदी से शव निकाले

हादसे के कारण नदी में डूबे लोगों को बचाने के लिए स्थानीय लोग नदी में उतर गए। उन्होंने डूबे लोगों को नदी से बाहर निकाला और मेडिकल टीमों ने उन्हें अस्पतालों तक पहुंचाया। एक ऐसा भी वीडियो सामने आया है, जिसमें कुछ लोग एक शव को बाहर निकाल रहे हैं।

अस्पताल में घायलों का इलाज और लाशें ही लाशें

यह अस्पताल के अंदर का वीडियो है, जहां अफरा-तफरी का माहौल था। यहां हादसे में मरने वालों के शव और घायलों को लाया गया। हॉस्पिटल में पीड़ित लोगों के साथ-साथ भीड़ भी बढ़ गई थी। इसमें ज्यादातर पीड़ितों के परिजन थे, जो बदहवास दिख रहे थे।

पुल पर लड़कों की शरारत का वायरल वीडियो, पर तारीख का जिक्र नहीं

हादसे से करीब एक घंटे पहले का वीडियो वायरल हुआ है। इसमें बड़ी संख्या में लोग ब्रिज पर घूमते नजर आ रहे हैं। उनमें से कुछ लड़के मस्ती में पुल के केबल को पैर मारकर हिलाते दिख रहे हैं। बताया जा रहा है कि ये लड़के ब्रिज के कमजोर होने का मजाक बना रहे हैं। इसके कुछ घंटों बाद ही ब्रिज टूट गया। हालांकि यह वीडियो कब का है इसे लेकर भास्कर ऐप कोई दावा नहीं कर रहा है।

बताया जा रहा है कि रविवार को छुट्टी का दिन होने से सस्पेंशन ब्रिज पर क्षमता से अधिक लोग जमा हो गए थे। दिवाली की छुट्‌टी और रविवार होने के कारण भी भीड़ अधिक थी। ब्रिज की क्षमता से अधिक लोगों को ब्रिज पर जाने से रोका क्यों नहीं गया। यह हादसे की जांच के बाद ही पता चल सकेगा। ब्रिज ओवरलोड होने को ही हादसे का कारण बताया जा रहा है। इसी दौरान ये लोग ब्रिज को हिलाने के लिए मस्ती करने लगे। पूरा वीडियो देखने के लिए ऊपर क्लिक करें।

मोरबी हादसे से जुड़ी ये खबरें भी पढ़ें...

गुजरात में ब्रिज टूटा, अब तक 190 लोगों की मौत:70 से ज्यादा घायल

गुजरात के मोरबी में रविवार शाम करीब 6.30 बजे केबल सस्पेंशन ब्रिज टूटने से करीब 400 लोग मच्छु नदी में गिर गए। हादसे में 190 लोगों की मौत हुई है। इनके शव मोरबी के सिविल हॉस्पिटल में पहुंचा दिए गए हैं। मरने वालों में 50 से ज्यादा बच्चे और महिलाएं हैं। 70 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं। 100 लोगों की तलाश अभी भी जारी है। LIVE खबर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...

43 साल बाद फिर सिहर उठा मोरबी: 1979 में मच्छू नदी का डैम टूटने से श्मशान में तब्दील हो गया था

पुल टूटने के भयानक हादसे ने मोरबी के लोगों की फिर से एक दर्दनाक घटना की याद दिला दी थी। यह हादसा मच्छू नदी के डैम टूटने से हुआ था। 11 अगस्त 1979 को यह पूरा शहर किस तरह श्मशान में तब्दील हो गया था। इस हादसे की पूरी कहानी पढ़ने के लिए क्लिक करें...